Janmashtami 2019: न लगा पाएं 56 भोग तो जन्माष्टमी के दिन श्री कृष्ण को लगाएं इस एक चीज का भोग

Janmashtami 2019: न लगा पाएं 56 भोग तो जन्माष्टमी के दिन श्री कृष्ण को लगाएं इस एक चीज का भोग
Janmashtami 2019: न लगा पाएं 56 भोग तो जन्माष्टमी के दिन श्री कृष्ण को लगाएं इस एक चीज का भोग

नई दिल्ली। आज पूरे देशभर में श्री कृष्ण जन्मााष्टमी (Krishna Janmashtami) की धूम देखने को मिल रही है। इस मौके पर लोग भगवान श्रीकृष्ण के भजन सुनते हैं झाकियां सजाते हैं और कई तरह के पकवानों का भोग लगाते है। जन्माष्टमी के दिन श्री कृष्ण को 56 भोग लगाने की मान्यता है, लेकिन आज की व्यस्त जिंदगी में एक साथ 56 तरह के व्यंजन तैयार करना बेहद मुश्किल होता है। ऐसे में लोग इस चीज को लेकर दुविधा में रहते हैं कि जन्माष्टमी के दिन श्रीकृष्ण‍ को भोग में क्या लगाया जाये कि वह प्रसन्न भी हो जाएं और आपको 56 भोग न बना पाने का मलाल भी न हो। ऐसे में आपको बता दें कि अगर जन्माष्टमी के दिन श्रद्धापूर्वक श्रीकृष्ण को माखन मिश्री का भोग चढ़ाया जाए तो भक्तों की हर मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं।
https://hindi.pardaphash.com/shri-krishna-janmashtami-2019-decorate-the-house-on-janmashtami/
श्रीकृष्ण को इसलिए लगाते हैं माखन मिश्री का भोग

Krishna Janmashtami 2019 Why Do We Offer Chappan Bhog To Lord Krishna :

मान्यता है कि नटखट बाल-गोपाल को मक्खन बेहद पसंद था। माखन उन्हें इतना पसंद था कि वो अपने साथी ग्वालों के साथ मिलकर मक्खन चुराया करते थे और इसीलिए उन्हें ‘माखन चोर’ भी कहा जाता है। बताया जाता है कि मैया यशोदा खुद अपने हाथों से कान्हा के लिए माखन मिश्री बनाती थी और उन्हे खिलाती थीं।

ऐसे बनाएं माखन मिश्री का भोग

  • सबसे पहले ढूध को अच्छी तरह उबाल कर हल्का गुनगुना कर लें।
  • अब दूध में एक चम्मच दही को अच्छी तरह घोल कर मिला लें।
  • अब ढूध को किसी गर्म जगह रख कर ऊपर से प्लेट से ढक कर 6 घंटे तक जमने रख दें।
  • जब दही जम जाए तो उसको दो घंटे के लिए फ्रिज में रख दें।
  • अब दही एक मिक्सर जार में डाल कर एक गिलास ठंडे पानी या बर्फ के टुकड़े डालकर फेंटे। उसमें से मट्ठा और माखन अलग-अलग हो जाएगा।
  • अब मक्खएन को एक गिलास पानी डालकर धो लें।
  • अब मक्खएन में तुलसी के पत्ते और मिश्री डाल लें।
  • माखन-मिश्री का भोग तैयार है।
  • अब भगवान को माखन मिश्री का भोग लगाएं।
नई दिल्ली। आज पूरे देशभर में श्री कृष्ण जन्मााष्टमी (Krishna Janmashtami) की धूम देखने को मिल रही है। इस मौके पर लोग भगवान श्रीकृष्ण के भजन सुनते हैं झाकियां सजाते हैं और कई तरह के पकवानों का भोग लगाते है। जन्माष्टमी के दिन श्री कृष्ण को 56 भोग लगाने की मान्यता है, लेकिन आज की व्यस्त जिंदगी में एक साथ 56 तरह के व्यंजन तैयार करना बेहद मुश्किल होता है। ऐसे में लोग इस चीज को लेकर दुविधा में रहते हैं कि जन्माष्टमी के दिन श्रीकृष्ण‍ को भोग में क्या लगाया जाये कि वह प्रसन्न भी हो जाएं और आपको 56 भोग न बना पाने का मलाल भी न हो। ऐसे में आपको बता दें कि अगर जन्माष्टमी के दिन श्रद्धापूर्वक श्रीकृष्ण को माखन मिश्री का भोग चढ़ाया जाए तो भक्तों की हर मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं। https://hindi.pardaphash.com/shri-krishna-janmashtami-2019-decorate-the-house-on-janmashtami/ श्रीकृष्ण को इसलिए लगाते हैं माखन मिश्री का भोग मान्यता है कि नटखट बाल-गोपाल को मक्खन बेहद पसंद था। माखन उन्हें इतना पसंद था कि वो अपने साथी ग्वालों के साथ मिलकर मक्खन चुराया करते थे और इसीलिए उन्हें 'माखन चोर' भी कहा जाता है। बताया जाता है कि मैया यशोदा खुद अपने हाथों से कान्हा के लिए माखन मिश्री बनाती थी और उन्हे खिलाती थीं। ऐसे बनाएं माखन मिश्री का भोग
  • सबसे पहले ढूध को अच्छी तरह उबाल कर हल्का गुनगुना कर लें।
  • अब दूध में एक चम्मच दही को अच्छी तरह घोल कर मिला लें।
  • अब ढूध को किसी गर्म जगह रख कर ऊपर से प्लेट से ढक कर 6 घंटे तक जमने रख दें।
  • जब दही जम जाए तो उसको दो घंटे के लिए फ्रिज में रख दें।
  • अब दही एक मिक्सर जार में डाल कर एक गिलास ठंडे पानी या बर्फ के टुकड़े डालकर फेंटे। उसमें से मट्ठा और माखन अलग-अलग हो जाएगा।
  • अब मक्खएन को एक गिलास पानी डालकर धो लें।
  • अब मक्खएन में तुलसी के पत्ते और मिश्री डाल लें।
  • माखन-मिश्री का भोग तैयार है।
  • अब भगवान को माखन मिश्री का भोग लगाएं।