1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Lakhimpur Kheri Violence : प्रियंका को हिरासत में लेने में फूला UP Police का दम, कहा- अपने अफसरों-मंत्रियों से जाकर लाओ वारंट

Lakhimpur Kheri Violence : प्रियंका को हिरासत में लेने में फूला UP Police का दम, कहा- अपने अफसरों-मंत्रियों से जाकर लाओ वारंट

Lakhimpur Kheri Violence : लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में किसानों की हत्या के बाद वहां जाकर किसान परिवारों को सांत्वना देने जाने की कोशिश कर रहीं प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में ले लिया गया है। प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) को हिरासत में लेने के लिए यूपी पुलिस का दम फूल गया। राजधानी लखनऊ में चप्पे-चप्पे पर नाकाबंदी, हर रास्ते पर बड़े-बड़े अधिकारियों की तैनाती की गई है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। Lakhimpur Kheri Violence : लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में किसानों की हत्या के बाद वहां जाकर किसान परिवारों को सांत्वना देने जाने की कोशिश कर रहीं प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में ले लिया गया है। प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) को हिरासत में लेने के लिए यूपी पुलिस का दम फूल गया। राजधानी लखनऊ में चप्पे-चप्पे पर नाकाबंदी, हर रास्ते पर बड़े-बड़े अधिकारियों की तैनाती की गई है। इसके बाद भी प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) लखनऊ पुलिस प्रशासन (Lucknow Police Administration) को चकमा देते हुए आगे बढ़ती रहीं है। जैसे ही प्रशासन को पता चलता कि प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने रास्ता बदल दिया है, अधिकारियों के हांथ-पांव फूल जाते। उन्हें हिरासत में लेने के लिए यूपी पुलिस (UP Police)  को रातभर मशक्कत करनी पड़ी है।

पढ़ें :- पेड़ से लटके मिले युवक-युवती के शव, हत्या या आत्महत्या?

उनके साथ काफी धक्का-मुक्की हुई है। प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra)  का आरोप है कि उन्हें घसीटा व धकेला भी गया। इस बीच उनकी पुलिस के अधिकारियों के साथ तीखी बहस भी हुई, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। इसमें प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi ) यूपी पुलिस (UP Police) के अधिकारियों को कानून का पाठ सिखाते हुए दिख रही हैं। प्रियंका के सवालों और गुस्से के आगे यूपी पुलिस के अधिकारी चुप्पी साधे हुए हैं।

प्रियंका गांधी बोली-ये लीगल स्टेटस है तुम्हारा? 

एक वीडियो में प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) , यूपी पुलिस के कुछ अधिकारियों के साथ बहस करते हुए दिखाई दे रही हैं। वह कहती हैं- ‘इसमें बिठा कर मुझे तुम मेरा अपहरण करोगे, ये है लीगल स्टेटस तुम्हारा। मत समझो कि मैं कुछ नहीं समझती….अरेस्ट करो खुशी से जाउंगी मैं। ये जो जबरजस्ती घेर रहे हो, ढकेल रहे हो न… इसमें फिजिकल असॉल्ट, अटेम्प्ट टू किडनैप, किडनैप, अटेम्प्ट टू मोलेस्ट…..समझते हो न। छू कर देखो मुझे, जाकर अपने अफसरों से अपने मंत्रियों से वारंट लाओ। महिलाओं को आगे मत करो, महिलाओं से बात करना सीखो। तुम्हारे यहां कानून नहीं होगा……इस देश में कानून है। तुम मुझे घसीट कर ढकेल कर यहां लाए हो। कोई हक नहीं है तुम्हे, कोई हक नहीं है।

प्रियंका गांधी वाड्रा बोलीं-मैं उन लोगों से ज्यादा इम्पोर्टेंट नहीं हूं

पढ़ें :- Lucknow : पुलिस कमिश्नरेट लखनऊ में बेहतर लॉ एंड आर्डर सुनिश्चित करने के लिए बढ़े दो नए थाने

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) का एक और वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में पुलिस की कुछ महिला अधिकारी दिखाई दे रही हैं। प्रियंका गांधी के साथ उनकी तीखी बहस हो रही है। वीडियो में प्रियंका कहती हुई दिख रही हैं-‘ ये धाराएं सब पर लगेंगी, सबके नाम के साथ लगेंगी। मैं उन लोगों से इम्पोर्टेंट नहीं हूं, जिन लोगों को तुमने मारा है…समझे। किस सरकार को तुम डिफाइन कर रही हो। जिनको गाड़ी के नीचे कुचला है, मैं उनसे बड़ी नहीं हूं। मुझे वारंट दो। मुझे लीगल वारंट दो। यहां से मैं ऐसे नहीं हिलूंगी।

भाजपा सरकार किसानों को कुचलने और किसानों को खत्म करने की कर रही है राजनीति 

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने ट्वीट कर कहा कि भाजपा सरकार किसानों को कुचलने और किसानों को खत्म करने की राजनीति कर रही है।

पढ़ें :- 5-5 लाख के इनामी दो सपा नेता गिरफ्तार, UP पुलिस रिमांड पर लेने के लिए कोलकाता हुई रवाना

पुलिस से भिड़े कांग्रेस कार्यकर्ता  

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Congress General Secretary Priyanka Gandhi) को हरगांव इलाके से पकड़े जाने के बाद पीएसी की द्वितीय वाहिनी में लाकर रखा गया है। इसकी सूचना पाकर मौके पर पहुंचे कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने गेट के बाहर धरने पर बैठ कर प्रदर्शन किया। काफी देर तक धरने पर बैठे रहने के बाद कांग्रेस (Congress) कार्यकर्ताओं ने अब हंगामा शुरू कर दिया है। आरोप है कि कार्यकर्ताओं ने बाहर लगे गेट को तोड़ने का प्रयास किया, जिस पर पुलिस से तीखी नोंकझोंक हुई। इस को लेकर मामला तूल पकड़ गया। कांग्रेस के कार्यकर्ता प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को रिहा करने को लेकर पुलिस से भिड़ गए। धक्का-मुक्की की। कार्यकर्ता पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। फिलहाल मामले को शांत करने का प्रयास किया जा रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...