जानिए कैसे, कपिल सिब्बल ने महज 1 लाख में खरीदी करोड़ों की जमीन

,Kapil Sibal ,SMRITI IRANI ,कपिल सिब्बल ,स्मृति ईरानी
,Kapil Sibal ,SMRITI IRANI ,कपिल सिब्बल ,स्मृति ईरानी

Kapil Sibal Acquired Land In Delhi Worth Crores By Paying Just 1 Lakh Rupees Full Detail

नई दिल्ली। देश में जमीन की कीमत से बढ़कर शायद कुछ भी नहीं है। यहां पर एक आम आदमी को अपने परिवार का सिर छुपाने के लिए हजार स्क्वॉयर फिट जमीन खरीदने में जान निकल जाती है। लेकिन देश के सियासदान ऐसे है जो चंद रुपयों में करोड़ों की जमीन के मालिक बन जाते है। आज सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने जब प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए कांग्रेसी नेता कपिल सिब्बल के जमीनी भूख का खुलासा किया तो ये मामला सामने आया।

स्मृति ईरानी ने एक भारतीय न्यूज वेबसाइट और साउथ अफ्रीकी वेबसाइट का हवाला देते हुए कपिल सिब्बल पर आरोप लगाया कि, उन्होनें किस तरह से महज 1 लाख रुपयों में करोड़ों की जमीन अपने नाम करा ली है। इस वेबसाइट में छपे रिपोर्ट के अनुसार, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और मशहूर वकील कपिल सिब्बल ने नई दिल्ली में 89 करोड़ रुपये की कीमत की जमीन खरीदी है।

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि, ​कपिल सिब्बल ने इस जमीन को खरीदने के लिए अपने पद का दुरुपयोग किया और पद के प्रभाव में जमीन की असल कीमत के बजाय महज 1 लाख रुपये में ही इसे खरीद लिया। इस जमीन में कपिल सिब्बल के अलावा उनकी पत्नी का भी शेयर है। दोनों इस जमीन में 50 – 50 प्रतिशत के हिस्सेदार हैं।

कपिल सिब्बल ने जो ये जमीन खरीदी है उस जमीन के दस्तावेजों में अधिग्रहण के पहले ग्रैंड कास्टेलो प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का नाम दर्ज था। इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि, इस जमीन की कीमत 89 करोड़ रुपये है। इसके अलावा इस मामले में दक्षिण अफ्रीका की एक वेबसाईट ने भी खुलासा किया है।

उस वेबसाइट के अनुसार इस जमीन की खरीद में पियुष गोयल नाम का एक बिजनेसमैन कपिल सिब्बल के संपर्क में आया था। इस वेबसाइट ने जनवरी महीने में एक रिपोर्ट लिखी थी। ये वेबसाइट इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिज्म के आधार पर लेख लिखती है। इसमें छपे एक लेख में बताया गया है कि, कपिल सिब्बल दक्षिण अफ्रीका में गुप्ता ब्रदर्स के संपर्क में थें।

इस दौरान उन्होनें वल्र्ड विंडो नाम की एक कंपनी से डील तय की थी। आपको बता दें कि, “Worlds Window Impex India Pvt. Ltd.” नाम की ये कंपनी नोएडा में है। इस कंपनी का चेयरमैन पियुष गोयल नाम का व्यक्ति है। बताया जा रहा है कि, पियुष गोयल के संपर्क में आने के बाद ही कपिल सिब्बल ने ये लैंड डील किया था।

