तेज प्रताप की शादी के लिए लालू यादव को मिला 5 दिन का पैरोल

नई दिल्ली। चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद को अपने बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की शादी में शामिल होने के पांच दिन की पैरोल मिल गई है। उन्हें पटना ले जाने की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। पटना में लालू के बेटे की शादी 12 मई को निर्धारित है।

Lalu Prasad Yadav Granted Parole Of Five Days For Son Tej Pratap Yadavs Wedding :

लालू फिलहाल झारखंड की राजधानी रांची में स्थित रिम्स (अस्पताल) में अपना इलाज करा रहे हैं। राजद के राष्ट्रीय महासचिव और लालू के करीबी भोला यादव ने मंगलवार को बताया था कि 10 से 14 मई को पार्टी प्रमुख की पैरोल के लिए सोमवार को पुलिस महानिरीक्षक जेल को आवेदन दिया था। वहीं, मंगलवार की देर रात मेडिकल बोर्ड ने भी यात्रा के लिए लालू को फिट बताया।

बता दें कि पिछले हफ्ते लालू यादव ने अस्थायी जमानत के लिए झारखंड हाई कोर्ट के समक्ष भी आवेदन दिया था, लेकिन वकीलों की हड़ताल के कारण न्यायिक कार्य स्थगित होने की वजह से इस पर सुनवाई नहीं हो सकी। इसके बाद लालू ने पुलिस महानिरीक्षक जेल के समक्ष इस संबंध में अपना आवेदन किया। लालू यादव को तीन जगहों के चारा घोटाले के मामले में दोषी पाया गया था। इसमें दुमका, देवघर और चाईबासा कोषागार शामिल थे।

लालू को रांची की बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में रखा गया था। वहां उन्होंने सेहत से संबंधित परेशानियां बताई थीं। इसके बाद उन्हें इलाज के लिए दिल्ली के एम्स भी लाया गया था। हालांकि, बाद में उन्हें फिट घोषित करके डिस्चार्ज कर दिया गया था। इसे लालू ने केंद्र सरकार की साजिश बताया था।

नई दिल्ली। चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद को अपने बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की शादी में शामिल होने के पांच दिन की पैरोल मिल गई है। उन्हें पटना ले जाने की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। पटना में लालू के बेटे की शादी 12 मई को निर्धारित है। लालू फिलहाल झारखंड की राजधानी रांची में स्थित रिम्स (अस्पताल) में अपना इलाज करा रहे हैं। राजद के राष्ट्रीय महासचिव और लालू के करीबी भोला यादव ने मंगलवार को बताया था कि 10 से 14 मई को पार्टी प्रमुख की पैरोल के लिए सोमवार को पुलिस महानिरीक्षक जेल को आवेदन दिया था। वहीं, मंगलवार की देर रात मेडिकल बोर्ड ने भी यात्रा के लिए लालू को फिट बताया। बता दें कि पिछले हफ्ते लालू यादव ने अस्थायी जमानत के लिए झारखंड हाई कोर्ट के समक्ष भी आवेदन दिया था, लेकिन वकीलों की हड़ताल के कारण न्यायिक कार्य स्थगित होने की वजह से इस पर सुनवाई नहीं हो सकी। इसके बाद लालू ने पुलिस महानिरीक्षक जेल के समक्ष इस संबंध में अपना आवेदन किया। लालू यादव को तीन जगहों के चारा घोटाले के मामले में दोषी पाया गया था। इसमें दुमका, देवघर और चाईबासा कोषागार शामिल थे। लालू को रांची की बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में रखा गया था। वहां उन्होंने सेहत से संबंधित परेशानियां बताई थीं। इसके बाद उन्हें इलाज के लिए दिल्ली के एम्स भी लाया गया था। हालांकि, बाद में उन्हें फिट घोषित करके डिस्चार्ज कर दिया गया था। इसे लालू ने केंद्र सरकार की साजिश बताया था।