1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. जानें मंगलवार के राहुकाल व दिशाशूल की स्थिति, आज इस दिशा में यात्रा करना है वर्जित

जानें मंगलवार के राहुकाल व दिशाशूल की स्थिति, आज इस दिशा में यात्रा करना है वर्जित

तिथि, नक्षत्र, वार, योग और करण से मिलकर पंचांग बनता है। मंगलवार 18 मई, 2021 के दैनिक पंचाग के मुताबिक शुभ मुहूर्त, राहुकाल, सूर्योदय और सूर्यास्‍त का समय, तिथि, नक्षत्र, सूर्य, करण, चंद्र व दिशाशूल की स्थिति, मास व पक्ष की समस्‍त जानकारी यहां दी गई है।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

Know The Situation Of Tuesdays Rahula And Direction Today It Is Forbidden To Travel In This Direction

मंगलवार को सप्तमी तिथि 12:51:00 तक तदोपरान्त अष्टमी तिथि है। सप्तमी तिथि के स्वामी भगवान सूर्यदेव जी हैं तथा अष्टमी तिथि के स्वामी भगवान शिवजी हैं। मंगलवार के दिन बजरंगबली की पूजा का विशेष महत्व हैं। आज के दिन उत्तर दिशा की यात्रा नहीं करना चाहिए यदि यात्रा करना ज्यादा आवश्यक हो तो घर से गुड़ खाकर जाएं। इस तिथि में नीम नही खाना चाहिए यह तिथि मंगल कार्य, संग्राम, शिल्प, वास्तु, भूषण के लिए शुभ है। दिन का शुभ मुहूर्त, दिशाशूल की स्थिति, राहुकाल एवम् गुलिक काल की वास्तविक स्थिति के बारे में जानकारी आगे दी गई है।

पढ़ें :- 13 June 2021: शुभ मुहूर्त जानें रविवार को राहुकाल व दिशाशूल की स्थिति, आज की तिथि

18 मई 2021 दिन- मंगलवार का पंचांग

सूर्योदयः- प्रातः 05:30:52

सूर्यास्तः- सायं 06:48:11

विशेषः मंगलवार के दिन बजरंगबली की पूजा का विशेष महत्व हैं।

पढ़ें :- 12 जून, 2021 शनिवार का पंचांग: आज द्वितीया तिथि जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

विक्रम संवतः- 2078

शक संवतः- 1943

आयनः- उत्तरायण

ऋतुः- ग्रीष्म ऋतु

मासः- वैशाख माह

पढ़ें :- 10 जून का पंचांग: शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय, लाभ योग कब से कब तक जानें

पक्षः- शुक्ल पक्ष

तिथिः- सप्तमी तिथि 12:51:00 तक तदोपरान्त अष्टमी तिथि

तिथि स्वामीः- सप्तमी तिथि के स्वामी भगवान सूर्यदेव जी हैं तथा अष्टमी तिथि के स्वामी भगवान शिवजी हैं।

नक्षत्रः- पुष्य नक्षत्र 10:46:00 तक तदोपरान्त अश्लेषा नक्षत्र

नक्षत्र स्वामीः- पुष्य नक्षत्र के स्वामी शनि देव हैं तथा अश्लेषा नक्षत्र के स्वामी बुध हैं।

योगः- वृद्धि 02:15:01 तक तदोपरान्त ध्रुव

पढ़ें :- पंचांग 9 जून 2021 : देखें आज की तिथि, मुहूर्त और शुभ योग

गुलिक कालः- शुभ गुलिक काल 12:17:00 से 01:59:00 तक

दिशाशूलः- आज के दिन उत्तर दिशा की यात्रा नहीं करना चाहिए यदि यात्रा करना ज्यादा आवश्यक हो तो घर से गुड़ खाकर जाएं।

राहुकालः- आज का राहु काल 03:42:00 से 05:24:00 तक

तिथि का महत्वः- इस तिथि में नीम नही खाना चाहिए यह तिथि मंगल कार्य, संग्राम, शिल्प, वास्तु, भूषण के लिए शुभ है।

“हे तिथि स्वामी, दिन स्वामी, नक्षत्र स्वामी, योग स्वामी आप पंचांग का पाठन करने वालों पर अपनी कृपा दृष्टि बनाये रखना।”

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X