गुप्ता ब्रदर्स और पियुष गोयल का संबंध :-

इस बेवसाइट में छपी रिपोर्ट के अनुसार वर्ल्ड विंडो कंपनी के चेयरमैन पियुष गोयल और गुप्ता ब्रदर्स के बीच सन 2010 से ही व्यापारिक संबंध शुरू हो गये थें। इसके अलावा इन दोनों के बीच व्यक्तिगत और पारीवारिक संबंध भी थें। दक्षिण अफ्रीकी वेबसाइट डेली मॉवरेक में छपे लेख के अनुसार, कपिल सिब्बल का परिवार उनकी पत्नी प्रतिला सिब्बल और बेटे अखिल सिब्बल जो कि, खुद पेशे से वकील है वो पियुष गोयल और गुप्ता ब्रदर्स के परिवार वालों के साथ एक चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली से मुंबई गये थें। ये लोग सन 2011 क्रिकेट विश्वकप का फाइनल मैच देखने के लिए गये थें।

इस लेख में ये भी बताया गया है कि, इस चार्टर्ड प्लेन को गुप्ता ब्रदर्स के स्टॉफ द्वारा बुक किया गया था। दक्षिण अफ्रीकी वेबसाइट में बताया गया है कि, इस साल के बाद गुप्ता ब्रदर्स ने अखिल सिब्बल, और उनकी पत्नी के लिए केपटाउन शहर के लग्जरी होटल क्वीन विक्टोरिया में एक कमरा भी बुक किया था। अखिल सिब्बल और उनकी पत्नी न्यू ईयर सेलिब्रेट करने के लिए केपटाउन गये थें।

जब गुप्ता ब्रदर्स से संबधों के बारे में इस दक्षिण अफ्रीकी वेबसाइट ने कपिल सिब्बल और उनके बेटे से पूछा जो उन दोनों ने गुप्ता ब्रदर्स से किसी भी तरह के संबधों से साफ तौर पर इंकार कर दिया। हालांकि सिब्बल ने पियुष गोयल से संपर्क के बारे में कहा कि, वो उन्हे जानते हैं और वो उनके दोस्त है। इस बारे में अखिल सिब्बल ने बताया कि, वो पियुष गोयल को जानते हैं वो उनके क्लाइंट रह चुके है।

वहीं केपटाउन यात्रा और मुंबई के फाइनल मैच के दौरान प्रयोग किये गये चार्टर्ड प्लेन के बारे में अखिल सिब्बल ने दक्षिण अफ्रीकी वेबसाइट को बताया कि, उन्हें ये हॉस्पिटैलिटी उनके क्लाइंट पियुष गोयल की तरफ से मुहैया करायी गयी थी। इसके अलावा इस लेख में ये भी बताया गया है कि, उस प्लेन और केपटाउन में जो भी बुकिंग हुयी थी उसका पेमेंट गुप्ता ब्रदर्स की कंपनियों द्वारा किया गया था।

पियुष गोयल और कपिल सिब्बल का संबंध :-

कपिल सिब्बल ने इस बात को स्वीकार किया था कि, पियुष गोयल से उनके दोस्ताना संबंध है। लेकिन इस दक्षिण अफ्रीकी ​मीडिया हाउस के अनुसार इन दोनों के बीच व्यापारिक संबंध भी उतने ही प्रगाण थें। इस रिपोर्ट में छपे दस्तावेजों के अनुसार 31 मार्च 2017 को कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी प्रमिला सिब्बल का 50 50 प्रतिशत का शेयर Grande Castello Private Limited नामक कंपनी में था।

ये कंपनी पियुष गोयल की कंपनी “Worlds Window Impex India Pvt. Ltd.” की 100 प्रतिशत सहयोगी कंपनी है। पियुष गोयल की कंपनी पर आरोप लगा था कि, वो दक्षिण अफ्रीका के गुप्ता ब्रदर्स के साथ मिलकर मनी लॉंड्रिंग केस में संलिप्त है। हालांकि, गुप्ता ब्रदर्स और पियुष गोयल की कंपनी वर्ल्ड विंडो के साथ कपिल सिब्बल का कोई डायरेक्ट लिंक नहीं है।

