लालू इस पैंतरे से नीतीश बाबू को दे सकते हैं तगड़ा झटका

नीतीश को लेकर लालू प्रसाद यादव आज प्रेस कांफ्रेंस में करेंगे खुलासा

पटना। सत्ताहीन होने के बावजूद आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के आत्मविश्वास में कोई कमी नहीं आई हैं। वह लगातार नीतीश कुमार, भाजपा और आरएसएस पर जुबानी तौर पर हमलावर है तो दूसरी ओर बड़ी शांति के साथ जदयू और एनडीए के नाराज नेताओं पर नजरें जमाए हुए हैं।

लालू प्रसाद यादव ने नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली जदयू में सेंधमारी करने के लिए शरद यादव और एनडीए को कमजोर करने के लिए दलित नेता और हम विधायक जीतन राम मांझी को आरजेडी गठबंधन के साथ आने की सार्वजनिक अपील की है। लालू ने यह दांव उस वक्त चला है जब शरद यादव और नीतीश कुमार के बीच नाराजगी की खबरें हवा में हैं। कहा जा रहा है कि शरद यादव को नीतीश कुमार का फैसला नागवार गुजरा है, इसके अलावा पार्टी के कुछ मुस्लिम नेताओं को भी नीतीश कुमार का भाजपा से समझौता करना रास नहीं आया है।

{ यह भी पढ़ें:- तेजस्वी ने उड़ाया नितीश और सुशील का मज़ाक, बताया- दुर्योधन-दु:शासन की जोड़ी }

लालू ने शनिवार को कहा, ‘मैंने शरद यादव से फोन पर बात की है। मैं उनसे अपील करता हूं कि आइये और देश के हर कोने में जाकर इस लड़ाई की कमान अपने हाथों में लें।’ इसके अलावा लालू ने सोशल मीडिया पर भी शरद यादव से साथ आने की अपील की। लालू ने इसे लेकर ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘गरीब, वंचित और किसान को संकट/आपदा से निकालने के लिये हम नया आंदोलन खड़ा करेंगे। शरद भाई, आइये सभी मिलकर दक्षिणपंथी तानाशाही को नेस्तनाबूद करें।’ एक दूसरे ट्वीट में लालू ने लिखा, ‘हमने और शरद यादव जी ने साथ लाठी खाई है, संघर्ष किया है। आज देश को फिर संघर्ष की जरूरत है। शोषित और उत्पीड़ित वर्गों के लिए हमें लड़ना होगा।’

{ यह भी पढ़ें:- लालू की सुरक्षा में कटौती से बौखलाये तेज प्रताप, बोले- नरेंद्र मोदी की खाल उधड़वा देंगे }

Loading...