1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. लॉकडाउन 3.0: सडक़ों और बाजार में बड़ी चहल-पहल, जमकर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

लॉकडाउन 3.0: सडक़ों और बाजार में बड़ी चहल-पहल, जमकर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

अशोकनगर: लॉकडाउन का तीसरा चरण सोमवार से शुरु होने के बाद सडक़ों और बाजारों में एक बार फिर रौनक दिखाई दी। जिले में दुकानें खुली और सडक़ों पर वाहन सरपट दौड़ते दिखे। सुबह बाजार खुलते ही खरीदारी करने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी। वहीं बैंकों के बाहर भी लंबी कतारें लग गई। इससे सोशल डिस्टेंस का फार्मूला पूरी तरह से फ्लॉप हो गया। हालांकि इस बीच पुलिस प्रशासन द्वारा बाजार में घूमकर लोगों को समझाकर सोशल डिस्टेंस के साथ ही मास्क लगाने के आदेश का पालन की अपील की।

वैश्विक महामारी कोरोना की रोकथाम के लिए जारी लॉकडाउन का सोमवार से तीसरा चरण शुरू हो गया है। अभी तक कोरोना से बचाव का सबसे कारगर तरीका सोशल डिस्टेंसिंग को माना जा रहा है, लेकिन सोमवार को दुकानों व सार्वजनिक स्थानों में लोग से इससे परहेज करते नजर आये। वहीं दोपहिया वाहनों में भी दो और तीन सवारियां बैठ रही है। एक ओर प्रशासन लगातार लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग बनाने की अपील कर रहा है। इसके लिए समय-समय पर ऐसे स्थानों के निरीक्षण भी हो रहे हैं लेकिन फिर भी लोगों में सोशल डिस्टेंसिंग अपनाए जाने को लेकर कहीं कोई जागरुकता नहीं दिखी।

ना तो लोगों मे कोरोना संक्रमण के लिये जारी किये गये सोशल डिस्टेंसिग का पालन किया और ना ही दुकानों को जारी किये गये दिशा निर्देशों का पालन किया गया। यह दोनों मुद्दे सोशल मीडिया पर छाए रहे। लोगो ने इस छूट का गलत फायदा उठाने के लिये लोगो को आड़े हाथों लिया। भीड़ को नियंत्रण करने के लिये बाजार को इस तरह खोले जाने के फैसले पर फिर से विचार किये जाने की मांग की जा रही है। कोरोना संक्रमण की भयावहता के संदर्भ में बहुत से लोग कई नए सुझाव भी दे रहे है। जिनमे बाजार की सभी दुकानों को एक साथ ना खोले जाने की मांग की है। भीड़ को नियंत्रण करने के लिये रोस्टर से दुकानों को खोले जाने की मांग की जा रही है।

अभी तक जिला ग्रीन जोन में है कोई भी कोरोना का मरीज नहीं है यह भीड़ पर नियंत्रण के कारण हुआ है। मगर सोमवार की भीड़ ने लोगो ने मन ने चिंताये भर दी है। कुछ सकरे बाजरो की गलियों में तो भीड़ के कारण जाम के हालात बन गए। दुकानों पर दो गज की दूरी एवं 5 से कम लोगो की मौजूदगी का भी कई जगह उल्लंघन हुआ है। मोटर साइकिल पर एक से जायदा लोग खूब निकले। प्रशासन के सामने रविवार की बैठक में भी इस तरह की अव्यवस्था की संभावना पर चिंता व्यक्त की थी। इसके बाद बैठक में तय हुआ था कि आगे की परिस्थियों को देखते हुये नई व्यवस्थाओ पर विचार किया जा सकता है। हालांकि शाम चार बजे से अगले दिन सुबह सात बजे तक लॉक डाउन पूर्ववत रहेगा।

पूर्व विधायक जजपाल सिंह जज्जी एवं पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष नीरज मनोरिया सोमवार को बाजार में पहुंचकर दुकानदारों एवं लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने हेतु समझाइश दी एवं सभी दुकानदारों से आग्रह किया कि वे स्वयं खुद मास्क लगाएं और अपने ग्राहकों को भी मास्क लगाने की बात कहें, श्री जज्जी ने दुकानदारों को समझाइश देते हुए कहा है कि अगर आप सही तरीके से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते है और मास्क लगाते है तो बाजार प्रतिदिन खुलता रहेगा, अगर किसी भी दुकानदार ने सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन किया तो जिला प्रशासन बाजार बंद कर सकता है जिसका खामियाजा आप सभी लोंगो को भुगतना पड़ सकता है। इससे बचने के लिए सभी दुकानदार भाई अनिवार्य रूप से मास्क पहनें ओर सोशल डिस्टेंसिंग का कढ़ाई से पालन करें, जिससे बाजार और आपका व्यपार सुचारू रूप से चलता रहे।

कोरोना वायरस संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए शासन की गाईडलाईन अनुसार अशोकनगर जिला ग्रीन जोन में होने से लॉक डाउन में दी गई छूट के दौरान व्यवसायिक संस्थानों के संचालन एवं सोशल डिस्टेसिंग के समुचित पालन संबंधी व्यवस्थाओं का कलेक्टर डॉ. मंजू शर्मा ने शहर भ्रमण कर जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने दुकानदारो द्वारा रोड़ पर अतिक्रमण कर रखे गये सामान को हटाये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने ताकीद किया कि दुकान के बाहर सामान रखकर अतिक्रमण करने वालों के विरूद्ध चालानी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने उपस्थित राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया कि लॉक डाउन के दौरान जारी निर्देशों के तहत सोशल डिस्टेसिंग का पूर्णत: पालन कराया जाए तथा बाहर निकलने वाले सभी व्यक्तियों को मास्क लगाना अनिवार्य है। मास्क न लगाने वाले व्यक्तियों पर चालान की कार्यवाही की जाए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...