इस रिपोर्ट के अनुसार Grande Castello नाम की कंपनी ने सन 2013-14 में एक जमीन खरीदा था, उस वक्त जमीन की कीमत 45.21 करोड़ रुपये थी। इसे फंड करने के लिए, यह कंपनी ने ब्याज-मुक्त ऋण और ओवरड्राफ्ट बुक किया था। हालांकि, ये सार्वजनिक दस्तावेजों से स्पष्ट नहीं है कि किसने इस वित्त को प्रदान किया है, और कैसे बिना व्यापार वाली कंपनी ने करोड़ों रुपये वाले असुरक्षित ब्याज-मुक्त ऋण की पेशकश कर लिया।

आगे चलकर वित्तीय वर्ष 2014-15 में जब उक्त जमीन कंपनी के नाम पर पंजीकृत हो गयी तब, कंपनी ने ‘सरकारी रजिस्टर्ड वेलुअर’ से प्राप्त मूल्य निर्धारण रिपोर्ट के अनुसार ‘बाजार मूल्य’ के आधार पर उपरोक्त भूमि को दोबारा संशोधित करने का निर्णय लिया। इस प्रकार जमीन की कीमत बढ़कर 43.21 करोड़ रुपए से 89 करोड़ रुपए तक पहुंच गई है। ये इसके वास्तविक मूल्य से तकरीबन दोगुना था।

ये थोड़ा अजीब है लेकिन अगले साल में, अर्थात् 2015-16 में, कंपनी ने अपनी एकाउंटिंग पॉलिसी बदल दी और भूमि को डीवैलयूएट (अवमूल्यन ) किया, और जमीन को इसके पूर्व के कीमत पर लाया गया। आगे चलकर

कपिल बने करोड़ों की जमीन के मालिक :-

संयोग से, कंपनी द्वारा किये गये इस अवमूल्यन के बाद कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी ने अगले वर्ष में ही कंपनी को खरीद लिया। जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, सिब्बल और उनकी पत्नी कंपनी के 100% शेयरों को प्राप्त करके कंपनी के मालिक बन गए थें। कंपनी के पेड-अप कैपिटल के रूप में फेस वैल्यू महज 1 लाख रूपये तय की गयी। हालांकि ये स्पष्ट नहीं है कि, “Worlds Window Impex India Pvt. Ltd.” से शेयरों को किस मूल्य पर खरीदा गया था। सार्वजनिक रुप से इसके कोई भी दस्मावेज मौजूद नहीं है।

आज जब सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने प्रेस वार्ता कर के इन दोनों वेबसाइटों के हवाले से कपिल सिब्बल पर मनी लॉंड्रिंग का आरोप लगाया तो कपिल सिब्बल ने इसका बड़ा ही टका सा जवाब दिया। कपिल सिब्बल ने कहा कि, जिसे मनी लांड्रिंग के बारे में कुछ पता ही नहीं है वो मुझ पर मनी लांड्रिंग का आरोप लगा रहे है। कपिल सिब्बल ने कहा कि, हां मैने कंपनी खरीदी है, और मैने ये कपंनी अपने पैसे से खरीदी है। इसमें किसी को कोई दिक्कत है क्या ?

खैर, ये मामला कांग्रेस के लिए खतरे की घंटी की तरह है। फिलहाल इस मामले में अभी तक कांग्रेस की तरफ से कोई भी बयान जारी नहीं किया गया है। कपिल सिब्बल कांग्रेस के पुराने और वरिष्ठ नेता है। इससे पूर्व भी कांग्रेस के दामन पर राबर्ट वाड्रा को लेकर जमीन हड़पने के आरोप लग चुके है।

नई दिल्ली। देश में जमीन की कीमत से बढ़कर शायद कुछ भी नहीं है। यहां पर एक आम आदमी को अपने परिवार का सिर छुपाने के लिए हजार स्क्वॉयर फिट जमीन खरीदने में जान निकल जाती है। लेकिन देश के सियासदान ऐसे है जो चंद रुपयों में करोड़ों की जमीन के मालिक बन जाते है। आज सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने जब प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए कांग्रेसी नेता कपिल सिब्बल के जमीनी भूख का खुलासा किया तो ये…