मप्र: कर्ज से परेशान युवक पत्नी और मासूम बेटी को लेकर कुएं में कूदा, मौत

mp-suicide
मप्र: कर्ज से परेशान युवक पत्नी और मासूम बेटी को लेकर कुएं में कूदा, मौत

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में सेंट्रल बैंक के कैश वाहन चालक ने कर्ज से परेशान होकर अपनी पत्नी और मासूम बेटी के साथ कुएं में कूदकर जान दे दी। सांईखंडारा और जावरा गांव के बीच स्थित एक खेत में बने कुएं में मंगलवार को तीनों के शव बरामद हुए। मृतकों की पहचान सेंट्रल बैंक की बैतूल शाखा के कैश वाहन चालक विनोद बारस्कर उनकी पत्नी सुशीला बारस्कर और चार वर्षीय मासूम पूर्वी बारस्कर के तौर पर हुई।

बताया गया है कि बारस्कार कॉलीनी में रहने वाले विनोद मंगलवार की सुबह बच्ची का उपचार करने के लिए निकले थे फिर लौटे नहीं। तीनों सदस्यों के शव जिला मुख्यालय से 30 किलो मीटर दूर सांई खंडारा और जावरा गांव के बीच एक किसान किसान किशन साकरे के खेत में बने कुएं में बरामद हुए।

{ यह भी पढ़ें:- रांची में बुराड़ी कांड जैसी सनसनीखेज वारदात, एक ही परिवार के सात लोगों ने की आत्महत्या }

पुलिस का कहना है कि मंगलवार की दोपहर कुएं में शव होने की सूचना मिली। इन शवों को निकालकर पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेजा गया। मृतक का परिवार किराए के मकान में रहता था। उनके घर मंगलवार को दूध वाला आया लेकिन कोई नहीं दिखा तो वह मकान मालिक के साथ अंदर गया। उन्हें घटनास्थल से एक सुसाइड नोट मिला। जिसमें लिखा था, दो लाख से ज्यादा का कर्ज है और कर्ज वाले परेशान कर रहे है इसलिए परिवार सहित आत्महत्या कर रहा हूं।

मकान मालिक ने वो पत्र कोतवाली पुलिस को सौंपा और साथ ही विनोद के परिजनों को भी इसकी सूचना दी।

{ यह भी पढ़ें:- दिल्ली : बुराड़ी इलाके में एक ही घर में पड़े मिले 11 शव }

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में सेंट्रल बैंक के कैश वाहन चालक ने कर्ज से परेशान होकर अपनी पत्नी और मासूम बेटी के साथ कुएं में कूदकर जान दे दी। सांईखंडारा और जावरा गांव के बीच स्थित एक खेत में बने कुएं में मंगलवार को तीनों के शव बरामद हुए। मृतकों की पहचान सेंट्रल बैंक की बैतूल शाखा के कैश वाहन चालक विनोद बारस्कर उनकी पत्नी सुशीला बारस्कर और चार वर्षीय मासूम पूर्वी बारस्कर के तौर पर हुई।…
Loading...