1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. किसान आंदोलन: केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का विपक्ष पर हमला, कहा-कांग्रेस ने संशोधन की कही थी बात

किसान आंदोलन: केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का विपक्ष पर हमला, कहा-कांग्रेस ने संशोधन की कही थी बात

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों का आंदोलन जारी है। सभी विपक्षी पार्टियां किसानों के आंदेालन का समर्थन कर रहीं हैं। किसानों ने आठ​ दिसंबर को भारत बंद करने का आह्वान किया है। वहीं, इस बीच केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को कहा कि विपक्षी दल दोहरा रवैया अपना रहे हैं। उन्होंने कहा कहा कि विपक्ष केवल विरोध के लिए विरोध कर रहा है। प्रसाद ने एक-एक कर उन तमाम नेताओं के नाम लेकर हमला बोला है जिन्होंने कृषि कानूनों पर सरकार से मिलती-जुलती राय रखी थी।

पढ़ें :- Omicron variant : भारत का दक्षिण अफ्रीका दौरा एक सप्ताह बढ़ सकता है आगे

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, आज जब कांग्रेस का राजनीतिक वजूद खत्म हो रहा है। बार-बार चुनाव में हार मिल रही है, फिर चाहे लोकसभा हो, विधानसभा हो या नगर निगम चुनाव हों। यह अपना अस्तित्व बचाने के लिए किसी भी विरोधी आंदोलन में शामिल हो जाती है।

रविशंकर प्रसाद ने कहा, किसान आंदोलन के नेताओं ने साफ-साफ कहा है कि राजनीतिक लोग हमारे मंच पर नहीं आएंगे। हम उनकी भावनाओं का सम्मान करते हैं। लेकिन ये सभी कूद रहे हैं, क्योंकि इन्हें भाजपा और नरेंद्र मोदी जी का विरोध करने का एक और मौका मिल रहा है। विपक्ष का शर्मनाक और दोहरा चेहरा सामने आया है।

विपक्ष राजनीतिक वजूद बचाने के लिए आंदोलन के साथ है। शरद पवार पर हमला करते हुए भाजपा नेता ने कहा, ‘शरद पवार जब देश के कृषि और उपभोक्ता मामलों के मंत्री थे तो उन्होंने देश के सारे मुख्यमंत्रियों को चिट्ठी लिखी थी। जिसमे उन्होंने लिखा था कि मंडी एक्ट में बदलाव जरूरी है, प्राइवेट सेक्टर का आना जरूरी है, किसानों को कहीं भी अपनी फसल बेचने का अवसर मिलना चाहिए।’

 

पढ़ें :- आखिर कब तक सब्र करे भारत का नौजवान, नौकरियों को लेकर अपनी ही सरकार को वरुण गांधी ने घेरा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...