कर्नाटक:येदियुरप्पा सरकार की कैबिनेट का विस्तार, 10 विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथ

BS yeddyurappa
कर्नाटक:येदियुरप्पा सरकार की कैबिनेट का विस्तार, 10 विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथ

नई दिल्ली। कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार की कैबिनेट का विस्तार है। कर्नाटक में कांग्रेस और जनता दल (एस) छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले और पार्टी के टिकट पर विधानसभा उपचुनाव जीतने वाले दस विधायक आज यानी गुरुवार को कैबिनेट विस्तार में मंत्री पद की शपथ ले रहे हैं। कर्नाटक के विधायक रमेश जारकीहोली, आनंद सिंह, के सुधाकर और बीए बसवराज ने राजभवन में मंत्री पद की शपथ ली।

Karnataka Yeddyurappa Governments Cabinet Expanded 10 Mlas Sworn In As Minister :

बता दें कि मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने बेंगलुरु में बुधवार को कहा था कि पार्टी अध्यक्ष और दिल्ली में अन्य नेताओं के साथ विचार-विमर्श के बाद दस विधायकों को गुरुवार को मंत्री बनाने का निर्णय किया गया है। उन्होंने कहा कि गुरुवार को जो शपथ लेंगे वे कांग्रेस और जद (एस) छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले विधायक हैं और दिसम्बर में हुए विधानसभा उपचुनावों में उन्होंने जीत हासिल की थी।

मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा था कि कांग्रेस- जद (एस) छोड़कर आने वाले 11 नेताओं में से केवल अथनी के विधायक महेश कुमाथल्ली को कैबिनेट में शामिल नहीं किया जाएगा। येदियुरप्पा ने रविवार को कहा था कि छह फरवरी को ‘दस और तीन विधायक मंत्री पद की शपथ लेंगे।

ये सभी दस विधायक कांग्रेस और जद (एस) छोड़कर बीजेपी में आए थे और बीजेपी के टिकट पर उपचुनाव जीता था। इन दसों ने कांग्रेस-जनता दल (सेकुलर) की सरकार गिराने में भाजपा की मदद की थी और मदद करने वाले और भाजपा के टिकट पर निर्वाचित होकर दोबारा विधानसभा पहुंचे हैं।

ये विधायक हुए कैबिनेट में शामिल
एसटी सोमशेखर, रमेश जारकीहोली, आनंद सिंह, बैराठी बसवराज, शिवराम हेब्बार, बीसी पाटिल, के गोपालैया, नारायण गौड़ा, श्रीमंत पाटिल।

नई दिल्ली। कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार की कैबिनेट का विस्तार है। कर्नाटक में कांग्रेस और जनता दल (एस) छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले और पार्टी के टिकट पर विधानसभा उपचुनाव जीतने वाले दस विधायक आज यानी गुरुवार को कैबिनेट विस्तार में मंत्री पद की शपथ ले रहे हैं। कर्नाटक के विधायक रमेश जारकीहोली, आनंद सिंह, के सुधाकर और बीए बसवराज ने राजभवन में मंत्री पद की शपथ ली। बता दें कि मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने बेंगलुरु में बुधवार को कहा था कि पार्टी अध्यक्ष और दिल्ली में अन्य नेताओं के साथ विचार-विमर्श के बाद दस विधायकों को गुरुवार को मंत्री बनाने का निर्णय किया गया है। उन्होंने कहा कि गुरुवार को जो शपथ लेंगे वे कांग्रेस और जद (एस) छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले विधायक हैं और दिसम्बर में हुए विधानसभा उपचुनावों में उन्होंने जीत हासिल की थी। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा था कि कांग्रेस- जद (एस) छोड़कर आने वाले 11 नेताओं में से केवल अथनी के विधायक महेश कुमाथल्ली को कैबिनेट में शामिल नहीं किया जाएगा। येदियुरप्पा ने रविवार को कहा था कि छह फरवरी को 'दस और तीन विधायक मंत्री पद की शपथ लेंगे। ये सभी दस विधायक कांग्रेस और जद (एस) छोड़कर बीजेपी में आए थे और बीजेपी के टिकट पर उपचुनाव जीता था। इन दसों ने कांग्रेस-जनता दल (सेकुलर) की सरकार गिराने में भाजपा की मदद की थी और मदद करने वाले और भाजपा के टिकट पर निर्वाचित होकर दोबारा विधानसभा पहुंचे हैं। ये विधायक हुए कैबिनेट में शामिल एसटी सोमशेखर, रमेश जारकीहोली, आनंद सिंह, बैराठी बसवराज, शिवराम हेब्बार, बीसी पाटिल, के गोपालैया, नारायण गौड़ा, श्रीमंत पाटिल।