दोस्त के साथ रंगरलिया मना रही थी मां, बेटों ने उठाया खौफनाक कदम

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर में अपने दोस्त के साथ मां के प्रेम संबंधों से नाराज बेटों ने मां-प्रेमी दोनों की गला दबा कर हत्या कर दी और शवों को अलग-अलग फेंक दिया। पुलिस ने दोनो शवों को बरामद कर महिला के दोनों बेटों को गिरफ्तार कर लिया है।




जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर ने जानकारी देते हुए बताया है कि कल्याणपुर के रोशन नगर में इमरान और कामरान अपनी मां राबिया बेगम के साथ रहते थे। राबिया उपलों का कारोबार करती थी। रंजीत नामक युवक उपले अपने तांगे पर ले जाकर होटलों में बेचता था। रंजीत चूंकि रोज घर आता था इसलिये उसकी दोस्ती इमरान और कामरान से भी हो गई।

रंजीत अकसर रात में इन लोगों के घर में ही सो जाता था। एक दिन इमरान ने देर रात अपनी मां के कमरे में देखा तो पाया कि उसकी मां व रंजीत एक बिस्तर पर आपत्तिजनक अवस्था में लेटे हुए हैं। इस पर दोनों भाईयों ने मां और दोस्त की हत्या की योजना बनाई।



उन्होंने बताया कि 26 दिसंबर 2015 को इमरान और कामरान ने अपनी मां राबिया 48 की गला दबा कर हत्या कर दी और लाश बोरे में भर कर नून नदी में बहा दी। बाद में रंजीत ने जब राबिया के बारे में पूछा तो कहा कि वह रिश्तेदारी में गई है। फिर दोनों भाई 31 दिसंबर की रात रंजीत को मां को लेने चलने के बहाने बुलाकर ले गये और देर रात उसकी भी गला दबाकर हत्या कर दी और लाश शहर से बाहर बिठूर रोड पर फेंक दी।

फिलहाल पुलिस ने दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर लिया है।