1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. जानिए राम नवमी का शुभ मुहूर्त, पूजन विधि और मंत्र

जानिए राम नवमी का शुभ मुहूर्त, पूजन विधि और मंत्र

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: रामनवमी के दिन भगवान श्री राम की पूजा – अर्चना की जाती है। पुराणों के अनुसार चैत्र माह की शुक्‍ल पक्ष की नवमी के दिन पुनर्वसु नक्षत्र और कर्क लग्‍न में भगवान राम का जन्‍म हुआ था। भगवान श्री राम को श्री हरि विष्णु का सातवां अवतार माना जाता है। श्री राम को मर्यादा पुरुषोत्तम भी कहा जाता है तो आइए रामनवमी का शुभ मुहूर्त, महत्व और पूजा विधि।

रामनवमी 2020 तिथि :
2 अप्रैल 2020

रामनवमी पूजा मुहूर्त : सुबह 11 बजकर 10 मिनट से 1 बजकर 38 मिनट तक
नवमी तिथि आरंभ : दोपहर 3 बजकर 39 मिनट से
नवमी तिथि समाप्त : अगले दिन दोपहर 2 बजकर 42 मिनट तक

रामनवमी पूजा विधि :

रामनवमी के दिन भगवान श्री राम की पूजा करने के लिए सबसे प्रात: काल जल्दी उठकर नहाकर साफ वस्त्र धारण करें।
इसके बाद भगवान श्री राम माता सीता और लक्ष्मण की प्रतिमा स्थापित करें। इसके बाद भगवान श्री राम के साथ- साथ सभी को रोली का तिलक करें।
इसके बाद चावल, फूल, घंटी और शंख भगवान श्री राम को अर्पित करें। इसके बाद भगवान श्री राम की विधिवत पूजा करें।
इसके बाद भगवान श्री राम के मंत्रों का जाप करें, रामायण पढें और रामचरित मानस का भी पाठ करें। अंत में सभी की आरती उतारें।
इस दिन भगवान श्री राम को झूला अवश्य झूलाएं और किसी निर्धन व्यक्ति या ब्राह्मण को गेहूं और बाजरा अवश्य दान में दें।

भगवान श्री राम के मंत्र :
1 श्रीरामचन्द्राय नम:
2 क्लीं राम क्लीं राम
3 श्रीराम शरणं मम्
4 श्रीं राम श्रीं राम।
5 ॐ रामाय हुं फट् स्वाहा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...