तेज बारिश के बीच गिरी आकाशीय बिजली, 23 की मौत, एक दर्जन से ज्यादा लोग झुलसे

Lightning
तेज बारिश के बीच गिरी आकाशीय बिजली, 23 की मौत, एक दर्जन से ज्यादा लोग झुलसे

पटना। बिहार के कई जिलों में तेज बारिश और आकाशीय बिजली काल बनकर गिरी। गुरुवार को आकाशीय बिजली गिरने से 23 लोगों की मौत हो गयी। जिसमें गोपालगंज में 13, मधुबनी, पूर्वी चंपारण, बेतिया, पश्चिमी चंपारण में 2-2 लोगों की, पूर्णिया और बांका में 1-1 की मौत हुई है। वहीं दर्जनों लोगों के झुलसने की भी खबर है। मौसम विभाग ने पहले ही आज और कल के लिए भारी से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

Lightning Falls Amidst Heavy Rain 23 Killed Scorched More Than A Dozen People :

मौसम विभाग द्वारा जारी अलर्ट के अनुसार गुरुवार को अररिया और किशनगंज जिले को रेड जोन में रखा है। पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, गोपालगंज, सीवान सारण, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर, सुपौल, पूर्णिया, सहरसा और मधेपुरा को ऑरेंज जोन में रखा गया है। बता दें कि, गोपालगंज जिले में गुरुवार को सुबह से ही तेज बारिश हो रही है। बारिश के दौरान गिरी आ​काशीय बिजली ने 13 लोगों की जान ले ली। वज्रपात से उचकागांव में चार, मांझा में दो व विजयीपुर, कटेया एवं बरौली में एक-एक शख्स की मौत हो गई।

वज्रपात में जान गंवाने वाले अधिकतर लोग खेत में धान की रोपनी करने या बिचड़े उखाड़ने गए थे। बरौली व मांझा में वज्रपात से झुलसकर जख्मी हुए चार लोगों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। पुलिस ने सभी शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। मृतकों के परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। वहीं उत्तर बिहार में भी ठनका गिरने के 4 लोगों मौत हो गई है। पूर्वी चंपारण में वज्रपात से नाबालिग बच्ची सहित दो लोगों की मौत हुई है।

पश्चिमी चंपारण के शिकारपुर में विशुनपुरवा तथा मालदा दो भी दो लोगों की ठनका गिरने से मौत हो गई। बेतिया जिले के शिकारपुर थाना के भसुरारी पंचायत के दो अलग-अलग टोला में बिजली (ठनका) गिरने से दो लोगों की मौत हो गई। मधुबनी के घोघरडीहा में ठनका गिरने से पति-पत्नी की मौत की मौत हो गई।। घटना प्रखण्डक्षेत्र की बेलहा गांव की है। पति पत्नी दोनों खेत में दोनों काम करने के लिए गए थे।

पटना। बिहार के कई जिलों में तेज बारिश और आकाशीय बिजली काल बनकर गिरी। गुरुवार को आकाशीय बिजली गिरने से 23 लोगों की मौत हो गयी। जिसमें गोपालगंज में 13, मधुबनी, पूर्वी चंपारण, बेतिया, पश्चिमी चंपारण में 2-2 लोगों की, पूर्णिया और बांका में 1-1 की मौत हुई है। वहीं दर्जनों लोगों के झुलसने की भी खबर है। मौसम विभाग ने पहले ही आज और कल के लिए भारी से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग द्वारा जारी अलर्ट के अनुसार गुरुवार को अररिया और किशनगंज जिले को रेड जोन में रखा है। पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, गोपालगंज, सीवान सारण, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर, सुपौल, पूर्णिया, सहरसा और मधेपुरा को ऑरेंज जोन में रखा गया है। बता दें कि, गोपालगंज जिले में गुरुवार को सुबह से ही तेज बारिश हो रही है। बारिश के दौरान गिरी आ​काशीय बिजली ने 13 लोगों की जान ले ली। वज्रपात से उचकागांव में चार, मांझा में दो व विजयीपुर, कटेया एवं बरौली में एक-एक शख्स की मौत हो गई। वज्रपात में जान गंवाने वाले अधिकतर लोग खेत में धान की रोपनी करने या बिचड़े उखाड़ने गए थे। बरौली व मांझा में वज्रपात से झुलसकर जख्मी हुए चार लोगों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। पुलिस ने सभी शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। मृतकों के परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। वहीं उत्तर बिहार में भी ठनका गिरने के 4 लोगों मौत हो गई है। पूर्वी चंपारण में वज्रपात से नाबालिग बच्ची सहित दो लोगों की मौत हुई है। पश्चिमी चंपारण के शिकारपुर में विशुनपुरवा तथा मालदा दो भी दो लोगों की ठनका गिरने से मौत हो गई। बेतिया जिले के शिकारपुर थाना के भसुरारी पंचायत के दो अलग-अलग टोला में बिजली (ठनका) गिरने से दो लोगों की मौत हो गई। मधुबनी के घोघरडीहा में ठनका गिरने से पति-पत्नी की मौत की मौत हो गई।। घटना प्रखण्डक्षेत्र की बेलहा गांव की है। पति पत्नी दोनों खेत में दोनों काम करने के लिए गए थे।