1. हिन्दी समाचार
  2. खालिस्तान आंदोलन को ब्रिटेन में पाकिस्तानी ISI एजेंटों का मिल रहा समर्थन: पूर्व मेजर

खालिस्तान आंदोलन को ब्रिटेन में पाकिस्तानी ISI एजेंटों का मिल रहा समर्थन: पूर्व मेजर

Khalistan Movement Isi Pakistani Muslims Canada United Kingdom

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। भारतीय सेना के रिटायर्ड मेजर जनरल ने दावा किया है कि ब्रिटेन और कनाडा में रहने वाले पाकिस्तानी मुस्लिम खालिस्तानी आंदोलकारियों को पाकिस्तानी खुफिया एंजेंसी ISI का समर्थन मिल रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि खालिस्तान की मांग करने वालों की गतिविधियाें को बढ़ावा देने के लिए दोनों देशों के कुछ गुरुद्वारों द्वारा काफी पैसा सहायता राशि के तौर पर दिया जा रहा है।

पढ़ें :- बीजेपी ने जारी की लालू राज की डिक्शनरी....क से क्राइम, ख से खतरा, ग से गोली...

रिटायर्ड मेजर जनरल ध्रुव सी.कटोच के मुताबिक, इस काम के लिए सबसे ज्यादा फंड कनाडा और ब्रिटेन से आ रहा है। हालांकि, इस काम में वहां की सरकार शामिल नहीं है। दरअसल, ब्रिटेन में पाकिस्तान से आए मुस्लिम बड़ी संख्या में रहते हैं। यह समुदाय बेहद मुखर माना जाता है।

वर्ल्ड कप के मैचों में भी इसकी झलक दिखी- कटोच

कटोच ने कहा- यह मददगार पाक की खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ लगातार संपर्क में हैं। वे ऐसी ही एक मूवमेंट ब्रिटेन में भी शुरू करने की कोशिश में हैं। मूल रूप से फंडिंग दो देशों से हो रही है। इंग्लैंड में हो रहे वर्ल्ड कप मैचों में भी यह देखने को मिला।

पाकिस्तान कई सालों से एक ही एजेंडे पर काम कर रहा है। इसमें भारत की शांति और सद्भाव को प्रभावित करने के प्रयास होते हैं। सोशल मीडिया पर ऐसे कई वीडियो हैं, जिनमें सिख समुदाय के लोग खालिस्तान समर्थित स्लोगन बोलते दिखते हैं। इसके लिए आईएसआई ही इन लोगों को फंड मुहैया करवाता है।

पढ़ें :- संजय सिंह ने बोला यूपी सरकार पर हमला, कहा-सत्ता में आए तो दिल्ली मॉडल उत्तर प्रदेश में लागू होगा

पाकिस्तान को अपने हाथ रखने पड़ते हैं, जहां उसे नहीं जाना चाहिए।वे बहुत गंदा खेल खेल रहे हैं और यह अस्थिर करने वाला प्रयास है और मुझे लगता है कि पाकिस्तान को स्पष्ट रूप से बताने की आवश्यकता है कि उन्हें याद रखना चाहिए कि जब महाराजा रणजीत सिंह का सिख राज्य था, राजधानी लाहौर में थी और जब वे खालिस्तान नामक एक राक्षस बनाने की कोशिश करते थे , मुझे लगता है कि यह पाकिस्तान के टूटने की ओर ले जाएगा, जिस तरह से यह वर्तमान में स्थित है।’

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...