1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी के शाहजहांपुर जिले के कोर्ट परिसर में वकील की गोली मारकर हत्या,पुलिस छानबीन में जुटी

यूपी के शाहजहांपुर जिले के कोर्ट परिसर में वकील की गोली मारकर हत्या,पुलिस छानबीन में जुटी

यूपी ( UP) के शाहजहांपुर जिले (Shahjahanpur district) के कोर्ट परिसर (court premises)  में सोमवार को दंबगों ने एक वकील की गोली मारकर हत्या कर दी है। इस घटना के बाद कोर्ट परिसर (court premises)  के बाद हड़कंप मच गया है। पुलिस ने पूरे कोर्ट परिसर (court premises) को छावनी में तब्दील कर दिया है। वकील का शव कोर्ट की तीसरी मंजिल पर मिला है। इसके साथ ही शव के पास से देसी पिस्टल भी मिली है। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

शाहजहांपुर। यूपी ( UP) के शाहजहांपुर जिले (Shahjahanpur district) के कोर्ट परिसर (court premises)  में सोमवार को दंबगों ने एक वकील की गोली मारकर हत्या कर दी है। इस घटना के बाद कोर्ट परिसर (court premises)  के बाद हड़कंप मच गया है। पुलिस ने पूरे कोर्ट परिसर (court premises) को छावनी में तब्दील कर दिया है। वकील का शव कोर्ट की तीसरी मंजिल पर मिला है। इसके साथ ही शव के पास से देसी पिस्टल भी मिली है। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है।

पढ़ें :- Corona New Variant: कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर विशेष सतर्कता, देश में अभी नहीं मिला ओमिक्रॉन संक्रमित

घटना की सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल के साथ डीएम-एसपी भी मौके पर पहुंच गए हैं। उधर, घटना से आक्रोशित वकीलों ने चौराहे पर जाम लगा दिया है। वकीलों को समझाने के लिए एसएसपी, एसपी सिटी सहित कई आला अधिकारी पहुंचे हैं। मिली जानकारी के अनुसार शाहजहांपुर (Shahjahanpur ) के ईदगाह मोहल्ले के रहने वाले अधिवक्ता भूपेंद्र प्रताप सिंह (Advocate Bhupendra Pratap Singh) ( उम्र 36 वर्ष) ने दो साल पहले ही कचहरी में वकालत शुरू की थी। इससे पहले यह टीचिंंग करते थे। सोमवार को भूपेंद्र सिंह की लाश अदालत की तीसरी मंजिल पर मिली। बताया जा रहा है अधिवक्ता भूपेंद्र प्रताप सिंह (Advocate Bhupendra Pratap Singh ) तीसरी मंजिल पर रिकार्ड रूम में कागज चेक करने गए थे। यहां पर ज्यादा लोगों की आवा-जाही नहीं रहती है। दोपहर करीब सवा 12 बजे हमलावरों ने भूपेंद्र पर तमंचे से गोली मारी दी और फरार हो गए। उन्‍हें पीछे से गोली मारी गई है।

बताते हैं कि अधिवक्ता भूपेंद्र प्रताप सिंह (Advocate Bhupendra Pratap Singh ) पर भी 18 मुकदमे पंजीकृत थे। कचहरी परिसर (court premises)  में गोली चलने से हड़कंप मच गया। तमाम वकील मौके पर दौड़कर मौके पहुंच गए। अधिवक्ता भूपेंद्र प्रताप सिंह (Advocate Bhupendra Pratap Singh )  खून से लथपथ गैलरी में पड़े थे। उनकी सांसें थम चुकी थीं। शव से कुछ दूरी पर 315 बोर का तमंचा पड़ा था। पुलिस ने तुरंंत ही कचहरी के गेटों की नाकाबंदी कराकर चेकिंग कराई, पर नतीजा शून्य रहा। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम (post mortem) के लिए भेज दिया है। डीएम इंद्र विक्रम सिंह (DM Inder Vikram Singh) और एसपी एस आनंद (SP S Anand) भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने घटना के बारे में जानकारी ली। वकीलों से पूछताछ भी की। एसपी ने घटना के जल्‍द खुलासे का दावा करते हुए कई टीमों का गठन किया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...