1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Lalitpur Rape Case : योगी सरकार का बड़ा एक्शन, 29 पुलिसकर्मियों को किया लाइन हाजिर

Lalitpur Rape Case : योगी सरकार का बड़ा एक्शन, 29 पुलिसकर्मियों को किया लाइन हाजिर

Lalitpur Rape Case : यूपी ललितपुर जिले के पाली थाने के सरकारी क्वार्टर में रेप पीड़िता के साथ थाना प्रभारी द्वारा दुष्कर्म किए जाने के बाद सूबे की सियासत तेज हो गई थी। तो वहीं इस मामले में योगी सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पाली थाने के 6 एसआई, 6 हेड कॉन्स्टेबल, 10 आरक्षी, 5 महिला आरक्षी, एक ड्राइवर और एक फॉलोवर समेत 29 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर कर दिया है। बता दें कि इससे पहले आरोपी एसएचओ को ही निलंबित कर दिया गया था।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Lalitpur Rape Case : यूपी ललितपुर जिले के पाली थाने के सरकारी क्वार्टर में रेप पीड़िता के साथ थाना प्रभारी द्वारा दुष्कर्म किए जाने के बाद सूबे की सियासत तेज हो गई थी। तो वहीं इस मामले में योगी सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पाली थाने के 6 एसआई, 6 हेड कॉन्स्टेबल, 10 आरक्षी, 5 महिला आरक्षी, एक ड्राइवर और एक फॉलोवर समेत 29 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर कर दिया है। बता दें कि इससे पहले आरोपी एसएचओ को ही निलंबित कर दिया गया था।

पढ़ें :- नौतनवा:ब्लाक प्रमुख ने आरसीसी सड़क के लिए किया भूमि पूजन

इस मामले में कानपुर जोन के एडीजी भानु भास्कर ने बताया कि पाली थाने के सभी पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है। वहीं इस मामले में डीआईजी झांसी जोगेंद्र कुमार को जांच सौंपी गई है, जो 24 घंटे के अंदर जांच रिपोर्ट देंगे। पाली थाने के जो स्टाफ लाइन हाजिर किए गए हैं उनमें 6 एसआई, 6 हेड कांस्टेबल, 10 आरक्षी, 5 महिला आरक्षी, 1 चालक और 1 फालोवर शामिल हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने बताया कि किशोरी से रेप मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं।

फरार चल रहा है एसएचओ, तीन पुलिस टीमें गठित

इधर, मुकदमा दर्ज होने की खबर मिलते ही आरोपी थानाध्यक्ष तिलकधारी सरोज फरार हो गया है। जिसकी तलाश में डीआईजी जोगेंद्र कुमार ने तीन पुलिस टीमें गठित की हैं। आरोपी दरोगा की तलाश में सर्विलांस टीम भी लगी है। उसकी तलाश में प्रयागराज के गंगापार इलाके में देर रात दबिश दी गई। परिवार के लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। डीआईजी ने बताया कि आरोपी दरोगा की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। उधर मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए डीआईजी जोगेंद्र कुमार ललितपुर में कैंप कर रहे हैं।

सभी आरोपियों पर केस दर्ज

पढ़ें :- BBC Documentary Controversy: दिल्ली से लेकर मुंबई तक बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर हंगामा

सभी आरोपियों पर नाबालिग के साथ सामूहिक रेप, पोस्को एक्ट, SC /ST एक्ट सहित सुसंगत धाराओं में मुकद्दमा दर्ज कर पाली थाना इंचार्ज को सस्पेंड कर दिया गया था। पुलिस अधीक्षक निखिल पाठक बताया कि पाली थाना क्षेत्र अंतर्गत रहने वाली एक 13 वर्षीय किशोरी को उसके ही गांव में रहने वाले 4 लड़के 22 अप्रैल को बहला फुसलाकर भोपाल ले गये, जहां जाकर उसके साथ तीन दिनों तक सामूहिक रेप की घटना को अंजाम दिया गया।

सपा और कांग्रेस का योगी सरकार पर बड़ा अटैक

इस मामले में सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा कि यूपी की बेटियों को वर्दी वालों गुंडों से बचाओ। चंदौली की घटना अभी शांत भी नहीं हुई थी कि अब ललितपुर में एक दरोगा के ऊपर आरोप लग रहा है कि 13 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म किया, सोचिए अगर उत्तर प्रदेश में रक्षक ही भक्षक बन जाएंगे तो बेटियों को न्याय कहां से मिलेगा?’

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता सुरेंद्र राजपूत ने ललितपुर घटना पर कहा कि अगर रक्षक ही भक्षक पर उतर आए, तो महिला सुरक्षा का क्या होगा? 13 साल की बच्ची के साथ पुलिस बलात्कार कर रही है क्या ऐसे लोगों को सत्ता का संरक्षण है, सरकार जवाब दे।

पढ़ें :- Hindenburg Research Report से शेयर बाजार में मचा तहलका, अडानी ग्रुप में जानें कितना लगा है सरकारी पैसा, सकते में LIC और बड़े बैंक
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...