1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. जानिए प्रेग्नेंसी मे गरम पानी पीना चाहिए या नहीं, ऐसे करता है शरीर और बच्चे पर इफेक्ट

जानिए प्रेग्नेंसी मे गरम पानी पीना चाहिए या नहीं, ऐसे करता है शरीर और बच्चे पर इफेक्ट

By आराधना शर्मा 
Updated Date

लखनऊ: मां बनना दुनिया का सबसे सौ भाग्य माना जाता है। लेकिन ये बात भी सच है अगर आप मां बनने वाली हैं तो आपको अपना खास ख्याल रखना होगा। कई बार ऐसा होता है खाने पीने मे महिलाएं कनफूज रहतीं हैं कि आखिर हम क्या खाएं क्या नहीं। दरअसल, ऐसा माना जाता है कि इसका पॉजिटिव असर गर्भ में पल रहे शिशु को भी हो। प्रेग्नेंसी में जितना जरूरी है हेल्‍दी डायट का सेवन करना, उतना ही जरूरी है शरीर को हाइड्रेट रखना।

पढ़ें :- ईद मिलाद-उन-नबी 2021: सुंदर और सरल मेहंदी डिज़ाइन जिन्हें आप घर पर आज़मा सकते हैं

ऐसे में सही मात्रा में पानी पीना बहुत जरूरी होता है। पानी पीने से शरीर हाइड्रेट रहने के साथ ही ऊर्जा से भी भरपूर रहता है। शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। यदि आप नॉर्मल वाटर के साथ ही पूरे दिन दो-तीन गिलास गर्म या गुनगुना पानी पिएंगे, तो सेहत के लिए बेहद लाभकारी साबित होगा। जानें, प्रेग्नेंसी के दिनों में गर्म पानी पीने से क्या-क्या से लाभ होते हैं।

कब्ज की समस्या खत्म 

परेशान गर्भावस्था में कई महिलाओं को कब्ज की शिकायत रहती है। ऐसा कम पानी पीने से भी होता है। इन दिनों कब्ज से छुटकारा पाने के लिए हर दिन खासकर रात में सोने से पहले एक गिलास गर्म पानी पिएं। आप सुबह उठने के बाद भी सबसे पहले एक कप गर्म या हल्का गुनगुना पानी पी लेंगी, तो बाउल मूवमेंट्स सही हो जाएगा। इससे पाचन तंत्र हेल्दी और आंतें भी साफ रहती हैं।

पाचन तंत्र को रखे हेल्दी

पढ़ें :- करवा चौथ 2021: 5 खाद्य पदार्थ जो आपके सरगी आहार में अवश्य होने चाहिए

प्रेग्नेंसी में आप नॉर्मल पानी तो खूब पीती होंगी, लेकिन एक-दो गिलास गर्म या गुनगुना पानी भी पीकर देखिए। इससे गर्भावस्था में होने वाली पाचन तंत्र संबंधित समस्याओं से आप बची रहेंगी। शरीर के सारे टॉक्सिन पदार्थ पेशाब के जरिए बाहर निकल जाएंगे। प्रेग्नेंसी के दौरान वजन बढ़ने से पाचन तंत्र में फैट भी जमा होने लगता है। गर्म पानी पीने से आप फैट बनने की समस्या से बची रहेंगी।

ब्लड सर्कुलेशन रहता है न‍ियमित

गर्म पानी पीने से रक्त शिराओं का प्रसार होता है। शरीर में रक्त का संचार बेहतर होता है। जब ब्लड सर्कुलेशन सही होता है, तो शरीर के प्रत्येक अंगों में ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की पर्याप्त मात्रा पहुंचती रहती है।

ऊर्जा का स्तर कभी ना हो

कम गर्भावस्था के दौरान अक्सर महिलाएं थकान का अनुभव करती हैं। दरअसल, इन दिनों शरीर में कई तरह के हार्मोनल उतार-चढ़ाव होते हैं। गर्म पानी पिएंगी, तो शरीर से टॉक्सिन आसानी से बहर निकलते हैं। इससे मांसपेशियां और तंत्रिकाएं एक्टिव हो जाती हैं, जिससे थकान महसूस नहीं होती है।

पढ़ें :- Saridon: सिर्फ 1 सेरिडोन दूर कर सकता है सिरदर्द, चिंता, अनिद्रा, अवसाद और माइग्रेन जैसे अनेक स्वास्थ्य जोखिमों को

 

 

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...