अब आधार कार्ड की जगह देना होगा वर्चुअल आईडी, ऐसे करें जेनरेट

आधार कार्ड ,वर्चुअल आईडी, ऐसे जेनरेट करें वर्चुअल आईडी
अब आधार कार्ड की जगह देना होगा वर्चुअल आईडी, ऐसे करें जेनरेट

Know All About Vertual Id Of Adhar Card And How You Can Generate

नई दिल्ली। आधार डाटा लीक होने की वजह से ज़्यादातर लोगों में अब डर बैठ गया है कि कहीं उनके आधार नंबर का कोई गलत इस्तेमाल न कर ले। इन्हीं बातों को में ध्यान रखते हुए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने इसमें कुछ और बदलाव करने का निर्णय लिया है। बता दें कि यूआईडीएआई ने अब वर्चुअल आईडी (वीआईडी) की शुरुआत करने का फैसला लिया है। अब आपको कई सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए आधार नंबर नहीं देना होगा।

इसका फायदा उठाने के लिए आधार नंबर रखने वाले लोगों को अपनी एक वर्चुअल आईडी बनानी होगी। आधार सत्यापन के लिए पहले जहां आधार नंबर बताने की जरूरत होती थी, वहीं अब ये वीआईडी बताने से ही काम चल जाएगा। बता दें कि यह वीआईडी केवल आधार धारक ही बना सकता है।

16 अंकों वाले इस आईडी से उपयोक्ता की 12 अंक की आधार संख्या का खुलासा दूसरे व्यक्ति या सेवा प्रदाता को नहीं होगा। इसकी वैधता केवल एक दिन की होगी और एक व्यक्ति कई बार वीआईडी जनरेट कर सकता है। फिलहाल, इसका इस्तेमाल आधार में पते को अपडेट करने के लिए किया जा सकता है। प्राधिकरण ने उपभोक्ताओं से आग्रह किया है कि वो अपना वीआईडी बनवा लें।

ऐसे जेनरेट करें वर्चुअल आईडी

इसे जनरेट करने के लिए आपको सबसे पहले यूआईडीएआई के होम पेज पर जाना होगा। यहां अपना आधार नंबर डालें और फिर सिक्योरिटी कोड डालें। इसके बाद सेंड ओटीपी पर क्लिक करें। इसके बाद आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी मिल जाएगा। ओटीपी डालने के बाद आपको वीआईडी जनरेट करने का विकल्प मिल जाएगा। जनरेट होने पर यह आईडी आपके मोबाइल पर मिल जाएगी।

नई दिल्ली। आधार डाटा लीक होने की वजह से ज़्यादातर लोगों में अब डर बैठ गया है कि कहीं उनके आधार नंबर का कोई गलत इस्तेमाल न कर ले। इन्हीं बातों को में ध्यान रखते हुए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने इसमें कुछ और बदलाव करने का निर्णय लिया है। बता दें कि यूआईडीएआई ने अब वर्चुअल आईडी (वीआईडी) की शुरुआत करने का फैसला लिया है। अब आपको कई सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए आधार नंबर नहीं देना…