सूर्य पर एयरक्राफ्ट भेजेने की तैयारी में नासा

नई दिल्ली। बीते काफी समय से नासा सूर्य के वातावरण का अध्ययन करने की बात कर रहा है। फिलहाल इस अध्ययन के लिए अब नासा ने एक एयरक्राफ्ट सूर्य पर भेजने की योजना बना लिया है। नासा (NASA aircraft robotics) सूर्य के वायुमंडल में सीधे उड़ान भरने के लिए अपनी इस योजना से संबंधित कई नई जानकारी देने के लिए तैयार है।




NASA aircraft robotics की कुछ खास जानकारी

* आपको बता दें कि नासा सूर्य पर एक एयरक्राफ्ट भेजने की योजना बना रहा है जो aircraft robotics होगा।
* इस पूरी योजना के बारे में वैज्ञानिक 31 मई को 12 बजे एक कार्यक्रम के दौरान घोषणा करेंगे।
* ऐरक्राफ्ट को 2018 में सूर्य की ओर भेजने की तैयारी में जुटा है नासा।
* 31 मई को आयोजित होने वाला कार्यक्रम शिकागो के विलियम एखर्ड अनुसंधान केंद्र ऑडिटोरियम विश्वविद्यालय में किया जाएगा।

{ यह भी पढ़ें:- 18 साल के इस भारतीय ने बना डाला दुनिया की सबसे छोटा सैटेलाइट, NASA करेगा लॉन्च }

सूर्य के जुड़ी कई जानकारी के लिए सूर्य के अधिक पास नहीं जा पाएगा एयरक्राफ्ट




एयरक्राफ्ट को लेकर मैरीलैंड में गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर के नासा के एक शोध वैज्ञानिक एरिक ईसाई ने बताया कि सूर्य के अधिक पास तो नहीं जाया जा सकेगा लेकिन सूर्य को लेकर कुछ सवालों के उत्तर मिल सकते हैं। अंतरिक्ष यान सूरज की सतह के 4 मिलियन मील की दूरी तक ही जा सकेगा।

वहां जाने से सूर्य के वातावरण को जानने में मदद मिलेगी। वैज्ञानिकों को सूर्य की बाहरी वायुमंडल, या कोरोना के माध्यम से सौर हवा को समझने में आसानी होगी। वैज्ञानिक को जब तक इस बात की जानकारी नहीं होगी कि सूर्य के नजदीक क्या हो रहा है, तब तक वे अंतरिक्ष मौसम के प्रभाव का सही अनुमान नहीं लगा पाएंगे। नासा का कहना है कि ये मिशन ‘एक विशाल सौर घटना’ का अनुमान लगाने में मदद कर सकता है।

{ यह भी पढ़ें:- ISRO का नया कारनामा, चांद की बिजली से धरती को करेगा रोशन }