आज है ‘जय जवान जय किसान’ नारा देने वाले लाल बहादुर शास्त्री की 53वीं पुण्यतिथि

आज है 'जय जवान जय किसान' नारा देने वाले लाल बहादुर शास्त्री की 53वीं पुण्यतिथि
आज है 'जय जवान जय किसान' नारा देने वाले लाल बहादुर शास्त्री की 53वीं पुण्यतिथि

नई दिल्ली। आज देश के दूसरे प्रधानमन्त्री लाल बहादुर शास्त्री की 53वीं पुण्यतिथि है। लाल बहादुर शास्त्री गांधीवादी नेता थे, उन्होंने अपना पूरा जीवन गरीबों की सेवा में समर्पित कर दिया था। महात्मा गांधी के असहयोग आंदोलन में हिस्सा लेने के चलते उन्हें कुछ समय के लिए जेल भी जाना पड़ा था। जय जवान, जय किसान का नारा देने वाले लाल बहादुर शास्त्री की पुण्यतिथि के मौके पर आज हम आपको उनके कुछ अनमोल और प्रेरक विचारों के बारें में बताने जा रहे हैं।

Lal Bahadur Shashtri Quotes :

लाल बहादुर शास्त्री के अनमोल विचार

  • जय जवान जय किसान
  • हमारी ताकत और मजबूती के लिए सबसे जरुरी काम है लोगो में एकता स्थापित करना।
  • आजादी की रक्षा सिर्फ हमारे देश के सैनिको का काम नही है इसकी रक्षा के लिए पूरे देश को मजबूत होना पड़ेगा
    जैसा मै दिखता हूं उतना साधारण भी नही हूं।
  • लोगों को सच्चा स्वराज या लोकतंत्र कभी भी असत्य और अहिंसा के बल से प्राप्त नही हो सकता है।
  • मेरे समझ से प्रशासन का मूल विचार यह होना चाहिए की समाज को एकजुट रखा जाए ताकि वह विकास कर सके अपने लक्ष्यों को पूरा कर सके।
  • जब स्वतंत्रता और देश की अखंडता खतरे में हो तो पूरी शक्ति से उस चुनौती का मुकाबला करना एकमात्र कर्तव्य होता है और इसके लिए किसी भी प्रकार के बलिदान के लिए भी एक साथ मिलकर तैयार रहना होगा।
  • हमारे देश का रास्ता सीधा और स्पष्ट है अपने देश में सबके लिए स्वतंत्रता और संपन्नता के साथ लोकतंत्र की स्थापना और अन्य सभी देशो के साथ मित्रता के सम्बन्ध स्थापित करना है।
  • हम सभी को अपने क्षेत्र में उसी समर्पण और उत्साह के साथ कार्य करना होगा जो रणभूमि में एक योद्धा को अपने कर्तव्य के प्रति प्रेरित और उत्साहित करती है और यह सिर्फ बोलना नही बल्कि करके दिखाना है।
  • भले ही हम आजादी चाहते है लेकिन इसके लिए किसी का शोषण नही करेगे और ना ही किसी दुसरे देश को नीचा दिखा सकते है मै तो कुछ इस तरह आजादी चाहता हु की लोग इससे सीख ले और देश के संसाधन मानवता के कल्याण के उपयोग हो।
  • यदि हम लगातार लड़ते रहेगे तो हमारी ही जनता को लगातार भारी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा, हमे लड़ने के बजाय गरीबी, बीमारी और अशिक्षा से लड़ना चाहिए।
  • हमारी ताकत और स्थिरता के लिए सबसे जो जरुरी काम है वह लोगो में एकता और एकजुटता स्थापित करना है।
नई दिल्ली। आज देश के दूसरे प्रधानमन्त्री लाल बहादुर शास्त्री की 53वीं पुण्यतिथि है। लाल बहादुर शास्त्री गांधीवादी नेता थे, उन्होंने अपना पूरा जीवन गरीबों की सेवा में समर्पित कर दिया था। महात्मा गांधी के असहयोग आंदोलन में हिस्सा लेने के चलते उन्हें कुछ समय के लिए जेल भी जाना पड़ा था। जय जवान, जय किसान का नारा देने वाले लाल बहादुर शास्त्री की पुण्यतिथि के मौके पर आज हम आपको उनके कुछ अनमोल और प्रेरक विचारों के बारें में बताने जा रहे हैं। लाल बहादुर शास्त्री के अनमोल विचार
  • जय जवान जय किसान
  • हमारी ताकत और मजबूती के लिए सबसे जरुरी काम है लोगो में एकता स्थापित करना।
  • आजादी की रक्षा सिर्फ हमारे देश के सैनिको का काम नही है इसकी रक्षा के लिए पूरे देश को मजबूत होना पड़ेगा जैसा मै दिखता हूं उतना साधारण भी नही हूं।
  • लोगों को सच्चा स्वराज या लोकतंत्र कभी भी असत्य और अहिंसा के बल से प्राप्त नही हो सकता है।
  • मेरे समझ से प्रशासन का मूल विचार यह होना चाहिए की समाज को एकजुट रखा जाए ताकि वह विकास कर सके अपने लक्ष्यों को पूरा कर सके।
  • जब स्वतंत्रता और देश की अखंडता खतरे में हो तो पूरी शक्ति से उस चुनौती का मुकाबला करना एकमात्र कर्तव्य होता है और इसके लिए किसी भी प्रकार के बलिदान के लिए भी एक साथ मिलकर तैयार रहना होगा।
  • हमारे देश का रास्ता सीधा और स्पष्ट है अपने देश में सबके लिए स्वतंत्रता और संपन्नता के साथ लोकतंत्र की स्थापना और अन्य सभी देशो के साथ मित्रता के सम्बन्ध स्थापित करना है।
  • हम सभी को अपने क्षेत्र में उसी समर्पण और उत्साह के साथ कार्य करना होगा जो रणभूमि में एक योद्धा को अपने कर्तव्य के प्रति प्रेरित और उत्साहित करती है और यह सिर्फ बोलना नही बल्कि करके दिखाना है।
  • भले ही हम आजादी चाहते है लेकिन इसके लिए किसी का शोषण नही करेगे और ना ही किसी दुसरे देश को नीचा दिखा सकते है मै तो कुछ इस तरह आजादी चाहता हु की लोग इससे सीख ले और देश के संसाधन मानवता के कल्याण के उपयोग हो।
  • यदि हम लगातार लड़ते रहेगे तो हमारी ही जनता को लगातार भारी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा, हमे लड़ने के बजाय गरीबी, बीमारी और अशिक्षा से लड़ना चाहिए।
  • हमारी ताकत और स्थिरता के लिए सबसे जो जरुरी काम है वह लोगो में एकता और एकजुटता स्थापित करना है।