कश्मीर: टीचर कपल शादी के दिन बर्खास्त, कहा- रोमांस से बच्चों पर पड़ेगा असर

पहलगाम जम्मू कश्मीर के एक स्कूल में पढ़ाने वाले दो टीचरों को स्कूल से मजह इस बात पर निकाल दिया गया क्योकि वे एक दूसरे को पसंद करते थे और उन्होंने शादी कर ली। दरअसल यहां पहलगाम जिले के एक निजी स्कूल में काम करने वाले एक कपल को स्कूल प्रबंधन ने उनकी शादी के दिन बर्खास्त कर दिया है। स्कूल प्रबंधन का दावा है कि उनका रोमांस छात्रों पर विपरीत असर डाल सकता है।

Kashmir Teacher Couple Sacked By School On Their Wedding Day :

पहलगाम के त्राल शहर के रहने वाले तारीक भट और सुमाया बशीर पम्पोर मुस्लिम एजुकेशनल इंस्टीट्यूट की बाल एवं बालिका इकाई में कई सालों से काम कर रहे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि 30 नवम्बर को स्कूल प्रबंधन ने उनकी सेवा को मनमाने तरीके से समाप्त कर दिया। इसी दिन उनकी शादी थी।

तारिक भट्ट और सौम्या बशीर पिछले कई सालों से इस स्कूल में पढ़ा रहे थे और 30 नवंबर को दोनों ने शादी कर ली। उनकी शादी के ही दिन स्कूल ने दोनों को यह कहते हुए नौकरी से निकाल दिया कि उनके रोमांस का स्कूल में बच्चों पर गलत असर पड़ेगा।

इसे लेकर स्कूल के चेयरमैन बशीर मसूदी ने सफाई देते हुए कहा कि वो दोनों रोमांटिक कपल थे और उनकी मौजूदगी का स्कूल के 4 हजार छात्रों और कर्मचारियों पर गलत असर पड़ता। वहीं शिक्षक दंपती का दावा है कि दोनों ने लव नहीं बल्कि अरेंज मैरिज की है। उनकी सगाई की बात पूरा स्कूल जानता है।

पहलगाम जम्मू कश्मीर के एक स्कूल में पढ़ाने वाले दो टीचरों को स्कूल से मजह इस बात पर निकाल दिया गया क्योकि वे एक दूसरे को पसंद करते थे और उन्होंने शादी कर ली। दरअसल यहां पहलगाम जिले के एक निजी स्कूल में काम करने वाले एक कपल को स्कूल प्रबंधन ने उनकी शादी के दिन बर्खास्त कर दिया है। स्कूल प्रबंधन का दावा है कि उनका रोमांस छात्रों पर विपरीत असर डाल सकता है। पहलगाम के त्राल शहर के रहने वाले तारीक भट और सुमाया बशीर पम्पोर मुस्लिम एजुकेशनल इंस्टीट्यूट की बाल एवं बालिका इकाई में कई सालों से काम कर रहे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि 30 नवम्बर को स्कूल प्रबंधन ने उनकी सेवा को मनमाने तरीके से समाप्त कर दिया। इसी दिन उनकी शादी थी। तारिक भट्ट और सौम्या बशीर पिछले कई सालों से इस स्कूल में पढ़ा रहे थे और 30 नवंबर को दोनों ने शादी कर ली। उनकी शादी के ही दिन स्कूल ने दोनों को यह कहते हुए नौकरी से निकाल दिया कि उनके रोमांस का स्कूल में बच्चों पर गलत असर पड़ेगा। इसे लेकर स्कूल के चेयरमैन बशीर मसूदी ने सफाई देते हुए कहा कि वो दोनों रोमांटिक कपल थे और उनकी मौजूदगी का स्कूल के 4 हजार छात्रों और कर्मचारियों पर गलत असर पड़ता। वहीं शिक्षक दंपती का दावा है कि दोनों ने लव नहीं बल्कि अरेंज मैरिज की है। उनकी सगाई की बात पूरा स्कूल जानता है।