एक टीचर्स-डे ऐसा भी, राजधानी में दौड़ा-दौड़ा कर पीटे गए शिक्षक

लखनऊ। शिक्षक दिवस के पावन पर्व पर जहां पूरा देश गुरुजनों का आशीर्वाद प्राप्त कर धूमधाम से टीचर्स-डे मना रहा है वहीं राजधानी लखनऊ में शिक्षकों को लाठी-डंडों से नवाजा गया। दरअसल मंगलवार को राजधानी लखनऊ में अपनी मांगों को लेकर कुछ शिक्षक विधानसभा का घेराव कर रहे थे जिसके बाद प्रशासन ने उन्हें भागने के लिए लाठीचार्ज कर दी जिसमे कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए वही एक महिला बेहोश भी हो गयी।

दरअसल शिक्षा प्रेरक संघ के सैकड़ों शिक्षक तीन साल से वेतन ना मिलने से नाराज थे। सभी लोग विधानसभा का घेराव करने जा रहे थे, जिसके बाद पुलिस ने लोगों पर लाठीचार्ज किया। लाठीचार्ज के दौरान प्रदर्शन करने वाले कई शिक्षक घायल हो गए, वहीं एक महिला भी बेहोश हो गईं।

{ यह भी पढ़ें:- ब्लड कैंसर पीड़िता से तीन नहीं छह लोगों ने किया था गैंगरेप, मंत्री ने इंस्पेक्टर को लगाई फटकार }

बता दें कि आदर्श प्रेरक शिक्षकों को दो हजार रुपये मानदेय दिया जाता है, लेकिन उन्हें पिछले चालीस महीने से मानदेय नहीं दिया गया। गांव में सरकार की योजनओं को जन-जन तक फैलाने के लिए इन प्रेरक शिक्षकों को संविदा पर नियुक्त किया जाता है।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी में IPS अधिकारियों के कार्यक्षेत्र में कटौती, ये है नया फरमान }

Loading...