1. हिन्दी समाचार
  2. कंगना रनौत ने फिर शिवसेना पर किया हमला कहा- कंगना रनौत का फिर शिवसेना पर हमला

कंगना रनौत ने फिर शिवसेना पर किया हमला कहा- कंगना रनौत का फिर शिवसेना पर हमला

Kangana Ranaut Attacked Shiv Sena Again Said Kangana Ranaut Attacked Shiv Sena Again

By सोने लाल 
Updated Date

मुंबई। महाराष्ट्र में शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलकर बैठीं बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत मुंबई से वापस लौट गई हैं। सोमवार को कंगना ने ट्विटर के जरिए एक बार फिर शिवसेना पर हमला बोला। उन्होंने एक बार फिर मुंबई को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर बताने वाले अपने बयान को सही ठहराया। उन्होंने कहा कि मुंबई में जिस तरह उनके साथ बर्ताव किया गया, उसके बाद PoK वाली उनकी एनोलॉजी बिल्कुल सही थी।

पढ़ें :- बिहार चुनाव: जेडीयू में इस तरह से मिल रहा है टिकट, पहले चरण के प्रत्याशियों पर मंथन

कंगना रनौत मुंबई से मनाली के लिए लौट रही हैं। मनाली लौटने से पहले कंगना ने ट्वीट करके फिर महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधा। कंगना ने कहा कि महाराष्ट्र में लोकतंत्र का चीरहरण हुआ और महाराष्ट्र की तुलना पीओके से करना सही था। कल कंगना ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से की थी।

कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा कि भारी दिल के साथ मुंबई से जा रही हूं, जिस तरह से मैं इन दिनों लगातार आतंकित थी और मेरे काम की जगह के बाद मेरे घर को तोड़ने की कोशिश में लगातार हमले और गालियां पड़ीं। मेरे चारों ओर घातक हथियारों के साथ सतर्क सुरक्षा, कहना होगा कि यह पीओके के बराबर ही था। जब रक्षक ही भक्षक होने का ऐलान कर रहे हैं। धड़ियाल बन लोकतंत्र का चीरहरण कर रहे हैं। मुझे कमज़ोर समझ कर बहुत बड़ी भूल कर रहे हैं। एक महिला को डरा कर उसे नीचा दिखाकर, अपनी इमेज को धूल कर रहे हैं।’

उन्होंने दूसरे ट्वीट में लिखा कि जब रक्षक ही भक्षक होने का एलान कर रहे हैं धड़ियाल बन लोकतंत्र का चीरहरण कर रहे हैं, मुझे कमज़ोर समझ कर बहुत बड़ी भूल कर रहे हैं! एक महिला को डराकर उसे नीचा दिखाकर, अपनी इमेज को धूल कर रहे हैं!!’

राज्यपाल के साथ कंगना की मुलाकात के जवाब में शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि शिवसेना ने इस मुद्दे पर बात नहीं करने का फैसला किया । उन्‍होंने कहा, ‘हमने तय किया हैं कि हम इस मुद्दे पर कुछ नहीं कहेंगे। इतिहास को भुलाया नहीं जा सकता। हम कह रहे हैं कि महाराष्ट्र में कौन सी पार्टी कह रही है, क्योंकि उनके द्वारा सत्ता खो दी गई है। हम ऐसे मुद्दों को नहीं उठाएंगे। हम राष्ट्रीय महत्व के सवाल चीन और आर्थिक मंदी पर बात करेंगे।”

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...