कानपुर एनकाउंटर: औरैया बाईपास पर मिली लावारिस कार, विकास दुबे के करीबी की बताई जा रही?

vikesh dube
कानपुर एनकाउंटर: औरेया बाईपास पर मिली लावारिस कार, इससे हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की आशंका

औरैया। कानपुर एनकाउंटर मामले में फरार हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की तलाश के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। वहीं, इस बीच औरैया-दिबियापुर बाईपास के पास एक लावारिस कार मिली है, जिसके बाद हड़कंप मच गया है। कार लखनऊ नंबर की है और अमित दुबे के नाम से रजिस्टर्ड है।

Kanpur Encounter Unclaimed Car Found On Auraiya Bypass Fearing Historyheater Vikas Dubey :

पुलिस को शक है कि हो सकता है कि कानपुर के विकरू कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे समेत अन्य ने भागने में इस कार का इस्तेमाल किया हो। फिलहाल जांच जारी है। बता दें कि, कानपुर एनकाउंटर में आठ पुलिसकर्मी शहीद हुए हैं। इस घटना का मुख्य आरोपी विकास दुबे व उसके 18 अन्य गुर्गे फरार हैं।

इस बीच पुलिस ने विकास दुबे के ऊपर इनाम राशि को 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख कर दिया है। साथ ही उसके 18 गुर्गों पर भी 25-25 हजार का इनाम घोषित किया गया है। वहीं, विकास दुबे और अन्य आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस कानपुर, कानपुर देहात और आसपास के जिलों की सीमाओं को सील कर लगातार दबिश दे रही है।

विकास दुबे और उसके गुर्गों की तलाश के लिए पुलिस लगातार पूछताछ भी कर रही है। पुलिस की 60 टीमें गिरफ्तारी के लिए लगाई गई हैं। इसके अलावा 500 लोगों के फोन सर्विलांस पर हैं।

औरैया। कानपुर एनकाउंटर मामले में फरार हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की तलाश के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। वहीं, इस बीच औरैया-दिबियापुर बाईपास के पास एक लावारिस कार मिली है, जिसके बाद हड़कंप मच गया है। कार लखनऊ नंबर की है और अमित दुबे के नाम से रजिस्टर्ड है। पुलिस को शक है कि हो सकता है कि कानपुर के विकरू कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे समेत अन्य ने भागने में इस कार का इस्तेमाल किया हो। फिलहाल जांच जारी है। बता दें कि, कानपुर एनकाउंटर में आठ पुलिसकर्मी शहीद हुए हैं। इस घटना का मुख्य आरोपी विकास दुबे व उसके 18 अन्य गुर्गे फरार हैं। इस बीच पुलिस ने विकास दुबे के ऊपर इनाम राशि को 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख कर दिया है। साथ ही उसके 18 गुर्गों पर भी 25-25 हजार का इनाम घोषित किया गया है। वहीं, विकास दुबे और अन्य आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस कानपुर, कानपुर देहात और आसपास के जिलों की सीमाओं को सील कर लगातार दबिश दे रही है। विकास दुबे और उसके गुर्गों की तलाश के लिए पुलिस लगातार पूछताछ भी कर रही है। पुलिस की 60 टीमें गिरफ्तारी के लिए लगाई गई हैं। इसके अलावा 500 लोगों के फोन सर्विलांस पर हैं।