जानिए कैसे मॉस्को के प्रसिद्ध जादूगर ने खुद को किया कंकाल में तब्दील

magician
जानिए कैसे मॉस्को के प्रसिद्ध जादूगर ने खुद को किया कंकाल में तब्दील

नई दिल्ली। रूस के मॉस्को में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसको सुन कर आप दंग रह जाएंगे। जी हां मॉस्को पुलिस को हाल ही में शहर से 80 किमी दूर वीरान जंगल में पेड़ से बंधा एक नरकंकाल मिला। जांच में पता चला कि यह कंकाल इवान क्लूशारेव का है, जिसे आखिरी बार मॉस्को में ही दो साल पहले देखा गया था। हालांकि, इसके बाद उसकी कोई खबर नहीं मिली।

Know How The Famous Magician Of Moscow Transformed Himself Into A Skeleton :

वहीं रूसी पुलिस ने जानकारी दी है कि इवान हाइकिंग और सर्वाइवल स्किल्स में अनुभवी था। वह ऐसे करतब दिखाना चाहता था कि लोग हैरान रह जाएं। पुलिस का अनुमान है कि, इसी कोशिश में उसने शतूरा के सुनसान जंगलों में खुद को चेन और ताले के जरिए पेड़ से बांधा होगा और बाद में उसे खोलने में असफल रहा। घटना वाली जगह वीरान है, वहां अमूमन कोई आता-जाता नहीं है।

दरअसल, पुलिस को घटनास्थल के सामने ही एक टेंट और पेड़ के सामने लगा एक कैमरा भी मिला। माना जा रहा है कि इवान खुद की जादूगरी को रिकॉर्ड करना चाहता था। घटनास्थल से पांच हथकड़ियां, कुछ लोहे की चेन, ताले और किताबें भी मिलीं। रूस की इनवेस्टिगेटिव कमेटी ने बताया कि यह तो तय है कि इवान उस ग्रुप का हिस्सा था जो कठिन परिस्थितियों में अपनी सर्वाइवल स्किल्स का परीक्षण करते हैं। हालांकि, युवक की मौत का कारण फोरेंसिक जांच में ही सामने आने की संभावना है। पुलिस इवान के कैमरे और कंप्यूटर की जांच कर रही है।

बता दें, पहली बार शव को देखने वाले स्थानीय निवासी एडुअर्ड कारपोव के मुताबिक, उन्हें पेड़ से बंधी हूडी में इवान की खोपड़ी नजर आई। उसका कंकाल पेड़ की पत्तियों से ढका था। अधिकारियों के मुताबिक, इवान का नाम लापता लोगों की सूची में भी था, लेकिन इससे पहले शतूरा के जंगल में उसे ढूंढने की सारी कोशिशें नाकाम हो चुकी थीं।

नई दिल्ली। रूस के मॉस्को में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसको सुन कर आप दंग रह जाएंगे। जी हां मॉस्को पुलिस को हाल ही में शहर से 80 किमी दूर वीरान जंगल में पेड़ से बंधा एक नरकंकाल मिला। जांच में पता चला कि यह कंकाल इवान क्लूशारेव का है, जिसे आखिरी बार मॉस्को में ही दो साल पहले देखा गया था। हालांकि, इसके बाद उसकी कोई खबर नहीं मिली। वहीं रूसी पुलिस ने जानकारी दी है कि इवान हाइकिंग और सर्वाइवल स्किल्स में अनुभवी था। वह ऐसे करतब दिखाना चाहता था कि लोग हैरान रह जाएं। पुलिस का अनुमान है कि, इसी कोशिश में उसने शतूरा के सुनसान जंगलों में खुद को चेन और ताले के जरिए पेड़ से बांधा होगा और बाद में उसे खोलने में असफल रहा। घटना वाली जगह वीरान है, वहां अमूमन कोई आता-जाता नहीं है। दरअसल, पुलिस को घटनास्थल के सामने ही एक टेंट और पेड़ के सामने लगा एक कैमरा भी मिला। माना जा रहा है कि इवान खुद की जादूगरी को रिकॉर्ड करना चाहता था। घटनास्थल से पांच हथकड़ियां, कुछ लोहे की चेन, ताले और किताबें भी मिलीं। रूस की इनवेस्टिगेटिव कमेटी ने बताया कि यह तो तय है कि इवान उस ग्रुप का हिस्सा था जो कठिन परिस्थितियों में अपनी सर्वाइवल स्किल्स का परीक्षण करते हैं। हालांकि, युवक की मौत का कारण फोरेंसिक जांच में ही सामने आने की संभावना है। पुलिस इवान के कैमरे और कंप्यूटर की जांच कर रही है। बता दें, पहली बार शव को देखने वाले स्थानीय निवासी एडुअर्ड कारपोव के मुताबिक, उन्हें पेड़ से बंधी हूडी में इवान की खोपड़ी नजर आई। उसका कंकाल पेड़ की पत्तियों से ढका था। अधिकारियों के मुताबिक, इवान का नाम लापता लोगों की सूची में भी था, लेकिन इससे पहले शतूरा के जंगल में उसे ढूंढने की सारी कोशिशें नाकाम हो चुकी थीं।