दर्शकदीर्घा में सेक्स डॉल रखने पर कोरिया के फुटबॉल क्लब को सजा, लगा रिकॉर्ड जुर्माना

sex doll
दर्शकदीर्घा में सेक्स डॉल रखने पर कोरिया के फुटबॉल क्लब को सजा, लगा रिकॉर्ड जुर्माना

दक्षिण कोरिया में खाली स्टेडियम में हुए फुटबॉल मैच के दौरान एक ऐसा नजारा दिखा जो दुनिया भर में सुर्खियां बन गया. इस मैच में दर्शक दीर्घा में खाली सीटों को भरने के लिए ‘सेक्स डॉल’ का इस्तेमाल किया गया.

Korea Football Club Punished For Having Sex Doll In Audience :

द गार्जियन की एक खबर के अनुसार, कोरोना वायरस के कारण स्टेडियम में दर्शकों के आने पर लगे प्रतिबंध के कारण एफसी सिओल के पिछले रविवार के मैच के दौरान दर्शक दीर्घा में सेक्स डॉल रखी गई थीं. इनको टीशर्ट पहनाई गई थी. इतना ही नहीं उनके हाथ में तख्तियां थी जिस पर ‘सेक्स-टॉय’ विक्रेता का लोगो भी लगा हुआ था.

इस घटना के बाद अधिकारियों की समिति ने क्लब पर रिकॉर्ड जुर्माना लगा दिया. उन पर 10 करोड़ वोन ( लगभग 81 हजार डॉलर) का जुर्माना लगाया गया है. भारतीय रुपये में यह राशि 62 लाख 17 हजार रुपये होगी. देश की शीर्ष लीग के अधिकारियों ने कहा कि इस फुटबॉल क्लब ने महिला प्रशंसकों को अपमानित किया है.

क्लब के इस कदम की कड़ी आलोचना हुई. सोशल मीडिया पर भी लोगों ने इसे आड़े हाथों लिया. यह और बात है क्लब की ओर से बाद में सफाई दी गई कि यह गलती सप्लायर की है क्योंकि उनसे पुतले मांगे गए थे और बदले में सेक्स डॉल की सप्लाई कर दी गई.

क्लब ने दुनिया भर में अपने फैंस से माफी भी मांगी है. कहा गया कि इस मुश्किल वक्त में हम माहौल को हल्का रखना चाहते थे, लेकिन जो कुछ भी हुआ वह अनजाने में हुआ है. हम इस बारे में गंभीरता से सोचेंगे कि जो हुआ ऐसा दोबारा न हो, इसके लिए हम माफी मांगते हैं.

क्लब के आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट्स पर भी इस बारे में पोस्ट किया गया है. क्‍लब ने इंस्‍टाग्राम और फेसबुक पर भी माफी मांगते हुए कहा कि लीग के 17वें मैच के दौरान हुई गलती के लिए हम फैंस से माफी मांगते हैं.

फिलहाल इस घटना की तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गई हैं. यूजर्स ने वहां भी क्लब की आलोचना की है. वहीं कई यूजर्स का यह भी मानना है कि क्लब की ओर से यह जानबूझकर नहीं किया है.

एक अन्य यूजर ने लिखा कि अब जबकि क्लब की ओर से माफी मांग ली गई है और उन पर भारी भरकम जुर्माना भी लगाया गया है तो इस घटना पर विराम लगा देना चाहिए, लेकिन ध्यान रहे कि आगे से ऐसा ना हो.

मालूम हो कि साउथ कोरिया की शीर्ष फुटबॉल चैंपिय‍नशिप शुरू हो चुकी है. यह पहले 29 फरवरी से शुरू होनी थी, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इसे टाल दिया गया था.

रविवार को एफसी सिओल ने अपने घरेलू मैदान पर ग्वांगजू के खिलाफ मुकाबला खेला और इसी मुकाबले के दौरान यह विवाद हो गया जब दर्शकों के स्‍टैंड में कुर्सियों पर सेक्‍स डॉल बैठी नजर आईं.

दक्षिण कोरिया में खाली स्टेडियम में हुए फुटबॉल मैच के दौरान एक ऐसा नजारा दिखा जो दुनिया भर में सुर्खियां बन गया. इस मैच में दर्शक दीर्घा में खाली सीटों को भरने के लिए 'सेक्स डॉल' का इस्तेमाल किया गया. द गार्जियन की एक खबर के अनुसार, कोरोना वायरस के कारण स्टेडियम में दर्शकों के आने पर लगे प्रतिबंध के कारण एफसी सिओल के पिछले रविवार के मैच के दौरान दर्शक दीर्घा में सेक्स डॉल रखी गई थीं. इनको टीशर्ट पहनाई गई थी. इतना ही नहीं उनके हाथ में तख्तियां थी जिस पर 'सेक्स-टॉय' विक्रेता का लोगो भी लगा हुआ था. इस घटना के बाद अधिकारियों की समिति ने क्लब पर रिकॉर्ड जुर्माना लगा दिया. उन पर 10 करोड़ वोन ( लगभग 81 हजार डॉलर) का जुर्माना लगाया गया है. भारतीय रुपये में यह राशि 62 लाख 17 हजार रुपये होगी. देश की शीर्ष लीग के अधिकारियों ने कहा कि इस फुटबॉल क्लब ने महिला प्रशंसकों को अपमानित किया है. क्लब के इस कदम की कड़ी आलोचना हुई. सोशल मीडिया पर भी लोगों ने इसे आड़े हाथों लिया. यह और बात है क्लब की ओर से बाद में सफाई दी गई कि यह गलती सप्लायर की है क्योंकि उनसे पुतले मांगे गए थे और बदले में सेक्स डॉल की सप्लाई कर दी गई. क्लब ने दुनिया भर में अपने फैंस से माफी भी मांगी है. कहा गया कि इस मुश्किल वक्त में हम माहौल को हल्का रखना चाहते थे, लेकिन जो कुछ भी हुआ वह अनजाने में हुआ है. हम इस बारे में गंभीरता से सोचेंगे कि जो हुआ ऐसा दोबारा न हो, इसके लिए हम माफी मांगते हैं. क्लब के आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट्स पर भी इस बारे में पोस्ट किया गया है. क्‍लब ने इंस्‍टाग्राम और फेसबुक पर भी माफी मांगते हुए कहा कि लीग के 17वें मैच के दौरान हुई गलती के लिए हम फैंस से माफी मांगते हैं. फिलहाल इस घटना की तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गई हैं. यूजर्स ने वहां भी क्लब की आलोचना की है. वहीं कई यूजर्स का यह भी मानना है कि क्लब की ओर से यह जानबूझकर नहीं किया है. एक अन्य यूजर ने लिखा कि अब जबकि क्लब की ओर से माफी मांग ली गई है और उन पर भारी भरकम जुर्माना भी लगाया गया है तो इस घटना पर विराम लगा देना चाहिए, लेकिन ध्यान रहे कि आगे से ऐसा ना हो. मालूम हो कि साउथ कोरिया की शीर्ष फुटबॉल चैंपिय‍नशिप शुरू हो चुकी है. यह पहले 29 फरवरी से शुरू होनी थी, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इसे टाल दिया गया था. रविवार को एफसी सिओल ने अपने घरेलू मैदान पर ग्वांगजू के खिलाफ मुकाबला खेला और इसी मुकाबले के दौरान यह विवाद हो गया जब दर्शकों के स्‍टैंड में कुर्सियों पर सेक्‍स डॉल बैठी नजर आईं.