कमलेश तिवारी की पत्नी को मिली धमकी, बंद लिफाफे में भेजा था धमकी का पत्र

kiran tiwari
कमलेश तिवारी की पत्नी को मिली जान से मारने की धमकी, बंद लिफाफे में भेजा था धमकी का पत्र

लखनऊ। हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या के बाद उनकी पत्नी किरन तिवारी को जान से मारने की धमकी मिली है। उन्हें बंद लिफाफे में धमकी भरा पत्र भेजा गया है। पत्र मिलने के बाद उन्होंने नाका थाने में महाराष्ट्र के लातूर निवासी गनेश नागो राव आप्टे के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस मामला दर्ज करने के बाद जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

Kamlesh Tiwaris Wife Threatened To Kill Him Sent A Letter Of Threat In A Sealed Envelope :

इंस्पेक्टर सुजीत दुबे ने बताया कि किरन तिवारी के नाम से 14 नवंबर की दोपहर खुर्शेदबाग स्थित घर के पते पर एक बंद लिफाफा भेजा गया था। इसमें नौ पन्ने का एक पत्र था। दो पन्नो में उर्दू भाषा में लिखा गया था। किरन का कहना है कि उन्होंने उर्दू लिखी बातों का हिंदी में अनुवाद कराया तो धमकी की बात सामने आई। यह सामने आने के बाद उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी।

उन्होंने बताया कि पत्र महाराष्ट्र के लातूर के मुडखेड ताल्लुका स्थित शिवाजी चौक अंबेडकरनगर निवासी गनेश नागो राव आप्टे के नाम से भेजा गया था। इंस्पेक्टर ने बताया कि महाराष्ट्र पुलिस से संपर्क कर पत्र भेजने वाले के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

बता दें कि, कमलेश तिवारी की उनके कार्यालय में हत्या कर दी गयी थी। गुजरात से आए हत्यारों ने कार्यालय में घुसकर वारदात को अंजाम दिया था। वहीं, यूपी पुलिस और गुजरात एटीएस ने इस हत्याकांड में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

लखनऊ। हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या के बाद उनकी पत्नी किरन तिवारी को जान से मारने की धमकी मिली है। उन्हें बंद लिफाफे में धमकी भरा पत्र भेजा गया है। पत्र मिलने के बाद उन्होंने नाका थाने में महाराष्ट्र के लातूर निवासी गनेश नागो राव आप्टे के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस मामला दर्ज करने के बाद जांच पड़ताल शुरू कर दी है। इंस्पेक्टर सुजीत दुबे ने बताया कि किरन तिवारी के नाम से 14 नवंबर की दोपहर खुर्शेदबाग स्थित घर के पते पर एक बंद लिफाफा भेजा गया था। इसमें नौ पन्ने का एक पत्र था। दो पन्नो में उर्दू भाषा में लिखा गया था। किरन का कहना है कि उन्होंने उर्दू लिखी बातों का हिंदी में अनुवाद कराया तो धमकी की बात सामने आई। यह सामने आने के बाद उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी। उन्होंने बताया कि पत्र महाराष्ट्र के लातूर के मुडखेड ताल्लुका स्थित शिवाजी चौक अंबेडकरनगर निवासी गनेश नागो राव आप्टे के नाम से भेजा गया था। इंस्पेक्टर ने बताया कि महाराष्ट्र पुलिस से संपर्क कर पत्र भेजने वाले के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। बता दें कि, कमलेश तिवारी की उनके कार्यालय में हत्या कर दी गयी थी। गुजरात से आए हत्यारों ने कार्यालय में घुसकर वारदात को अंजाम दिया था। वहीं, यूपी पुलिस और गुजरात एटीएस ने इस हत्याकांड में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार किया था।