1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. कानपुर: हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के दो साथियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया

कानपुर: हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के दो साथियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया

By शिव मौर्या 
Updated Date

कानपुर। कानपुर में हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं। इस घटना में आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए। वहीं, इस घटना के बाद पुलिस टीम लगातार अपराधियों का सर्च आपरेशन कर रही थी। इस दौरान पुलिस ने मुठभेड़ में विकास दुबे के दो रिश्तेदारों को ढेर कर दिया है। बताया जा रहा है विकास का मामा और चचेरे भाई मुठभेड़ में मारे गए हैं।

वहीं, इस घटना के बाद कानपुर मंडल के कानपुर, कानपुर देहात, कन्नौज, फर्रुखाबाद, इटावा, औरैया की सभी सीमाएं सील कर दी हैं। जीडी रोड पर स्थित गांव मे हुई इस घटना के बाद जीटी रोड पर जगह-जगह बैरियर लगाकर संघन चेकिंग की जा रही है। वहीं फॉरेंसिंक टीमें भी घटनास्थल पर जांच पड़ताल के लिए पहुंची है। अपराधी विकास के घर को चारों तरफ पुलिस तैनात कर दिया गया है। सूत्रों की माने तो शुक्रवार सुबह शिवली पुलिस ने विकास दुबे के बहनोई दिनेश तिवारी को हिरासत में ले लिया है।

उनके घर में लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दिनेश व उनके परिवार के लोगों की गतिविधियों को पुलिस ने चेक किया। घटनास्थन का दौरा करने के बाद एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने कहा कि बदमाश विकास दुबे के घर गुरुवार रात दबिश देने गई पुलिस पर बदमाश हावी हो चुके थे, पुलिस टीम बिना तैयारी गई थी।

उसे अंदाजा ही नहीं था कि विकास और उसके साथी असलहों के साथ अंदर हैं। यही चूक भारी पड़ गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर लखनऊ से सीधे घटनास्थल पुहंचे प्रशांत कुमार ने कहा कि इस मामले में पुलिस की तरफ से चूक हुई है। वह जल्द ही सीएम को अपनी रिपोर्ट देंगे। मामले की उच्च स्तरीय जांच होगी। अब एसटीएफ के साथ कई टीमें लगी हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...