1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. लॉरेंस बिश्नोई गैंग ने ली गैंगस्टर सुक्खा की हत्या की ज़िम्मेदारी, Facebook पर लिखा- एक-एक को अपने कर्मों की सजा मिलेगी

लॉरेंस बिश्नोई गैंग ने ली गैंगस्टर सुक्खा की हत्या की ज़िम्मेदारी, Facebook पर लिखा- एक-एक को अपने कर्मों की सजा मिलेगी

Murder of Gangster Sukha Duneke: कनाडा के विनिपेग में पंजाब के गैंगस्टर सुखदूल सिंह उर्फ सुक्खा दुनेके (Sukha Duneke) की हत्या की ज़िम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई गैंग (Lawrence Bishnoi Gang) ने ली है। अज्ञान हमलावरों ने सुक्खू दुनेके की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। दुनेके को हमलावरों ने करीब 20 गोलियां मारी थीं और उसने मौके पर ही ने दम तोड़ दिया था। इस हत्याकांड को लेकर लॉरेंस बिश्नोई गैंग ने फेसबुक पोस्ट के करके ज़िम्मेदारी ली है। 

By Abhimanyu 
Updated Date

Murder of Gangster Sukha Duneke: कनाडा के विनिपेग में पंजाब के गैंगस्टर सुखदूल सिंह उर्फ सुक्खा दुनेके (Sukha Duneke) की हत्या की ज़िम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई गैंग (Lawrence Bishnoi Gang) ने ली है। अज्ञान हमलावरों ने सुक्खू दुनेके की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। दुनेके को हमलावरों ने करीब 20 गोलियां मारी थीं और उसने मौके पर ही ने दम तोड़ दिया था। इस हत्याकांड को लेकर लॉरेंस बिश्नोई गैंग ने फेसबुक पोस्ट के करके ज़िम्मेदारी ली है।

पढ़ें :- Breaking News -भारत सरकार का बड़ा फैसला, कनाडा के लिए वीजा सेवाओं को अनिश्चितकाल तक किया सस्पेंड

लॉरेंस गैंग ने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा, ‘हांजी सत श्री अकाल, राम राम सारेयां नूं. ये सुक्खा दुनेके, जो बंबीहा ग्रुप का इंचार्ज बना फिरता था, उसका मर्डर हुआ है कनाडा के विनिपेग सिटी में। उसकी जिम्मेदारी लारेंस बिश्नोई ग्रुप लेता है। इस हेरोइन एडिक्टेड नशेड़ी ने सिर्फ पैसों के लिए बहुत से घर उजाड़े थे। हमारे भाई गुरलाल बराड़, विक्की मिड्डूखेड़ा के मर्डर में इसका हाथ था। संदीप नंगल अंबिया का मर्डर भी इसने करवाया था। इसे इसके पापों की सजा मिल गई।’

पोस्ट में आगे लिखा, ‘बस एक ही बात कहनी है, जो दुक्कियां-तिक्कियां अभी रह गई हैं, जहां मर्जी भाग लो, दुनिया में किसी भी देश में चले जाओ, ये न सोचो हमारे साथ दुश्मनी लेकर बच जाओगे, टाइम जरूर कम-ज्यादा लग सकता है, लेकिन एक-एक को अपने कर्मों की सजा मिलेगी।’

Lawrence Bishnoi Gang.jpg

बता दें कि सुक्खा दुनुके ने पंजाब से भागकर कनाडा में पनाह ली थी। कनाडा पहुंचा सुक्खा अपने गुर्गों के जरिए भारत में रंगदारी या उगाही का काम भी करता था। उसने कनाडा भागने के लिए 2017 में जाली दस्तावेजों के आधार पर पासपोर्ट और पुलिस क्लीयरेंस प्रमाणपत्र प्राप्त किया। लेकिन सुक्खा के खिलाफ सात आपराधिक मामले दर्ज थे। पुलिस वालों से मिलीभगत करके उसने कनाडा का वीजा हासिल कर लिया था। इस मामले में पंजाब पुलिस के 2 कर्मियों पर उसकी मदद करने का आरोप लगाने के बाद में उन्हें मोगा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया।

पढ़ें :- भारत के खिलाफ साज़िशों का गढ़ बना कनाडा! ISI के साथ आतंकी पन्नू ने की सीक्रेट मीटिंग

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...