लालू के बेटों से भी गरीब हैं बिहार के सीएम

पटना: बिहार में सत्तारूढ़ नीतीश कुमार सरकार हर वर्ष 1 जनवरी को अपनी संपत्ति का खुलासा करती है। इसमें सभी कैबिनेट मंत्रियों को भी अपनी संपत्ति के बारे में बताना होता है। इस साल फिर बिहार सरकार के मुख्यमंत्री और उनके मंत्रिमंडल के सभी मंत्रियों ने अपनी संपत्तियों का खुलासा किया है। जिसमें यह खुलासा हुआ है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने बेटे निशांत और राजद प्रमुख लालू यादव के दोनों बेटों से ‘गरीब’ हैं।




बिहार के मुख्यमंत्री के पास कुल 56 लाख रुपये की चल-अचल संपत्ति है। इसमें दिल्ली में 1000 वर्गफुट में बना एक फ्लैट है, जिसकी वर्तमान कीमत 40 लाख रुपये है। इसके अतिरिक्त वह 10 गायों और पांच बछड़ों के भी मालिक हैं। दूसरी तरफ उनके एकमात्र बेटे निशांत के पास एक करोड़ 11 लाख रुपये की चल-अचल संपत्ति है। नीतीश कुमार के तीन बैंक खातों में लगभग 78 हजार रुपये जमा हैं और वह दो कार- एक इको स्पोर्ट्स और एक हुंडई की आई-10 के मालिक हैं। मुख्यमंत्री के नाम पर न तो कहीं खेतिहर जमीन है और न ही पटना में उनके नाम पर कोई आवासीय भूखंड है।

उधर, राजद प्रमुख के बेटे व राज्य के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव अपने बड़े भाई तेजप्रताप से ‘गरीब’ हैं। तेजस्वी के पास करीब डेढ़ करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्ति है, जबकि तेजप्रताप के पास उनसे दोगुना करीब तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति है। तेजप्रताप गाड़ियों के भी शौकीन हैं, जबकि तेजस्वी के पास कोई वाहन नहीं है। तेज प्रताप के पास एक बीएमडब्लयू कार और 15 लाख रुपये की कीमत की एक मोटरसाइकिल भी है।




उल्लेखनीय है कि पिछले कई सालों से साल की शुरुआत में बिहार के मुख्यमंत्री और उनके सभी मंत्री अपनी संपत्ति की घोषणा करते आ रहे हैं। इसकी शुरुआत 2010 में हुई थी, जब नीतीश कुमार दूसरी बार मुख्यमंत्री बने थे। मंत्रियों की संपत्ति का ब्यौरा राज्य सरकार की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। इसे कोई भी व्यक्ति देख सकता है।