कर्नाटक के बागी विधायकों ने फिर लिखा मुंबई पुलिस को खत, कहा- कांग्रेस नेताओं से हमें खतरा है

mumbai hotel
कर्नाटक के बागी MLAs ने फिर लिखा मुंबई पुलिस को खत, कहा- कांग्रेस नेताओं से हमें खतरा है

मुंबई। कर्नाटक विधानसभा से पिछले सप्ताह इस्तीफा देने के बाद मुंबई के एक होटल में ठहरे 14 विधायकों ने एक बार फिर मुंबई पुलिस को खत लिखते हुए कांग्रेस के सीनियर नेताओं से सुरक्षा की मांग की है। जिन नेताओं से उन्होंने खतरा बताया है।

Karnataka Rebel Mlas Threat Congress Leader Latest :

उन्होंने लिखा कि वे महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, गुलाम नबी आजाद या कर्नाटक के किसी भी कांग्रेसी नेता से नहीं मिलना चाहते। हमें उनसे खतरा है। इससे पहले भी बागी विधायकों ने पुलिस को पत्र लिखकर सुरक्षा मांगी थी।

पत्र पर हस्ताक्षर करने वाले विधायकों में शिवराम हेब्बर, बीसी पाटिल, महेश के, विश्वनाथ, मुनिरत्नम, नारायण गौड़ा, आर शंकर, एच नागेश, प्रताप पाटिल, गोपालैया, रमेश जे, एमटीबी नागराज, सोमशेखर और बासवराज शामिल हैं।

11 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद बागी विधायक बेंगलुरु में कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर केआर रमेश कुमार से मिलने के बाद मुंबई लौट आए थे। सुप्रीम कोर्ट ने 12 जुलाई को 10 बागी विधायकों की याचिका पर सुनवाई करते हुए 16 जुलाई तक यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया था।

‘किसी भी कीमत पर इस्तीफा वापस नहीं लेंगे’

वहीं, बागी विधायक एसटी सोमशेखर ने रविवार को कहा था कि हम किसी भी कीमत पर अपना इस्तीफा वापस नहीं लेंगे। के सुधाकर राव (कांग्रेस के बागी नेता) हमारा समर्थन कर रहे हैं। भाजपा नेता आर अशोक से हमारा कोई लेना-देना नहीं है। हमें नहीं पता कि वे यहां क्यों आए।

मुंबई। कर्नाटक विधानसभा से पिछले सप्ताह इस्तीफा देने के बाद मुंबई के एक होटल में ठहरे 14 विधायकों ने एक बार फिर मुंबई पुलिस को खत लिखते हुए कांग्रेस के सीनियर नेताओं से सुरक्षा की मांग की है। जिन नेताओं से उन्होंने खतरा बताया है। उन्होंने लिखा कि वे महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, गुलाम नबी आजाद या कर्नाटक के किसी भी कांग्रेसी नेता से नहीं मिलना चाहते। हमें उनसे खतरा है। इससे पहले भी बागी विधायकों ने पुलिस को पत्र लिखकर सुरक्षा मांगी थी। पत्र पर हस्ताक्षर करने वाले विधायकों में शिवराम हेब्बर, बीसी पाटिल, महेश के, विश्वनाथ, मुनिरत्नम, नारायण गौड़ा, आर शंकर, एच नागेश, प्रताप पाटिल, गोपालैया, रमेश जे, एमटीबी नागराज, सोमशेखर और बासवराज शामिल हैं। 11 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद बागी विधायक बेंगलुरु में कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर केआर रमेश कुमार से मिलने के बाद मुंबई लौट आए थे। सुप्रीम कोर्ट ने 12 जुलाई को 10 बागी विधायकों की याचिका पर सुनवाई करते हुए 16 जुलाई तक यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया था। ‘किसी भी कीमत पर इस्तीफा वापस नहीं लेंगे’ वहीं, बागी विधायक एसटी सोमशेखर ने रविवार को कहा था कि हम किसी भी कीमत पर अपना इस्तीफा वापस नहीं लेंगे। के सुधाकर राव (कांग्रेस के बागी नेता) हमारा समर्थन कर रहे हैं। भाजपा नेता आर अशोक से हमारा कोई लेना-देना नहीं है। हमें नहीं पता कि वे यहां क्यों आए।