शारीरिक संबंध बनाने के बाद प्रेमी को उतारा मौत के घाट, ऐसे हुआ खुलासा

kanpur murder, अवैध संबंध में हत्या, कानपुर
शारीरिक संबंध बनाने के बाद प्रेमी को उतारा मौत के घाट, ऐसे हुआ खुलासा

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में एक युवती ने कुछ ऐसा किया कि जिसने भी सुना उसके रोंगटे खड़े हो गए। एक युवती ने दिल्ली में रहने वाले अपने पूर्व प्रेमी को बुलाया अपने घर बुलाया। रात में प्रेमी ने उसी के घर जाकर पहले शराब पी और फिर खाना खाया। इसके बाद प्रेमी ने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। जब प्रेमी सो गया तो वहां पहले से मौजूद युवती के नये प्रेमी और उसके दोस्त ने युवक का गला दबा दिया, जब वो तड़पने लगा तो प्रेमिका ने पास में रखे धारदार हथियार से उसके ऊपर कई वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। हत्या के बाद उसका शव गाडी से ले जाकर नदी में फेंक दिया।

Kanpur Girlfriend Committed Murder In Illicit Relation :

शव मिलने की जानकारी पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव की शिनाख्त करने के बाद छानबीन में शुरू की। पुलिस की पड़ताल में जब कड़ी-कड़ी से जुड़नी शुरू हुई तो आरोपियों का सुराग लगा और पुलिस ने घटना का खुलासा कर प्रेमिका और उसके नए आशिक व एक अन्य युवक को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। शव की शिनाख्त कानपुर के बर्रा के घाटमपुर के जवाहर नगर उत्तरी निवासी महेंद्र सिंह ने अपने बेटे संदीप सिंह उर्फ बॉबी के रूप में की थी।

संदीप( 31) पत्नी रेनू और दो बच्चों खुशी (5) और हर्षित (2) के साथ पुरानी दिल्ली में रहकर रिलायंस कंपनी में इलेक्ट्रीशियन की नौकरी करता था। पुलिस के मुताबिक संदीप आशानगर में एक घर बनवा रहा था। जहां मजदूरों और मटेरियल का पैसा देने के लिए वो सोमवार दोपहर 12:45 बजे दिल्ली से कानपुर के लिए निकला। पिता महेंद्र को संदीप पूरे रास्ते अपनी लोकेशन बताता रहा। करीब 12 रात में उसने स्टेशन पर उतरने जानकारी देते हुए साधन के अभाव में पैदल ही घर आने की बात कही। सुबह तक वो घर नहीं पंहुचा तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। जब संदीप का कुछ पता नहीं चला तो परिजन थाने पहुंचे। तब उन्हें पाण्डु नदी में एक युवक का शव मिलने की जानकारी हुई।

पीड़ित ने फोटो के आधार पर पर मृतक की शिनाख्त अपने बेटे संदीप के रूप में की। उनके मुताबिक संदीप के पास 25 हजार की नकदी, चेन, अंगूठी, मोबाइल समेत अन्य सामान गायब था, जो गायब है। वो लूटपाट के विरोध में हत्या की आशंका जता रहे थे। एसपी साउथ कानपुर अशोक कुमार वर्मा के मुताबिक, पूछताछ के दौरान प्रेमिका नेहा ने बताया कि वो संदीप की हरकतों से परेशान थी। संदीप ने उसका अश्लील फोटो खींच लिया था, जिसे वायरल करने की धमकी देकर वो उसका शारीरिक शोषण करता था।

संदीप की इन्ही हरकतों से परेशान होकर उसने प्रेमी प्रवीण और उसके दोस्त देवेंद्र नागर के साथ मिलकर रास्ते से हटाने की योजना बनाई। जिसके चलते उसने संदीप को धोखे से कानपुर बुलाया। संदीप भी उसकी बातो में आकर पत्नी से झूठ बोलकर कानपुर आया और फिर प्रेमिका के घर पहुंच गया। नेहा ने बताया कि वो संदीप के साथ जिस कमरे में थी वहां पहले से ही टांड पर प्रवीण और देवेंद्र नागर छिपे हुए थे।

शराब और खाने के बाद संदीप ने नेहा के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाए। ये सारा नजारा प्रवीण और देवेंद्र देखते रहे। जैसे ही संदीप सोने लगा तो प्रवीण और देवेंद्र नीचे आए और उसका गाला दबा दिया। वो तड़पने लगा तो नेहा ने बगल में ही रखे हसिये से उसका गला रेट दिया। फिलहाल पुलिस ने तीनो को कोर्ट में पेश किया जहां से सभी जेल भेज दिया गया।

