कानपुर एनकाउंटर: राहुल और प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर बोला हमला, कहा-अपराधियों पर हो सख्त कार्रवाई

priyanka gandhi
यूपी में बेरोजगारी और आर्थिक तंगी से आत्महत्या कर रहे लोग, सरकार बताए कितने MoU धरातल पर उतरे : प्रियंका

लखनऊ। कानपुर एनकाउंटर में आठ पुलिसकर्मियों के शहीद होने के बाद यूपी में सियासत शुरू हो गयी। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला बोला है।

Kanpur Encounter Rahul And Priyanka Gandhi Attacked Yogi Government Said Strict Action Should Be Taken Against Criminals :

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि यूपी में गुंडाराज का एक और प्रमाणा। जब पुलिस सुरक्षित न हीं तो जनता कैसे होगी? मेरी शोक संवेदनाएं मारे गए वीर शहीदों के परिवारजनों के साथ और मैं घायलों के जल्द स्वस्थ्य होने की कामना करता हूं।

वहीं प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि, बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस पर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी जिसमें यूपी पुलिस के सीओ, एसओ सहित 8 जवान शहीद हो गए। यूपी पुलिस के इन शहीदों के परिजनों के साथ मेरी शोक संवेदनाएं।

यूपी में कानून व्यवस्था बेहद बिगड़ चुकी है, अपराधी बेखौफ हैं। इसके साथ ही उन्होंने लिखा है कि, इस सरका में आमजन व पुलिस तक सुरक्षित नहीं है। कानून व्यवस्था का जिम्मा खुद सीएम के पास है। इतनी भयावह घटना के बाद उन्हें सख़्त कार्यवाही करनी चाहिए। कोई भी ढिलाई नहीं होनी चाहिए।

लखनऊ। कानपुर एनकाउंटर में आठ पुलिसकर्मियों के शहीद होने के बाद यूपी में सियासत शुरू हो गयी। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला बोला है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि यूपी में गुंडाराज का एक और प्रमाणा। जब पुलिस सुरक्षित न हीं तो जनता कैसे होगी? मेरी शोक संवेदनाएं मारे गए वीर शहीदों के परिवारजनों के साथ और मैं घायलों के जल्द स्वस्थ्य होने की कामना करता हूं। वहीं प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि, बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस पर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी जिसमें यूपी पुलिस के सीओ, एसओ सहित 8 जवान शहीद हो गए। यूपी पुलिस के इन शहीदों के परिजनों के साथ मेरी शोक संवेदनाएं। यूपी में कानून व्यवस्था बेहद बिगड़ चुकी है, अपराधी बेखौफ हैं। इसके साथ ही उन्होंने लिखा है कि, इस सरका में आमजन व पुलिस तक सुरक्षित नहीं है। कानून व्यवस्था का जिम्मा खुद सीएम के पास है। इतनी भयावह घटना के बाद उन्हें सख़्त कार्यवाही करनी चाहिए। कोई भी ढिलाई नहीं होनी चाहिए।