केरल लव जिहाद केस: SC ने कहा- ‘हादिया को सपने पूरे करने की पूरी आजादी’

केरल लव जिहाद केस ,हादिया
केरल लव जिहाद केस: SC ने कहा- 'हादिया को सपने पूरे करने की पूरी आजादी'

नई दिल्ली। केरल लव जिहाद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है। कोर्ट ने हादिया और शफीन की शादी को बहाल कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने केरल हाईकोर्ट का फैसला रद्द करते हुए कहा है कि अब हादिया और शफीन जहान पति-पत्नी की तरह एक सतह रह सकेंगे। वहीं कोर्ट ने कहा कि एनआईए इस मामले से निकले पहलुओं की जांच जारी रख सकता है। कोर्ट के बाहर शफीन के वकील ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने इस फैसले से हादिया को आजादी दी है।

बताते चलें दें कि इससे पहले हाईकोर्ट ने दोनों की शादी को शून्य करार दिया था। शफीन जहान ने हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी।
केरल हाईकोर्ट के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि शादी को रद्द नहीं करना चाहिए था। ये शादी वैध है। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हादिया को सपने पूरे करने की पूरी आजादी है।

{ यह भी पढ़ें:- आरूषि- हेमराज मर्डर केस : सीबीआई की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट दोबारा करेगी मामले की सुनवाई }

इस मामले में शफीन की तरफ से कांग्रेस नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने बहस की। सिब्बल ने कहा कि अपनी पसंद का जीवनसाथी चुनना हर किसी का मौलिक अधिकार है। हाई कोर्ट के पास यह अधिकार नहीं है कि वह किसी की याचिका पर ही किसी की शादी को रद्द कर दे। हर किसी को सम्मान और स्वतंत्रता के साथ जीने का भारतीय संविधान हक देता है। सिब्बल ने दलील दी कि जब तक दंपती में कोई किसी के खिलाफ शिकायत न दर्ज कराए, तब तक तीसरे को उनकी शादी पर सवाल उठाने का हक नहीं है।

{ यह भी पढ़ें:- इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट में एक साथ होंगी तीन महिला न्यायाधीश }

नई दिल्ली। केरल लव जिहाद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है। कोर्ट ने हादिया और शफीन की शादी को बहाल कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने केरल हाईकोर्ट का फैसला रद्द करते हुए कहा है कि अब हादिया और शफीन जहान पति-पत्नी की तरह एक सतह रह सकेंगे। वहीं कोर्ट ने कहा कि एनआईए इस मामले से निकले पहलुओं की जांच जारी रख सकता है। कोर्ट के बाहर शफीन के वकील ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट…
Loading...