प्रधानमंत्री और सीएम ​नीतीश के बीच ‘लैला—मजनू का प्यार’ : असदउद्दीन ओवैसी

asaduddin Owaisi
प्रधानमंत्री और सीएम ​नीतीश के बीच 'लैला—मजनू का प्यार' : असदउद्दीन ओवैसी

पटना। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर एआइएमआइएम प्रमुख असदउद्दीन ओवैसी ने तंज कसा। उन्होंने कहा कि पीएम और बिहार के सीएम के बीच ‘लैला—मजनू का प्यार’ है। इसके साथ ही कहा कि इसमें कौन ‘लैला’ है और कौन ‘मंजनू’ यह मत पूछिए। ओवैसी ​शनिवार को बिहार के किशनगंज स्थित पोठिया, ठाकुरगंज और बहादुरगंज में चुनावी सभाओं को संबोधित करने के दौरान यह बातें कहीं।

Laila Majnus Love Between Prime Minister And Cm Nitish Asaduddin Owaisi :

असदउद्दीन ओवैसी अक्सर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला करते हैं। शनिवार वह बिहार में चुनावी जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री और बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी और नीतीश कुमार की आशिकी बड़ी मजबूत है।

इन दिनों दोनों के बीच लैला—मजनू से भी ज्यादा मोहब्बत है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इसमें लैला कौन है और मजनू कौन है, ये आप खुद तय कीजिए। जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि इनकी लव स्टोरी लिखी जायेगी तो उसमें संप्रदायों के बीच नफरत फैलाने की कहानी भी लिखी जायेगी।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ओवैसी ने कहा कि प्रधानमंत्री झूठे वादे करके जनता को गुमराह कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने नोट बंदी करके गरीबों को बर्बाद कर दिया। इसके साथ ही व्यापारी इसको लेकर परेशान हैं। कांग्रेस पर सीधे हमला करते हुए ओवैसी ने कहा कि जब तीन तलाक बिल लोकसभा पेश किया जा रहा था, उस वक्त स्थानीय सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी को कांग्रेस ने बोलने तक नहीं दिया था, जिसे मौलाना ने स्वयं खुले मंच से स्वीकार किया था।

ओवैसी ने कहा कि लंबे समय से मुस्लमानों को वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया गया है। लेकिन मुसलमानों के पिछड़ेपन व बदहाली दूर नहीं किया। तीन तलाक के मुद्दे पर कांग्रेस के 45 सांसद रहने के बावजूद उन्होंने संसद मे मोदी का साथ दिया।

पटना। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर एआइएमआइएम प्रमुख असदउद्दीन ओवैसी ने तंज कसा। उन्होंने कहा कि पीएम और बिहार के सीएम के बीच 'लैला—मजनू का प्यार' है। इसके साथ ही कहा कि इसमें कौन 'लैला' है और कौन 'मंजनू' यह मत पूछिए। ओवैसी ​शनिवार को बिहार के किशनगंज स्थित पोठिया, ठाकुरगंज और बहादुरगंज में चुनावी सभाओं को संबोधित करने के दौरान यह बातें कहीं।

असदउद्दीन ओवैसी अक्सर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला करते हैं। शनिवार वह बिहार में चुनावी जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री और बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी और नीतीश कुमार की आशिकी बड़ी मजबूत है।

इन दिनों दोनों के बीच लैला—मजनू से भी ज्यादा मोहब्बत है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इसमें लैला कौन है और मजनू कौन है, ये आप खुद तय कीजिए। जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि इनकी लव स्टोरी लिखी जायेगी तो उसमें संप्रदायों के बीच नफरत फैलाने की कहानी भी लिखी जायेगी।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ओवैसी ने कहा कि प्रधानमंत्री झूठे वादे करके जनता को गुमराह कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने नोट बंदी करके गरीबों को बर्बाद कर दिया। इसके साथ ही व्यापारी इसको लेकर परेशान हैं। कांग्रेस पर सीधे हमला करते हुए ओवैसी ने कहा कि जब तीन तलाक बिल लोकसभा पेश किया जा रहा था, उस वक्त स्थानीय सांसद मौलाना असरारुल हक कासमी को कांग्रेस ने बोलने तक नहीं दिया था, जिसे मौलाना ने स्वयं खुले मंच से स्वीकार किया था।

ओवैसी ने कहा कि लंबे समय से मुस्लमानों को वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया गया है। लेकिन मुसलमानों के पिछड़ेपन व बदहाली दूर नहीं किया। तीन तलाक के मुद्दे पर कांग्रेस के 45 सांसद रहने के बावजूद उन्होंने संसद मे मोदी का साथ दिया।