1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. लेहड़ा देवी: सीएम योगी आदित्यनाथ ने 14 परियोजनाओं का शिलान्‍यास व लोकापर्ण किया

लेहड़ा देवी: सीएम योगी आदित्यनाथ ने 14 परियोजनाओं का शिलान्‍यास व लोकापर्ण किया

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

महराजगंज:मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महराजगंज में लेहड़ा देवी का दर्शन किया। यहां पर उन्‍होंने 14 परियोजनाओं का शिलान्‍यास व लोकापर्ण किया। इस अवसर पर उन्‍होंने कहा कि विकास के लिए यूपी सरकार कृत संकल्पित है। बिना भेदभाव के समाज के अंतिम व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंच रहा है। आजादी के बाद इस देश में  एक निशान, एक प्रधान और एक विधान की परिकल्पना की गई थी। 70 वर्षों तक जो कार्य नहीं हो पाया था , उसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर दिखाया है। कश्मीर से धारा 370 को समाप्त कर देश को एक सूत्र में बांधने का कार्य हुआ है।

तेजी से हुआ है महराजगंज का विकास

उन्हाेंने कहा कि तीन तलाक की कुप्रथा से मुस्लिम महिलाओं को मुक्त करके उनके जीवन में भी खुशहाली लाने का कार्य हुआ है। अब कोई भी व्यक्ति सोशल मीडिया या मोबाइल फोन के माध्यम से तलाक दे करके महिलाओं का उत्पीड़न नहीं कर पाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि महराजगंज जिला तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है । पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर विकास योजना के अंतर्गत भी यहां के तीन नगर पंचायतों को लिया गया है। अब फरेंदा, सोनौली और घुघली नपं क्षेत्र में विकास की प्रक्रिया और तेज होगी। इसके पहले मुख्यमंत्री ने यहां आयोजित कार्यक्रम में 17.73 करोड़ रुपये की 14 परियोजनाओ का शिलान्यास व लोकार्पण किया।

कार्यक्रम में यह रहे मौजूद

इस अवसर पर विधायक बजरंग बहादुर सिंह, ज्ञानेंद्र सिंह, जयमंगल कन्नौजिया, प्रेमसागर पटेल, अमन मणि त्रिपाठी, जिलापंचायत अध्यक्ष प्रभुदयाल चौहान, भाजपा जिलाध्यक्ष अरूण शुक्ल सहित पुलिस व प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

इन परियोजनाओ का हुआ लोकार्पण व शिलान्यास

इनका हुआ लोकार्पण

मधवलिया गोसदन में निर्मित आश्रय स्थल, अहमदपुर हड़हवा में बने गो-संरक्षण केंद्र।

इनका हुआ शिलान्यास

2.12 करोड़ से होगा तरकुलहा देवी मंदिर का जीर्णोद्धार
लेहड़ा देवी का दर्शन करने के बाद सीएम योगी गोरखपुर के तरकुलहा मंदिर पहुंचे। यहां उन्‍होंने कहा कि  1857 की क्रांति के महानायक बंधु सिंह ने देश को अंग्रेजों से मुक्त कराने का प्रण किया। उनको अंग्रेजों ने गिरफ्तार किया और जब फांसी देने लगे तो मां के प्रताप से उनको फांसी लगी ही नही। उन्होंने खुद मां से अपनी फांसी लगाने की मांग की तब जाकर वह शहीद हुए। उन्‍होंने कहा कि 2.12 करोड़ रुपये खर्च कर तहरकुलहा देवी मंदिर का जीर्णोद्धार होगा। इसके अलावा यहां कई और सुविधाएं दी जाएंगी। साल 2021 और 2022 चौरीचौरा कांड का शताब्दी वर्ष है इसलिये यहां भव्य आयोजन होना चाहिए। 2021 में एम्स अपनी पूरी क्षमता के साथ काम करना शुरू करेगा। फर्टिलाइजर भी शीघ्र शुरू होगा। पिपराइच चीनी मिल को से 50 हजार कुंतल चीनी बनेगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...