1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Lalitpur Rape Case : प्रभारी निरीक्षक निलम्बित,3 अभियुक्त गिरफ्तार, डीआईजी झांसी करेंगे मामले की जांच

Lalitpur Rape Case : प्रभारी निरीक्षक निलम्बित,3 अभियुक्त गिरफ्तार, डीआईजी झांसी करेंगे मामले की जांच

Lalitpur Rape Case: यूपी (UP) के ललितपुर​ जिले (Lalitpur District) में एक नाबालिग से रेप मामले में बुधवार को पुलिस प्रशासन (Police Administration) ने बड़ा ऐक्शन लिया है। आरोपी उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) के प्रभारी निरीक्षक (Inspector in Charge) को निलम्बित कर दिया गया है। जबकि इस मामले में अब तक 3 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि यह मामला 22 अप्रैल का है, जब एक नाबालिग लड़की अपने साथ हुए रेप की शिकायत करने थाने पहुंची थी। उस समय मौजूद थाना इंचार्ज पर नाबालिग ने आरोप लगाया है कि थाना इंचार्ज ने कार्रवाई करने की जगह उसके साथ रेप कर दिया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Lalitpur Rape Case: यूपी (UP) के ललितपुर​ जिले (Lalitpur District) में एक नाबालिग से रेप मामले में बुधवार को पुलिस प्रशासन (Police Administration) ने बड़ा ऐक्शन लिया है। आरोपी उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) के प्रभारी निरीक्षक (Inspector in Charge) को निलम्बित कर दिया गया है। जबकि इस मामले में अब तक 3 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि यह मामला 22 अप्रैल का है, जब एक नाबालिग लड़की अपने साथ हुए रेप की शिकायत करने थाने पहुंची थी। उस समय मौजूद थाना इंचार्ज पर नाबालिग ने आरोप लगाया है कि थाना इंचार्ज ने कार्रवाई करने की जगह उसके साथ रेप कर दिया है।

पढ़ें :- बेसिक शिक्षा विभाग ने निपुण भारत मिशन प्रचार-प्रसार के लिये जारी किये  आवश्यक निर्देश 

यूपी पुलिस (UP Police) ने ट्वीट कर कहा कि ललितपुर में किशोरी के साथ दुष्कर्म की घटना में अभियोग पंजीकृत कर आरोपी प्रभारी निरीक्षक को निलम्बित किया जा चुका है। साथ ही इस घटना में नामज़द 3 अभियुक्त गिरफ़्तार किये जा चुके हैं। इसके साथ ही डीआईजी झांसी (DIG Jhansi) को सम्पूर्ण प्रकरण की जांच कर अग्रिम वैधानिक कार्रवाई सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया गया है।

पढ़ें :- उप्र माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद की पूर्व मध्यमा से उत्तर मध्यमा स्तर तक की परीक्षाओं का कैलेण्डर जारी

जानें क्या है मामला?

नाबालिग लड़की का आरोप है कि चार लोगों ने उसका अपहरण कर, उसके साथ गैंगरेप किया। इसके बाद जब वह तीन दिन बाद पाली थाने पहुंची तो लड़की को पुलिस ने उसके रिश्तेदार को सौंप दिया । थाने पर दोबारा वापस आने पर नाबालिग के साथ पूछ-ताछ के बहाने रेप किया गया। बाद में नाबालिग को मौसी के साथ चाइल्ड लाइन भेज दिया गया। जहां पर काउंसलिंग के दौरान उसने थाने में रेप की बात बताई। चाइल्ड लाइन टीम (Child Line Team) ने जब पुलिस अधीक्षक से शिकायत की, तब जाकर मामला सामने आया। इसके बाद थाना प्रभारी सहित छह लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

इस मामले पर एसपी ललितपुर निखिल पाठक (SP Lalitpur Nikhil Pathak) ने बताया कि नाबालिग ने 22 अप्रैल को चार लड़कों पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था। जब उसे थाने लाया गया तो एसएचओ (SHO)  ने उसके साथ भी दुष्कर्म किया, एसएचओ (SHO) समेत छह आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। एक आरोपी पकड़ा गया है जबकि थाना प्रभारी को निलंबित किया गया है

अखिलेश जा रहे हैं पाली

इस बीच ललितपुर रेप मामले (Lalitpur Rape Case)  को लेकर सियासत भी गर्म हो चुकी है। समाजावदी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव (Samajwadi Party chief Akhilesh Yadav) बुधवार को पीड़िता से मिलने पाली जा रहे हैं। ऐसे में देखना यह है कि अखिलेश यादव को पीड़िता से मुलाकात करने की अनुमति मिलती है या नहीं। अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि न्याय के लिए को ही लोगों के दरवाज़े तक नहीं पहुंचना होता है। कभी-कभी न्याय की पुकार के लिए भी लोगों के दरवाज़े तक जाना होता है।

पढ़ें :- राहुल गांधी ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा गारंटी के लिए की ये मांग

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...