1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. कोरोना कॉल में अधिवक्ताओं के परिवार के लिए सरकारों ने कोई समुचित व्यवस्था नहीं की : मुलायम सिंह यादव

कोरोना कॉल में अधिवक्ताओं के परिवार के लिए सरकारों ने कोई समुचित व्यवस्था नहीं की : मुलायम सिंह यादव

अधिवक्ता अगर बार से हट जाए तो बेंच को न्याय करने मे बड़ी मुश्किल होगी। बेंच कभी आम आदमी बनकर देखें , फिर समझ में आ जाएगा कि पीड़ित को न्याय कितनी मुश्किल से मिलता है। यह विचार बुधवार को मुलायम सिंह यादव एडवोकेट पूर्व महामंत्री जिला बार एसोसिएशन कानपुर देहात ने व्यक्त किए।

By संतोष सिंह 
Updated Date

कानपुर देहात। अधिवक्ता अगर बार से हट जाए तो बेंच को न्याय करने मे बड़ी मुश्किल होगी। बेंच कभी आम आदमी बनकर देखें , फिर समझ में आ जाएगा कि पीड़ित को न्याय कितनी मुश्किल से मिलता है। यह विचार बुधवार को मुलायम सिंह यादव एडवोकेट पूर्व महामंत्री जिला बार एसोसिएशन कानपुर देहात ने व्यक्त किए। मुलायम सिंह यादव जिला बार एसोसिएशन कानपुर देहात के अध्यक्ष रहे रविंद्र नाथ मिश्र एडवोकेट को किशोर न्याय बोर्ड कानपुर देहात का सदस्य नियुक्त होने पर जनपद न्यायालय परिसर कानपुर देहात में अधिवक्ताओं के लिए आयोजित स्वागत समारोह में संबोधित करते हुए कही।

पढ़ें :- यूपी : Dengue and Viral Fever से मौतों पर मायावती ने जताई चिंता, योगी सरकार को दिया ये सुझाव
Jai Ho India App Panchang

उन्होंने कहा कि बार और बेंच के बेहतर संबंधों से वादकारियों को सस्ता शीघ्र सुलभ न्याय मिल सकता है। परंतु बार की सुविधाओं का ध्यान सरकारों ने नहीं दिया है, जबकि आजादी से लेकर आज तक अधिवक्ताओं का योगदान समाज के विकास में सर्वाधिक रहा है। परंतु उसको वह सम्मान व सुरक्षा नहीं मिली जो उसको मिलना चाहिए थी। कोरोना कॉल के समय उत्तर प्रदेश में तीन हजार अधिवक्ताओं ने अपनी जान गवाई परंतु उनके परिवार के लिए कोई समुचित व्यवस्था नहीं की गई।

श्री यादव ने कहा कि दूसरों को न्याय दिलाने वालों का परिवार खुद न्याय पाने के लिए दर-दर भटक रहे हैं। जो बहुत ही अफसोस व चिंताजनक है। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि केंद्रीय व प्रदेशीय सरकारों को अधिवक्ताओं का नजर अंदाज़ करना ठीक नहीं है। सम्पत लाल यादव ने कहा कि अधिवक्ताओं से किशोर न्याय बोर्ड का सदस्य बनने से न्याय प्रक्रिया तेजी से बढ़ेगी।

इस अवसर पर रमेश चन्द्र गौर ने अधिवक्ताओं का आवाहन किया कि समाज में अधिवक्ता अपनी गरिमा के अनुरूप कार्य करते हुए आम जनमानस को न्याय दिलाने का कार्य करें। प्रेमचन्द्र त्रिपाठी ने अपने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि बार और बेंच सामंजस्य बनाकर कार्य करें। सुलभ सस्ता और जल्दी न्याय मिल सकेगा। स्वागत समारोह में राधेश्याम कटियार, राजेन्द्र द्विवेदी ,चन्द्रकिशोर श्रीवास्तव ,सिद्धार्थ शंकर सिंह,अशोक कुमार संखवार,सर्वेंद्र सिंह, जितेंद्र ,महेन्द्र यादव,जुनैद कुरैशी, विश्वनाथ सिंह ,प्रीती त्रिपाठी,सन्देश पाल सुलेखा यादव लोकेंद्र सिंह सेंगर,दुर्गेश चन्द्र,घनशयाम सिंह राठौर ,जयगोपाल ,वैभवकान्त,प्रसून सचान ,सुल्तान अली ,श्रीप्रकाश ,सोनू यादव सुभाषयादव,कप्तानसिंह,रमेशचन्द्र,संजय यादव,शफीक अली राजकुमार पाल ,शैलेन्द्र पाल,वीरेंद्र कटियार मनोज यादव ,जय सिंह सहित आदि लोग मौजूद रहे।

पढ़ें :- Nipah Virus : केरल में अब निपाह वायरस ने दी दस्तक, 12 साल के किशोर की मौत

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...