1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. हरियाणा किसान महापंचायत में गरजे केजरीवाल, बोले- जो किसानों समर्थक नहीं, वह गद्दार

हरियाणा किसान महापंचायत में गरजे केजरीवाल, बोले- जो किसानों समर्थक नहीं, वह गद्दार

हरियाणा किसान महापंचायत में दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा कि जो किसानों का समर्थक नहीं, वह देशभक्त नहीं गद्दार है। ऐसे लोगों ने इस देश को खोखला कर दिया है। किसानों की मांगों को पूरा करवाने के लिए वह हर कुर्बानी देने को तैयार हैं। अरविंद केजरीवाल हरियाणा के जींद में आयोजित आम आदमी पार्टी की किसान महापंचायत को संबोधित कर रहे थे।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। हरियाणा किसान महापंचायत में दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा कि जो किसानों का समर्थक नहीं, वह देशभक्त नहीं गद्दार है। ऐसे लोगों ने इस देश को खोखला कर दिया है। किसानों की मांगों को पूरा करवाने के लिए वह हर कुर्बानी देने को तैयार हैं। अरविंद केजरीवाल हरियाणा के जींद में आयोजित आम आदमी पार्टी की किसान महापंचायत को संबोधित कर रहे थे।

पढ़ें :- Big Breaking: विदेश से आने वालों के लिए केंद्र सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन, अब करना होगा ये काम

केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार ने दिल्ली के स्टेडियमों को जेल बनाने का प्रयास किया, लेकिन इसकी शक्ति दिल्ली सरकार के मुख्यमंत्री के पास थी। उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया। इससे बौखलाई केंद्र सरकार ने अब उनसे सारी शक्तियां छीनने की कोशिश की है। यह लोकतंत्र पर एक बदनुमा दाग है। दिल्ली की जनता ने सरकार चलाने के लिए उनको बहुमत दिया, लेकिन केंद्र सरकार अब सारी शक्तियों को छीन रही है। यह कैसा लोकतंत्र हैं, जहां जनता की चुनी सरकार के पास कोई शक्ति नहीं होती?

केंद्र सरकार सारी शक्तियां एलजी (उपराज्यपाल) को देने पर आमदा है। यह सब केंद्र सरकार ने उनको किसानों का समर्थन करने की सजा दी है। केजरीवाल ने कहा कि वह किसी भी सजा को भुगतने या कुर्बानी देने को तैयार हैं, लेकिन किसानों को उनका हक मिलना चाहिए। तीनों कानून रद्द होने चाहिए और एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) की गारंटी मिलनी चाहिए। रोहतक में हुए लाठीचार्ज की निंदा करते हुए केजरीवाल ने कहा कि इसके विरोध में किसानों ने काफी जगह जाम लगाया, वह किसानों के इस संघर्ष का समर्थन करते हैं।

उन्हें रास्ते जाम होने के कारण अन्य रास्तों से आना पड़ा लेकिन उन्हें इस बात का कोई दुख नहीं, बल्कि वह किसानों के साथ हैं। 28 जनवरी को उनके पास राकेश टिकैत का फोन आया और उन्होंने कहा कि योगी सरकार ने उनकी बिजली सप्लाई काट दी, पानी की समस्या के साथ-साथ काफी अन्य समस्याएं हैं। केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने तुरंत दिल्ली सरकार की तरफ से बॉर्डर पर बैठे किसानों के लिए पानी के टैंकर, जनरेटर और वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध करवाई। आजादी के 74 साल बाद भी देश का विकास नहीं हो पाया, क्योंकि भाजपा व कांग्रेस ने देश को अब तक लूटा ही है, विकास नहीं करवाया।

 

पढ़ें :- 7th Pay Commission : नए साल में केंद्रीय कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले,सरकार फिर बढ़ा सकती है डीए

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...