1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. बाबा अमरनाथ की पवित्र गुफा के LIVE दर्शन आज से, जानें कैसे देखेंगे ऑनलाइन आरती?

बाबा अमरनाथ की पवित्र गुफा के LIVE दर्शन आज से, जानें कैसे देखेंगे ऑनलाइन आरती?

बाबा बर्फानी की श्री अमरनाथ यात्रा इस साल कोविड की वजह से रद्द कर दी गई है, लेकिन आप सोमवार 28 जून से बाबा बर्फानी की पूजा-आरती का लाइव प्रसारण देख सकते हैं। हर साल होने वाली अमरनाथ यात्रा इस साल केवल प्रतीकात्मक होगी, लेकिन गुफा के अंदर मंदिर में सभी पारंपरिक धार्मिक अनुष्ठान किए जाएंगे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। बाबा बर्फानी की श्री अमरनाथ यात्रा इस साल कोविड की वजह से रद्द कर दी गई है, लेकिन आप सोमवार 28 जून से बाबा बर्फानी की पूजा-आरती का लाइव प्रसारण देख सकते हैं। हर साल होने वाली अमरनाथ यात्रा इस साल केवल प्रतीकात्मक होगी, लेकिन गुफा के अंदर मंदिर में सभी पारंपरिक धार्मिक अनुष्ठान किए जाएंगे। इस साल अमरनाथ यात्रा 28 जून से 22 अगस्त तक होनी थी, लेकिन कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए सुरक्षा के मद्देनजर यात्रा रद्द कर दी गई है।

पढ़ें :- कोविड की निगेटिव रिपोर्ट दिखाने पर ही मिलेंगे मां वैष्णो देवी के दर्शन
Jai Ho India App Panchang

आरती का प्रसारण 28 जून से 22 अगस्त तक रोजाना होगा, सुबह 6 बजे और शाम 5 बजे आरती का प्रसारण होगा कि 30-30 मिनट का कार्यक्रम होगा। इसका प्रसारण श्राइन बोर्ड की वेबसाइट और विशेष रूप से भक्तों के लिए समर्पित ऐप पर लाइव-स्ट्रीम किया जाएगा। जिसका प्रसारण MH1 चैनल पर किया जाएगा। आरती बोर्ड के मोबाइल ऐप के माध्यम से भी देखी जा सकेगी, जिसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

संतों को कोरोना नियम का पालन करने की सलाह

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने अधिकारियों को व्यवस्था करने का निर्देश दिया ताकि भक्त गुफा मंदिर में सुबह और शाम की ‘आरती’ में भाग लें सकें। लाइव प्रसारण के जरिए ये आरती उन्हें कोरोना खतरे से दूर रहने में मदद करेगी। उन्होंने प्रथम पूजा और सम्पूर्ण पूजा जैसे महत्वपूर्ण और पवित्र दिनों में कोविड -19 प्रोटोकॉल का पालन करने की आवश्यकता पर भी बल दिया। उन्होंने आगे कहा कि आरती करने के लिए पवित्र गुफा में जाने वाले संतों को कोविड -19 नियमों का सख्ती से पालन करना होगा।

बता दें कि आरती को देखते हुए तीन लंगर लगाने की व्यवस्था भी हो चुकी है। एक लंगर बालटाल और दो लंगर पवित्र गुफा स्थल पर लगाए गए हैं। भले ही यात्रा नहीं हो रही है लेकिन दो महीने तक सिर्फ प्रशासनिक और पुलिस के अधिकारी ही सक्रिय नहीं रहेंगे बल्कि सुरक्षा बल भी तैनात रहेंगे। पवित्र गुफा में 56 दिन तक पूजा अर्चना होनी है।

पढ़ें :- सूर्य ग्रहण के दौरान इन मंत्रों का करें जाप बढ़ेगी शक्ति और कष्ट से मिलेगी ​मुक्ति

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...