1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. किसान आंदोलनः असामाजिक तत्वों के कब्जे के आरोपों पर बोले किसान नेता, अगर ऐसा है तो उन्हें गिरफ्तार करें

किसान आंदोलनः असामाजिक तत्वों के कब्जे के आरोपों पर बोले किसान नेता, अगर ऐसा है तो उन्हें गिरफ्तार करें

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। कृषि कानूनों को लेकर किसानों का आंदोलन जारी है। नए कृषि कानून को रद्द करने की किसान मांग कर रहे हैं। वहीं, सरकार ने प्रदर्शनकारी किसानों को सचेत किया है कि वे अपने मंच का दुरुपयोग नहीं होने दें। इसके साथ ही सरकार की तरफ से साथ ही कहा गया कि प्रदर्शनकारी अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं लेकिन कुछ ‘असामाजिक, वामपंथी और माओवादी’ तत्व आंदोलन का माहौल बिगाड़ने की साजिश रच रहे हैं।

पढ़ें :- IND vs NZ 2nd Test : अश्विन-सिराज के आगे एजाज का परफेक्ट-10 फेल, भारत को 332 रन की बढ़त

सरकार के इस बयान के बाद किसान नेता ने पलटवार किया है। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि अगर ऐसा है तो सेंट्रल इंटेलिजेंस ऐसे लोगों को गिरफ्तार करे। वहीं, राकेश टिकैत ने कहा कि, अगर प्रतिबंधित संस्था के लोग हमारे बीच घूम रहे हैं, तो केंद्रीय खुफिया एजेंसियां उन्हें सलाखों के पीछे डाल दें।

हमें ऐसा कोई व्यक्ति यहां नहीं मिला, अगर हमें कोई मिलता है तो हम उन्हें यहां से हटा देंगे। अगर ऐसे लोग यहां हैं तो सेंट्रल इंटेलिजेंस उनको पकड़े। बता दें कि, खाद्य, रेलवे और उपभोक्ता मामलों के मंत्री पीयूष गोयल ने कहीं अधिक मुखरता से आरोप लगाते हुए कहा कि ऐसा लगता है जैसे कुछ माओवादी और वामपंथी तत्वों ने आंदोलन का नियंत्रण संभाल लिया है और किसानों के मुद्दे पर चर्चा करने की जगह कुछ और एजेंडा चला रहे हैं।

 

पढ़ें :- यूपी विधानसभा चुनाव निकट देख मंदिर से दूरी बनाने वाले टेक रहे हैं मंदिरों में माथा : डॉ. दिनेश शर्मा 
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...