लड़की को अगवा करने की सूचना पर मचा हड़कंप, पुलिस जांच में जुटी

Ladki Ko Agwa Karne Ki Suchna Par Macha Hadkamp

बिजनौर: ग्राम नींदडू में स्थित गन्ना पावर कोल्हू पर काम करने वाले परिवार की 12 वर्षीय बेटी को बदमाश के अगवा कर ले जाने की सूचना पर पुलिस में हड़कंप मच गया। पुलिस ने अगवा किशोरी की बरामदगी के लिए कांबिंग की। पुलिस को राहत तब मिली, जब बालिका सवेरे करीब चार बजे जंगल की ओर से रोती-बिलखती आती मिली। बालिका ने बताया कि रात में एक बदमाश उसे सोते समय उठाकर ले गया था। जंगल में ले जाकर उसने पीटा, जिससें बालिका के गुम चोट आई है। पुलिस मामले को संदिग्ध बता रही है।




स्योहारा थाने के गांव फैजुल्लापुर निवासी कैलाश सिंह ने बताया कि वह नींदडू में पावर गन्ना कोल्हू पर परिवार के साथ मजदूरी करता है। परिजन सोए हुए थे तो करीब एक बजे कोई बदमाश उसकी पुत्री को उठाकर ले गया। इसका पता चलते ही उन्होंने 100 नंबर पर फोन कर दिया। कुछ देर के बाद पुलिस पहुंची और जंगलं में कांबिग की। काफी देर तक कोई सफलता नहीं मिली।




तड़के करीब चार बजे बालिका जंगल की ओर से रोते हुए आई। बालिका ने बताया कि वह उसे जंगल में ले जाने वाले को नहीं पहचानती। उसने जंगल में लेकर जाकर उसकी मुक्कों से पिटाई की थी। उसको काफी गुम चोट है। उधर कोतवाल प्रेमवीर राणा का कहना है कि जांच में परिजनं के आरोप निराधार पाए गए हैं। वह कोल्हू मालिक से अपना अब तक का पैसा मांग रहा, जबकि वह काम पूरा करके जाने की बात कह रहा है। बकौल कोतवाल, पावर स्वामी पर दबाव बनाने के लिए परिजनों ने पुत्री के अगवा होने का नाटक रचा। इस मामले मं बालिका पक्ष के कई लोगं को पुलिस ने थाने में बैठाए भी रखा। इ्न्हें बाद म में छोड़ दिया गया।

बिजनौर से शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

बिजनौर: ग्राम नींदडू में स्थित गन्ना पावर कोल्हू पर काम करने वाले परिवार की 12 वर्षीय बेटी को बदमाश के अगवा कर ले जाने की सूचना पर पुलिस में हड़कंप मच गया। पुलिस ने अगवा किशोरी की बरामदगी के लिए कांबिंग की। पुलिस को राहत तब मिली, जब बालिका सवेरे करीब चार बजे जंगल की ओर से रोती-बिलखती आती मिली। बालिका ने बताया कि रात में एक बदमाश उसे सोते समय उठाकर ले गया था। जंगल में ले जाकर उसने…