1. हिन्दी समाचार
  2. लखनऊ: बंथरा में पत्रकार समेत आधा दर्जन घरों में लाखों की चोरी, पुलिस गश्त की खुली पोल

लखनऊ: बंथरा में पत्रकार समेत आधा दर्जन घरों में लाखों की चोरी, पुलिस गश्त की खुली पोल

Lakhs Stolen In Half A Dozen Houses Including Journalist Open Patrol Of Police

लखनऊ। सूबे की राजधानी लखनऊ में बेखौफ चोरों के हौसले बुलंद हैं। बीती रात लखनऊ पुलिस को चुनौती देते हुए चोरों ने बंथरा थाना क्षेत्र में एक साथ आधा दर्जन घरों को अपना निशाना बनाया। चोरों ने बंथरा इलाके के दादूपुर में पत्रकार समेत छह घरों को अपना निशाना बनाया और पुलिस की रात्रि गश्त की पोल खोल दी। चोर यहां से अलमारी और संदूकों के ताले तोड़कर लाखों रुपए कीमत के गहने और नगदी उठा ले गए और पुलिस को भनक तक नहीं लग सकी।

पढ़ें :- सराहनीय:निराश्रित जच्चा-बच्चा को बचा लिया मैक्स सिटी हॉस्पिटल नौतनवा

मंगलवार सुबह जानकारी होने पर पीड़ितों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने काफी देर तक घटनास्थल की छानबीन की। वहीं डाग स्क्वायड के अलावा फिंगरप्रिंट विशेषज्ञों को भी बुलाया गया, लेकिन चोरों का कोई सुराग नहीं लग सका। फिलहाल पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर चोरों का सुराग लगा रही है। चोरों का पता लगाने के लिए पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है। वहीं फिंगरप्रिंट विशेषज्ञों ने उंगलियों के निशान के नमूने भी लिए हैं।

बंथरा के दादूपुर गांव में एक साथ छह घरों में चोरों द्वारा घटना अंजाम देने से ग्रामीणों में हड़कंप मच गया है। वहीं चोरों ने इलाके के ही जुनाबगंज स्थित मेडिकल स्टोर व कॉस्मेटिक दुकान को भी खंगाल डाला। बंथरा के दादूपुर गांव निवासी पूर्व लेखपाल नरेंद्र सिंह के घर पिछली दीवार के सहारे छत पर पहुंचे चोरों ने आंगन में पड़ी लोहे की जाल से साड़ी के सहारे नीचे उतर कर एक कमरे का ताला तोड़ा और पूरा कमरा खंगाल डाला।

बताते हैं कि लेखपाल और उनके परिवार के लोग बगल वाले कमरे में सो रहे थे। तभी चोरों ने कमरे के अंदर रखी संदूक व अलमारी तोड़कर करीब पांच लाख रुपए कीमत के गहने और 4 हजार रुपये की नगदी साफ कर दी। इसी तरह यहीं पर रहने वाले पत्रकार बलराम सिंह चौहान के घर को चोरों ने अपना निशाना बनाया। यहां पत्रकार का पूरा परिवार नीचे कमरों में सो रहा था। तभी चोरों ने दूसरी मंजिल पर बने कमरे का ताला तोडने के बाद पूरे कमरे को इत्मीनान से खंगाला। यहां कमरे के अंदर रखें संदूक और अलमारी के ताले तोडने के बाद चोरों ने सारा सामान इधर।

उधर कर दिया और करीब 12 हजार रुपये की नकदी व लगभग 1 लाख रुपए कीमत के गहने बटोर ले गए। यहां के निवासी व राजधानी स्थित काल्विन तालुकेदार कॉलेज के प्रिंसिपल दिनेश सिंह शहर में ही रहते हैं। उनके दो बेटे बाहर रहकर नौकरी करते हैं। जबकि गांव स्थित मकान में केवल उनकी पत्नी ही अकेले रहती है। बताते हैं कि इनके मकान में भी छत के रास्ते पहुंचे चोर आंगन में साड़ी के सहारे नीचे उतरे और जिस कमरे में दिनेश सिंह की पत्नी सो रही थी उसके बगल वाले कमरे का ताला तोड़ डाला। बाद में कमरे के अंदर अलमारी और संदूक के ताले तोड़कर करीब 50 हजार रुपए की नकदी व 2 लाख रुपए कीमत के गहने उठा ले गए।

पढ़ें :- गणतंत्र दिवस:सोनौली चौकी प्रभारी सहित दो पुलिसकर्मी हुए सम्मानित

यही नहीं चोरों ने यहां एक ही परिवार के तीन भाइयों के मकानों को भी अपना निशाना बनाया। बताया जाता है कि उन्नाव जिले के प्राइमरी स्कूल में तैनात अध्यापक अजय भान के घर में भी कमरे के अंदर रखें संदूक व अलमारी के ताले तोड़कर 11 हजार रुपये की नकदी और लगभग 80 हजार रुपए कीमत के गहने साफ कर दिए। चोरों ने अध्यापक अजय भान के भाई विजय भान और चंद्रभान के घर को भी नहीं ब शा। चोरों ने यहाँ विजय भान के मकान के अंदर कमरे का ताला तोडने के बाद पूरा कमरा खंगालाए लेकिन जब कुछ नहीं मिला तो वहां टंगी पैंट की जेब से ढाई सौ रुपए उठा ले गए।

जबकि चोरों ने अध्यापक अजय भान के भाई चंद्रभान के घर में एक कमरे का ताला तोडने के बाद वहां रखा संदूक खंगाल डाला। लेकिन उसमें उनके मतलब का कुछ सामान नहीं मिला। जिसके बाद चोरों ने संदूक को उठाकर मकान के पीछे फेंक दिया और फरार हो गए। इतना ही नहीं चोरों ने इसी रात दादूपुर गांव के ही रहने वाले योगेंद्र सिंह की इलाके के ही जुनाबगंज स्थित साईं मेडिकल स्टोर नामक दवा व कॉस्मेटिक दुकान में भी चोरी की घटना अंजाम दे डाली। यहां बगल की दीवार में नकब लगाकर चोर दुकान के अंदर रखी 45 हजार रुपये की नगदी और करीब 30 हजार रुपए कीमत का कॉस्मेटिक सामान उठा ले गए।

एक ही रात एक साथ इतनी जगह पर हुई चोरी से पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया। मंगलवार सुबह जानकारी होने पर ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने काफी देर तक घटनास्थल का निरीक्षण किया, लेकिन उन्हें कोई सुराग नहीं मिल सका। इस दौरान डाग स्क्वायड और फिंगर प्रिंट विशेषज्ञों को भी मौके पर बुलाया गया।

हालाकि फिंगरप्रिंट विशेषज्ञों ने कई स्थानों से संदिग्ध उंगलियों के निशान के नमूने लिए हैं। वहीं चोरों का पता लगाने के लिए पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है। पुलिस का कहना है कि चोरों का पता लगाने के लिए पुलिस की टीमें गठित की गई है और जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

पढ़ें :- रेलयात्रियों को अब नहीं उठाना पड़ेगा सामान, रेलवे घर से स्टेशन और स्टेशन से घर तक पहुंचाएगा लगेज

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...