कर्नाटक उपचुनाव: कांग्रेस-JDS गठबंधन ने दिखाया दम, 5 में से 4 सीटों पर किया कब्जा

कर्नाटक उपचुनाव: कांग्रेस-JDS गठबंधन ने दिखाया दम, 5 में से 4 सीटों पर किया कब्जा
कर्नाटक उपचुनाव: कांग्रेस-JDS गठबंधन ने दिखाया दम, 5 में से 4 सीटों पर किया कब्जा

कर्नाटक। इस चुनाव को कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन का लिटमस टेस्ट माना जा रहा था। कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने 5 में से 4 सीटें जीतकर माहौल बना लिया है। कर्नाटक की 5 सीटों पर हुए उपचुनाव में सत्तारुढ़ कांग्रेस-जेडी (एस) गठबंधन ने दम दिखाया है और बीजेपी के सामने कड़ी चुनौती पेश की है। वहीं, बीजेपी एकमात्र शिमोगा लोकसभा सीट पर जीत हासिल करने में कामयाब रही है। बेल्लारी को रेड्डी बंधुओं का गढ़ माना जा रहा था। लेकिन यहां पर 14 साल बाद कांग्रेस ने वापसी की है। बेल्लारी सीट पर कांग्रेस 2 लाख से ज्यादा वोटों से जीती है।

Karnataka Polls Results Congress Jds Win 4 Of 5 Seats :

बता दें कि कर्नाटक की तीन लोकसभा सीटों शिमोगा, बेल्लारी (अजजा) व मांड्या तथा दो विधानसभा सीटों रामनगरम व जामखंडी पर शनिवार को औसतन 67 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था। इनमें से बेल्लारी (अजजा) सीट पर 63.85 फीसदी, मांड्या में 53.93 फीसदी, शिमोगा में 61.05 फीसदी, रामनगरम में 81.58 फीसदी तथा जामखंडी सीट पर 73.71 फीसदी मतदान दर्ज किया गया था। शिमोगा लोकसभा सीट से कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के पुत्र बीवाई राघवेंद्र मैदान में थे, जबकि रामनगरम विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी की पत्नी अनिता कुमारस्वामी किस्मत आज़मा रही थीं।

तीन लोकसभा सीटों पर 17 तथा दो विधानसभा सीटों पर 14 प्रत्याशी मैदान में थे, लेकिन मुकाबला मुख्य रूप से राज्य में सत्तासीन कांग्रेस-JDS गठबंधन तथा भारतीय जनता पार्टी (BJP) के बीच थी। बता दें कि साल 2014 में बीजेपी ने कर्नाटक की 28 सीटों में से 17 सीटें जीतीं थीं। वहीं कांग्रेस के खाते में 9 सीटें गई थीं और कुमारस्वामी की जेडीएस को 2 सीटें मिली थीं। वहीं इसी साल हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 224 में से 104 सीटें जीतीं थी।

कर्नाटक। इस चुनाव को कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन का लिटमस टेस्ट माना जा रहा था। कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने 5 में से 4 सीटें जीतकर माहौल बना लिया है। कर्नाटक की 5 सीटों पर हुए उपचुनाव में सत्तारुढ़ कांग्रेस-जेडी (एस) गठबंधन ने दम दिखाया है और बीजेपी के सामने कड़ी चुनौती पेश की है। वहीं, बीजेपी एकमात्र शिमोगा लोकसभा सीट पर जीत हासिल करने में कामयाब रही है। बेल्लारी को रेड्डी बंधुओं का गढ़ माना जा रहा था। लेकिन यहां पर 14 साल बाद कांग्रेस ने वापसी की है। बेल्लारी सीट पर कांग्रेस 2 लाख से ज्यादा वोटों से जीती है।बता दें कि कर्नाटक की तीन लोकसभा सीटों शिमोगा, बेल्लारी (अजजा) व मांड्या तथा दो विधानसभा सीटों रामनगरम व जामखंडी पर शनिवार को औसतन 67 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था। इनमें से बेल्लारी (अजजा) सीट पर 63.85 फीसदी, मांड्या में 53.93 फीसदी, शिमोगा में 61.05 फीसदी, रामनगरम में 81.58 फीसदी तथा जामखंडी सीट पर 73.71 फीसदी मतदान दर्ज किया गया था। शिमोगा लोकसभा सीट से कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के पुत्र बीवाई राघवेंद्र मैदान में थे, जबकि रामनगरम विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी की पत्नी अनिता कुमारस्वामी किस्मत आज़मा रही थीं।तीन लोकसभा सीटों पर 17 तथा दो विधानसभा सीटों पर 14 प्रत्याशी मैदान में थे, लेकिन मुकाबला मुख्य रूप से राज्य में सत्तासीन कांग्रेस-JDS गठबंधन तथा भारतीय जनता पार्टी (BJP) के बीच थी। बता दें कि साल 2014 में बीजेपी ने कर्नाटक की 28 सीटों में से 17 सीटें जीतीं थीं। वहीं कांग्रेस के खाते में 9 सीटें गई थीं और कुमारस्वामी की जेडीएस को 2 सीटें मिली थीं। वहीं इसी साल हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 224 में से 104 सीटें जीतीं थी।