‘पद्मावत’ की रिलीज के बाद बांटे गए फूल, ओवैसी बोले- ’56 इंच का सीना सिर्फ मुसलमानों के लिए’

'पद्मावत' की रिलीज के बाद बांटे गए फूल, ओवैसी बोले- '56 इंच का सीना सिर्फ मुसलमानों के लिए'
'पद्मावत' की रिलीज के बाद बांटे गए फूल, ओवैसी बोले- '56 इंच का सीना सिर्फ मुसलमानों के लिए'

नई दिल्ली। विवादित फिल्म ‘पद्मावत’ की रिलीज के संबंध में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए राजधानी दिल्ली में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की की गई है। गणतंत्र दिवस के मद्देनजर राजधानी में पहले से ही दिल्ली पुलिस के विशेष कमांडो और अर्धसैनिक बल शहर में विशेष रूप से मध्य दिल्ली के अति विशिष्ट क्षेत्रों में तैनात किए गए हैं।

Live Updates On Padmaavat Release :

पुलिस ने कहा कि सुरक्षाबलों को सिनेमाघरों और मल्टीप्लेक्स में तैनात किए गए हैं और जैसा कि दिल्ली से सटे गुरुग्राम में ‘पद्मावत’ की रिलीज के विरोध में हिंसा की खबरें आई, सुरक्षाबल हाई-अलर्ट पर हैं। बता दें कि राजपूत करणी सेना ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ का आरोप लगाकर लगातार ‘पद्मावत’ की रिलीज का विरोध करती आई है। कई राज्यों से हिंसा की खबरें आई हैं और गुरुग्राम में बुधवार को बच्चों को ले जा रही स्कूल बस पर प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया।

ये हैं Live अपडेट-

यूपी के वाराणसी में एक सिनेमाहॉल के बाहर एक शख्स ने आत्मदाह करने की कोशिश की, जिसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया। वहीं लखनऊ में नॉवेल्टी सिनेमा के बाहर करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने लोगों को फूल बांटे और फिल्म न देखने की अपील की।

एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि ये पकौड़ा पॉलिटिक्स से ज्यादा कुछ नहीं। भाजपा इसे बढ़ावा दे रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी प्रदर्शनकारियों के आगे समर्पण कर चुकी है। उनका 56 इंच का सीना केवल मुसलमानों के लिए है।

बिहार के मुजफ्फरपुर में फिल्म की रिलीज के खिलाफ प्रदर्शनकारियों ने तलवार लहराईं और टायर जलाए। देश के कई शहरों में मल्टीप्लेक्स और थिएटर की सिक्युरिटी बढ़ा दी गई है। गुड़गांव और नोएडा में स्कूल की छुट्टी कर दी गई है।

नई दिल्ली। विवादित फिल्म 'पद्मावत' की रिलीज के संबंध में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए राजधानी दिल्ली में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की की गई है। गणतंत्र दिवस के मद्देनजर राजधानी में पहले से ही दिल्ली पुलिस के विशेष कमांडो और अर्धसैनिक बल शहर में विशेष रूप से मध्य दिल्ली के अति विशिष्ट क्षेत्रों में तैनात किए गए हैं।पुलिस ने कहा कि सुरक्षाबलों को सिनेमाघरों और मल्टीप्लेक्स में तैनात किए गए हैं और जैसा कि दिल्ली से सटे गुरुग्राम में 'पद्मावत' की रिलीज के विरोध में हिंसा की खबरें आई, सुरक्षाबल हाई-अलर्ट पर हैं। बता दें कि राजपूत करणी सेना ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ का आरोप लगाकर लगातार 'पद्मावत' की रिलीज का विरोध करती आई है। कई राज्यों से हिंसा की खबरें आई हैं और गुरुग्राम में बुधवार को बच्चों को ले जा रही स्कूल बस पर प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया।ये हैं Live अपडेट-यूपी के वाराणसी में एक सिनेमाहॉल के बाहर एक शख्स ने आत्मदाह करने की कोशिश की, जिसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया। वहीं लखनऊ में नॉवेल्टी सिनेमा के बाहर करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने लोगों को फूल बांटे और फिल्म न देखने की अपील की।एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि ये पकौड़ा पॉलिटिक्स से ज्यादा कुछ नहीं। भाजपा इसे बढ़ावा दे रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी प्रदर्शनकारियों के आगे समर्पण कर चुकी है। उनका 56 इंच का सीना केवल मुसलमानों के लिए है।बिहार के मुजफ्फरपुर में फिल्म की रिलीज के खिलाफ प्रदर्शनकारियों ने तलवार लहराईं और टायर जलाए। देश के कई शहरों में मल्टीप्लेक्स और थिएटर की सिक्युरिटी बढ़ा दी गई है। गुड़गांव और नोएडा में स्कूल की छुट्टी कर दी गई है।