मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने पहुंचे कमलेश तिवारी के परिवारीजन, डीजीपी भी तलब

cm
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने पहुंचे कमलेश तिवारी के परिवारीजन, डीजीपी भी तलब

लखनऊ। हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या के बाद यूपी सरकार सवालों के घेरे में हैं। ऐसे में रविवार सुबह कमलेश तिवारी के परिजन सीएम योगी से मिलने के लिए उनके आवास पहुंचे हैं। कमलेश की मां, पत्नी और बेटा सीएम से मुलाकात के दौरान अपनी मांगों के रखेंगे। वहीं शनिवार को सीएम योगी ने हत्याकांड को लेकर कहा था कि,समाज में भय व दहशत का माहौल पैदा करने की कोशिश है।

Kamlesh Tiwaris Family Reached To Meet Chief Minister Yogi Adityanath :

ऐसे लोगों को हम कभी कामयाब नहीं होने देंगे। उनके मंसूबों को कुचल कर रख देंगे। वहीं, कमलेश तिवारी के अंतिम संस्कार से पहले परिजन सीएम योगी आदित्यनाथ को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़े हुए थे। इस पर कमिश्नर लखनऊ मुकेश कुमार मेश्राम और आइजी जोन एसके भगत महमूदाबाद पहुंचे और परिवार की शर्तों को स्वीकार किया, जिसके बाद वह अंतिम संस्कार करने के लिए राजी हुए।

वहीं, दोनों अधिकारियों ने परिवार की मुलाकात योगी आदित्यनाथ से कराने समेत नौ मांगों के सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए। दोपहर बाद ज्येष्ठ पुत्र सत्यम तिवारी ने मुखाग्नि दी थी। वहीं, इस हत्याकांड की जांच कर रही पुलिस को अहम सुराग हाथ लगा है। पुलिस का कहना है कि, राजधानी के कैसराबाग में स्थित खालसा होटल के एक कमरे में खून से सने भगवा कुर्ता, बैग समेत अन्य सामान बरामद हुआ है।

लखनऊ। हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या के बाद यूपी सरकार सवालों के घेरे में हैं। ऐसे में रविवार सुबह कमलेश तिवारी के परिजन सीएम योगी से मिलने के लिए उनके आवास पहुंचे हैं। कमलेश की मां, पत्नी और बेटा सीएम से मुलाकात के दौरान अपनी मांगों के रखेंगे। वहीं शनिवार को सीएम योगी ने हत्याकांड को लेकर कहा था कि,समाज में भय व दहशत का माहौल पैदा करने की कोशिश है। ऐसे लोगों को हम कभी कामयाब नहीं होने देंगे। उनके मंसूबों को कुचल कर रख देंगे। वहीं, कमलेश तिवारी के अंतिम संस्कार से पहले परिजन सीएम योगी आदित्यनाथ को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़े हुए थे। इस पर कमिश्नर लखनऊ मुकेश कुमार मेश्राम और आइजी जोन एसके भगत महमूदाबाद पहुंचे और परिवार की शर्तों को स्वीकार किया, जिसके बाद वह अंतिम संस्कार करने के लिए राजी हुए। वहीं, दोनों अधिकारियों ने परिवार की मुलाकात योगी आदित्यनाथ से कराने समेत नौ मांगों के सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए। दोपहर बाद ज्येष्ठ पुत्र सत्यम तिवारी ने मुखाग्नि दी थी। वहीं, इस हत्याकांड की जांच कर रही पुलिस को अहम सुराग हाथ लगा है। पुलिस का कहना है कि, राजधानी के कैसराबाग में स्थित खालसा होटल के एक कमरे में खून से सने भगवा कुर्ता, बैग समेत अन्य सामान बरामद हुआ है।