1. हिन्दी समाचार
  2. कोलकाता हाईकोर्ट ने राजीव कुमार की गिरफ्तारी पर लगी रोक हटाई

कोलकाता हाईकोर्ट ने राजीव कुमार की गिरफ्तारी पर लगी रोक हटाई

Kolkata High Court Lifts Ban On Rajiv Kumars Arrest

By बलराम सिंह 
Updated Date

कोलकाता। कोलकाता हाईकोर्ट ने शारदा चिट फंड घोटाले में कोलकाता के वरिष्ठ आईपीएस और पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार की गिरफ्तारी पर लगी रोक शुक्रवार को हटा दी है। कोर्ट ने सीबीआई के एक नोटिस को रदद करने के उनके अनुरोध को भी खारिज कर दिया। इस नोटिस में कुमार से मामले में पूछताछ के लिए पेश होने को कहा गया था। इसी के साथ राजीव कुमार की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। अब किसी भी समय राजीव की गिरफ्तारी हो सकती है। आपको बता दें कि सीबीआइ लम्बे समय से सारदा घोटाले में पूछताछ के लिए राजीव कुमार को हिरासत में लेना चाहती है। राजीव कुमार ने इसके खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। हाईकोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी।

पढ़ें :- विश्व के सबसे बड़े पर्यटन क्षेत्र के रूप में उभर रहा है केवड़िया: PM मोदी

कोलकाता हाईकोर्ट से पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को एक और झटका मिला है। राजीव कुमार को गिरफ्तारी से राहत नहीं मिली है। सीबीआई राजीव कुमार को हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहती है। वहीं दूसरी ओर राजीव कुमार अपनी गिरफ्तारी पर रोक लगाने के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर किए थे ।

कलकत्ता हाईकोर्ट ने शारदा चिटफंड मामले में पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार की गिरफ्तारी पर लगी रोक को हटा दिया है। अब केंद्रीय जांच एजेंसी चाहे तो राजीव कुमार को गिरफ्तार कर सकती है। हाईकोर्ट ने यह भी कहा कि जांच एजेंसी को गिरफ्तारी को सही ठहराना चाहिए।

आईपीएस राजीव कुमार पर शारदा घोटाले में सबूतों से छेड़छाड़ का गंभीर आरोप है। सीबीआई के अधिकारियों का कहना है कि राजीव कुमार ने शारदा समूह के मालिक सुदीप्त सेन की लाल रंग की एक डायरी व पेन ड्राइव छुपा रखी है। वहीं राजीव कुमार ने फोन के काल डिटेल से छेड़छाड़ के आरोप भी हैं। आपको बता दें कि शारदा ग्रुप ऑफ कंपनीज ने लाखों लोगों को कथित तौर पर निवेश पर ऊंचे रिटर्न का वादा कर उन्हें 2500 करोड़ रूपये का चूना लगाया था।
उस डायरी में बड़े नेताओं को शारदा समूह की ओर से दिए गए पैसे का ब्योरा है। सुदीप्त सेन से सीबीआइ अधिकारियों को बताया है कि उक्त डायर कंपनी मुख्यालय से मामले की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल(एसआइटी) के अधिकारियों ने जब्त कर ले गए थे। वहीं राजीव कुमार का कहना है कि उनके पास इस तरह की कोई डायरी नहीं है। बताया जा रहा है कि सीबीआइ के अधिकारी राजीव कुमार के मामले पूछताछ के लिए शनिवार को तलब कर सकती है जिसके बाद उनकी गिरफ्तारी की आशंका बढ़ गई है।

पढ़ें :- सीएम योगी ने झांसी में स्ट्रॉबेरी महोत्सव का किया वर्चुअल शुभारम्भ, कहा-बुन्देलखण्ड में मिलेगी ...

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...