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में एक युवती ने कुछ ऐसा किया कि जिसने भी सुना उसके रोंगटे खड़े हो गए। एक युवती ने दिल्ली में रहने वाले अपने पूर्व प्रेमी को बुलाया अपने घर बुलाया। रात में प्रेमी ने उसी के घर जाकर पहले शराब पी और फिर खाना खाया। इसके बाद प्रेमी ने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। जब प्रेमी सो गया तो वहां पहले से मौजूद युवती के नये प्रेमी और उसके दोस्त ने युवक का गला दबा दिया, जब वो तड़पने लगा तो प्रेमिका ने पास में रखे धारदार हथियार से उसके ऊपर कई वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। हत्या के बाद उसका शव गाडी से ले जाकर नदी में फेंक दिया।शव मिलने की जानकारी पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव की शिनाख्त करने के बाद छानबीन में शुरू की। पुलिस की पड़ताल में जब कड़ी-कड़ी से जुड़नी शुरू हुई तो आरोपियों का सुराग लगा और पुलिस ने घटना का खुलासा कर प्रेमिका और उसके नए आशिक व एक अन्य युवक को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। शव की शिनाख्त कानपुर के बर्रा के घाटमपुर के जवाहर नगर उत्तरी निवासी महेंद्र सिंह ने अपने बेटे संदीप सिंह उर्फ बॉबी के रूप में की थी।संदीप( 31) पत्नी रेनू और दो बच्चों खुशी (5) और हर्षित (2) के साथ पुरानी दिल्ली में रहकर रिलायंस कंपनी में इलेक्ट्रीशियन की नौकरी करता था। पुलिस के मुताबिक संदीप आशानगर में एक घर बनवा रहा था। जहां मजदूरों और मटेरियल का पैसा देने के लिए वो सोमवार दोपहर 12:45 बजे दिल्ली से कानपुर के लिए निकला। पिता महेंद्र को संदीप पूरे रास्ते अपनी लोकेशन बताता रहा। करीब 12 रात में उसने स्टेशन पर उतरने जानकारी देते हुए साधन के अभाव में पैदल ही घर आने की बात कही। सुबह तक वो घर नहीं पंहुचा तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। जब संदीप का कुछ पता नहीं चला तो परिजन थाने पहुंचे। तब उन्हें पाण्डु नदी में एक युवक का शव मिलने की जानकारी हुई।पीड़ित ने फोटो के आधार पर पर मृतक की शिनाख्त अपने बेटे संदीप के रूप में की। उनके मुताबिक संदीप के पास 25 हजार की नकदी, चेन, अंगूठी, मोबाइल समेत अन्य सामान गायब था, जो गायब है। वो लूटपाट के विरोध में हत्या की आशंका जता रहे थे। एसपी साउथ कानपुर अशोक कुमार वर्मा के मुताबिक, पूछताछ के दौरान प्रेमिका नेहा ने बताया कि वो संदीप की हरकतों से परेशान थी। संदीप ने उसका अश्लील फोटो खींच लिया था, जिसे वायरल करने की धमकी देकर वो उसका शारीरिक शोषण करता था।संदीप की इन्ही हरकतों से परेशान होकर उसने प्रेमी प्रवीण और उसके दोस्त देवेंद्र नागर के साथ मिलकर रास्ते से हटाने की योजना बनाई। जिसके चलते उसने संदीप को धोखे से कानपुर बुलाया। संदीप भी उसकी बातो में आकर पत्नी से झूठ बोलकर कानपुर आया और फिर प्रेमिका के घर पहुंच गया। नेहा ने बताया कि वो संदीप के साथ जिस कमरे में थी वहां पहले से ही टांड पर प्रवीण और देवेंद्र नागर छिपे हुए थे।शराब और खाने के बाद संदीप ने नेहा के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाए। ये सारा नजारा प्रवीण और देवेंद्र देखते रहे। जैसे ही संदीप सोने लगा तो प्रवीण और देवेंद्र नीचे आए और उसका गाला दबा दिया। वो तड़पने लगा तो नेहा ने बगल में ही रखे हसिये से उसका गला रेट दिया। फिलहाल पुलिस ने तीनो को कोर्ट में पेश किया जहां से सभी जेल भेज दिया गया।