1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. कंगना बोली-आजादी 2014 में मिली, तो Nawab Malik ने कहा कि लगता है हशीश की हेवी डोज लेकर बैठी थीं…

कंगना बोली-आजादी 2014 में मिली, तो Nawab Malik ने कहा कि लगता है हशीश की हेवी डोज लेकर बैठी थीं…

बॉलीवुड अभिनेत्री पद्श्री कंगना रनौत (Kangana Ranuat) के एक टीवी शो दिए बयान कि 'आजादी 2014 में मिली'है। इस बयान पर सियासी भूचाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। कंगना के विवादास्पद बयान की न केवल निंदा की जा रही है, बल्कि उनसे पद्मश्री वापस लेने की भी मांग की जा रही है। कगंना के असल आजादी वाले बयान पर अब एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) ने भी हमला बोला है। नवाब मलिक ने शुक्रवार को कंगना रनौत के बयान की निंदा करते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि बयान देने से पहले बॉलीवुड अभिनेत्री ने हेवी ड्रग्स( heavy dose durgs) ली थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री पद्श्री कंगना रनौत (Kangana Ranuat) के एक टीवी शो दिए बयान कि ‘आजादी 2014 में मिली’है। इस बयान पर सियासी भूचाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। कंगना के विवादास्पद बयान की न केवल निंदा की जा रही है, बल्कि उनसे पद्मश्री वापस लेने की भी मांग की जा रही है। कगंना के असल आजादी वाले बयान पर अब एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) ने भी हमला बोला है। नवाब मलिक (Nawab Malik) ने शुक्रवार को कंगना रनौत (Kangana Ranuat) के बयान की निंदा करते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि बयान देने से पहले बॉलीवुड अभिनेत्री ने हेवी ड्रग्स( heavy dose durgs) ली थी।

पढ़ें :- पंजाब में कंगना रनौत के काफिले को किसानों ने रोका, माफी मांगने के बाद हुईं रवाना

नवाब मलिक ने कहा कि हम कंगना रनौत (Kangana Ranuat) के इस बयान की कड़ी निंदा करते हैं कि भारत को 2014 में आजादी मिली। अभिनेत्री ने स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान किया। केंद्र को कंगना से पद्मश्री वापस लेना चाहिए और उन्हें गिरफ्तार करना चाहिए।

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक (Maharashtra minister Nawab Malik) ने आगे कहा कि ऐसा लगता है कि इस तरह का बयान देने से पहले कि भारत को 2014 में आजादी मिली थी। कंगना रनौत ने मलाणा क्रीम (हशीश की एक विशेष किस्म, जो विशेष रूप से हिमाचल प्रदेश में उगती है) की हेवी डोज ली थी। बता दें कि इससे पहले वरुण गांधी से लेकर कई नेता कंगना रनौत की आलोचना कर चुके हैं।

बता दें कि अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranuat)  ने यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया है कि भारत को ‘1947 में आजादी नहीं, बल्कि भीख मिली थी और जो आजादी मिली है वह 2014 में मिली। कंगना ने कहा कि जब नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi government) सत्ता में आई। पहले भी विवादास्पद बयान देती रहीं कंगना अपने इस बयान से एक बार फिर विवाद में पड़ गयी हैं। आम आदमी पार्टी ने मुंबई पुलिस में आवेदन दाखिल कर कंगना के खिलाफ ‘राजद्रोह पूर्ण और भड़काऊ’ बयान के लिए मामला दर्ज करने की मांग की है। वहीं, भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी (Bharatiya Janata Party MP Varun Gandhi) समेत कई नेताओं, सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं एवं अन्य लोगों ने बुधवार शाम को एक कार्यक्रम में दिये गये अभिनेत्री के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

कंगना रनौत (Kangana Ranuat)  विवादास्पद बयानों को लेकर अक्सर खबरों में रहती हैं-चाहे भाई-भतीजावाद पर फिल्मकार करण जौहर (karan johar) के साथ उनका झगड़ा हो, किसानों के प्रदर्शन पर अभिनेता-गायक दिलजीत दोसांझ (Actor-Singer Diljit Dosanjh) के साथ तनातनी रही हो, महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना सरकार की आलोचना करने वाले उनके ट्वीट रहे हों या मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से करने की बात हो। उन्होंने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Actor Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद मुंबई में असुरक्षित महसूस करने की बात कही थी जिसके बाद केंद्र सरकार ने उन्हें वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की। ट्विटर ने अभिनेत्री का खाता स्थायी रूप से निलंबित कर दिया है और कहा कि ‘ट्विटर के नियमों का बार-बार उल्लंघन करने पर’ ऐसा किया गया। पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हिंसा पर उनके बयानों के बाद ट्विटर ने यह कदम उठाया था। अब वह इंस्टाग्राम पर अपने वीडियो और संदेश डालती हैं।

पढ़ें :- Kangana Ranaut की पोस्ट पर सेंसर के लिए SC में याचिका, पंगा क्वीन बोली- हा हा हा इस देश में...

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...