केकेसी कॉलेज के बाथरूम से बेहोश मिली छात्रा, ब्लेड से काटी हाथ की नस

केकेसी कॉलेज के बाथरूम से बेहोश मिली छात्रा, ब्लेड से काटी हाथ की नस
केकेसी कॉलेज के बाथरूम से बेहोश मिली छात्रा, ब्लेड से काटी हाथ की नस

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ के हुसैनगंज स्थित केकेसी कालेज में बीएससी की एक छात्रा ने बाथरूम में खुद को बंद करके ब्लेड से हाथ की नस काट ली। बाथरूम में छात्रा को खून से लथपथ देखते ही कालेज प्रशासन के हाथ-पांव फूले गए। आनन-फानन में कालेज प्रशासन बिना पुलिस को सूचना दिए छात्रा को सिविल अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टरों ने उसकी हालत गम्भीर बताते हुए भर्ती कर लिया वहीं छात्रा के पास से सीएम को लिखा हुआ एक पत्र मिला जिसमे उसने ख़ुदकुशी की बात की है।

Kkc Bsc Student Commits Suicide In Lucknow :

यह है पूरा मामला

आलमनगर की 22 वर्षीय केकेसी की बीएससी तृतीय वर्ष की छात्रा रोजाना की तरह कॉलेज आई थी। पुलिस ने बताया कि शुक्रवार करीब 3 बजे छात्रा ने खुद को बाथरूम में बंद कर लिया और हाथ की नस काट ली। काफी समय तक दरवाजा न खोलने पर कॉलेज की अन्य छात्राओं को कुछ अनहोनी कि आशंका हुई जैस्पर नीचे से झाँकने पर दिखा कि कोई जमीन पर पड़ा हुआ है। यह सब देख घबराई छात्राओं ने कॉलेज के अध्यापकों को सूचित किया और फौरन दरवाजा तोड़ छात्रा को बाहर निकाला गया और आनन फानन में छात्रा को जिला अस्पताल में ले जया गया। छात्रा को फौरन भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया हालांकि अब छात्रा ठीक है और उसे घर भेज दिया गया।

दहेज बना कारण

छात्रा का कहना है कि 1 साल पहले उसके लिए आईटीबीपी में तैनात सिपाही का रिश्ता आया था और शादी तय हो गयी थी। दोनों में फोन पर बातचीत होने लगी और 1 साल में दोनों काफी करीब आ गए थे, लेकिन बाद में लड़केवाले 15 लाख रुपये दहेज की मांग करने लगे। इतनी बड़ी रकम चुकाने में लड़की वाले असमर्थ थे तभी लड़के की शादी पुलिस में तैनात महिला से कर दी गयी। रिश्ता टूटने की बात को लेकर पूरा परिवार तनाव में आ गया था। ये सब होने के बाद छात्रा डिप्रेशन में आ गयी थी और ख़ुदकुशी करने की कोशिश की।

सुसाइड नोट में लिखा मैंने उसके लिए मां-बाप को किया दुखी

हम दोनों एक दूसरे को बहुत प्यार करते थे और शादी करना चाहते थे। लेकिन उसने आखिर में मां-बाप को चुना और दूसरी जगह शादी के लिए हामी भर दी। शादी टूटने के बाद से छात्रा ने कई बार ख़ुदकुशी करने की कोशिश की लेकिन दोस्तों और टीचरों के समझाने पर मान गयी। लेकिन 13 फरवरी को एक बार फिर लड़के का कॉल आया और शादी की बात कही जिसके बाद से छात्रा परेशान रहने लगी। छात्रा ने पत्र में लिखा कि मैंने उस लड़के के लिए मम्मी पापा को बहुत दुखी किया है।

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ के हुसैनगंज स्थित केकेसी कालेज में बीएससी की एक छात्रा ने बाथरूम में खुद को बंद करके ब्लेड से हाथ की नस काट ली। बाथरूम में छात्रा को खून से लथपथ देखते ही कालेज प्रशासन के हाथ-पांव फूले गए। आनन-फानन में कालेज प्रशासन बिना पुलिस को सूचना दिए छात्रा को सिविल अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टरों ने उसकी हालत गम्भीर बताते हुए भर्ती कर लिया वहीं छात्रा के पास से सीएम को लिखा हुआ एक पत्र मिला जिसमे उसने ख़ुदकुशी की बात की है।यह है पूरा मामलाआलमनगर की 22 वर्षीय केकेसी की बीएससी तृतीय वर्ष की छात्रा रोजाना की तरह कॉलेज आई थी। पुलिस ने बताया कि शुक्रवार करीब 3 बजे छात्रा ने खुद को बाथरूम में बंद कर लिया और हाथ की नस काट ली। काफी समय तक दरवाजा न खोलने पर कॉलेज की अन्य छात्राओं को कुछ अनहोनी कि आशंका हुई जैस्पर नीचे से झाँकने पर दिखा कि कोई जमीन पर पड़ा हुआ है। यह सब देख घबराई छात्राओं ने कॉलेज के अध्यापकों को सूचित किया और फौरन दरवाजा तोड़ छात्रा को बाहर निकाला गया और आनन फानन में छात्रा को जिला अस्पताल में ले जया गया। छात्रा को फौरन भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया हालांकि अब छात्रा ठीक है और उसे घर भेज दिया गया। दहेज बना कारण छात्रा का कहना है कि 1 साल पहले उसके लिए आईटीबीपी में तैनात सिपाही का रिश्ता आया था और शादी तय हो गयी थी। दोनों में फोन पर बातचीत होने लगी और 1 साल में दोनों काफी करीब आ गए थे, लेकिन बाद में लड़केवाले 15 लाख रुपये दहेज की मांग करने लगे। इतनी बड़ी रकम चुकाने में लड़की वाले असमर्थ थे तभी लड़के की शादी पुलिस में तैनात महिला से कर दी गयी। रिश्ता टूटने की बात को लेकर पूरा परिवार तनाव में आ गया था। ये सब होने के बाद छात्रा डिप्रेशन में आ गयी थी और ख़ुदकुशी करने की कोशिश की।सुसाइड नोट में लिखा मैंने उसके लिए मां-बाप को किया दुखी हम दोनों एक दूसरे को बहुत प्यार करते थे और शादी करना चाहते थे। लेकिन उसने आखिर में मां-बाप को चुना और दूसरी जगह शादी के लिए हामी भर दी। शादी टूटने के बाद से छात्रा ने कई बार ख़ुदकुशी करने की कोशिश की लेकिन दोस्तों और टीचरों के समझाने पर मान गयी। लेकिन 13 फरवरी को एक बार फिर लड़के का कॉल आया और शादी की बात कही जिसके बाद से छात्रा परेशान रहने लगी। छात्रा ने पत्र में लिखा कि मैंने उस लड़के के लिए मम्मी पापा को बहुत दुखी किया है।