घर लौट रहे जवान ने ओवरटेक कर दी गाड़ी तो डीएम ने अपने गनर से पिटवाया

कुशीनगर: भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक तरफ जहां जवानों के घर जाकर एक दीप जलाकर उनका मनोबल बढाने का आग्रह कर रहे है वही दूसरी तरफ कुशीनगर के डीएम शम्भू कुमार ने पडरौना के सुभाष चौक पर सेना के एक जवान को गाड़ी ओवरटेक करने के आरोप में अपने गनर व ड्राइवर से जवान को पिटवायाई जबकि सेना के जवान ने डीएम के गाड़ी के पास जाकर उनसे अपना पूरा परिचय देते हुए कहा कि मै सेना का जवान हूं और अवकाश पर आज ही घर जा रहा हूँ I डीएम कुशीनगर ने इस जवान की बातों को अनसुना करते हुए पडरौना कोतवाली की पुलिस बुलाकर उसको थाने भेजवा दियाI कोतवाली जाने पर पुलिस ने जवान के गाड़ी का चालान करके उससे जबरिया 200 रूपया जुर्माना जमा करने के बाद पुलिस हिरासत से छोड़ाई डीएम के इस करतूत से क्षेत्र में चारो तरफ निंदा हो रही हैI




लांसनायक कृष्णमुरारी यादव सिंग्नल रेजिमेंट भोपाल मध्य प्रदेश से एक सप्ताह की अवकास पर अपने घर शिवराजपुर थाना कुबेरस्थान आ रहा थाई सेना का जवान पडरौना कस्बे में बस से उतर कर अपने भांजे के मोटरसाइकिल से अपने घर जा रहा था कि सुभाष चौक पर भीड़-भाड़ के कारण उसकी मोटर साइकिल डीएम कुशीनगर की गाड़ी से थोड़ी आगे बढ़ गईI जिस पर डीएम कुशीनगर शम्भू कुमार नाराज हो गए और उन्होंने अपने गनर और ड्राइवर को भेज कर गाड़ी चला रहे जवान के भांजे को डंडे से पिटवाना शुरू कर दिया जिसपर जवान ने अपना परिचय देते हुए इसका प्रतिरोध किया तो डीएम के गनर ने जवान को भी थप्पड़ मारने लगाई

इसके बावजूद सेना का जवान डीएम के गाड़ी के पास गया और अपना परिचय उनसे भी दिया और गलती की क्षमा भी माँगा लेकिन डीएम का मन इससे भी नहीं भरा तो उन्होंने पडरौना कोतवाली पुलिस को बुलाकर जवान को पुलिस हिरासत में कोतवाली भेजवा दियाI वह कोतवाली पुलिस ने जवान के मोटरसाइकिल का चालान करते हुए 200 रुपये जमा करने बाद उसे पुलिस हिरासत से छोड़ा गयाI




इस घटना से दुखी लांसनायक के पिता भूतपूर्व सैनिक रामाधार यादव का कहना है कि एक तरफ जहां देश के प्रधानमंत्री सैनिको का उत्साह बढ़ा रहे है वही डीएम साहब का यह कृत्य काफी निंदनीय हैI वही पूर्व सैनिक एवं अध्यक्ष राष्ट्रीय पूर्व सैनिक समन्वय समिति कुशीनगर ने डीएम के इस कृत्य की निंदा करते हुए कहा कि एक तरफ जहां जवान अपनी खून-पसीना बहाकर देश का सुरक्षा करता है वही इन्होने सेना के जवान का सम्मान करने के बजाय उसका अपमान किया हैI वही एक समाजसेवी विजय दीक्षित ने भी इसकी घोर निंदा की हैI वही सैनिक की माँ इस घटना से काफी दुखी है और उनका कहना है कि मेरा एक ही लड़का है जिसको मैंने देश की सुरक्षा के लिए सेना में भेजा है लेकिन मुझे दुःख है कि डीएम साहब ने इस तरह का कृत्य किया हैI